Koshi Live-कोशी लाइव SAHARSA/अमृत सरोवर योजना से मछली और मखाना उत्‍पादन को मिलेगा बल, सहरसा में बनेंगे 75 नए सार्वजनिक तालाब - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Wednesday, April 13, 2022

SAHARSA/अमृत सरोवर योजना से मछली और मखाना उत्‍पादन को मिलेगा बल, सहरसा में बनेंगे 75 नए सार्वजनिक तालाब


सहरसा। जल जीवन हरियाली अभियान के तहत जहां तालाबों को अतिक्रमणमुक्त, जीर्णोद्धार व नए तालाबों का निर्माण कार्य चल रहा है, वहीं केंद्र सरकार ग्रामीण विकास व जलशक्ति विभाग के सौजन्य से कोसी प्रभावित सहरसा जिले में 75 नए सार्वजनिक तालाब का निर्माण कराया जाएगा। एक- एक हेक्टेयर में बननेवाले इस तालाब के लिए सरकारी जमीन की खोज प्रारंभ कर दी गई है। जल्द ही इन योजनाओं को कार्यरूप दिया जाएगा। इससे इलाके में जलसंरक्षण होगा, जिससे लोग काफी लाभांवित होंगे।

जलसंचयन व्यवस्था को भी मिलेगी

हालांकि कोसी क्षेत्र में जल की कोई समस्या नहीं है, परंतु गर्मी के दिनों में मैदानी इलाके में सुखाड़ की बड़ी समस्या हो जाती है। इससे फसलों का काफी नुकसान होता है। इस क्षेत्र में नए तालाबों के निर्माण से यह समस्या दूर होगी। अमृत सरोवर योजना में एक हेक्टेयर भूमि पर एक तालाब निर्माण की योजना है, जिससे गर्मी के दिनों में भी इसमें अपेक्षित जल रहेगा, जिससे कृषि कार्य में भी इस जल का उपयोग होगा।


मत्स्यपालन व मखाना उत्पादन को भी मिलेगा बढ़ावा

केंद्र सरकार की योजना एक जिला- एक उत्पाद में सहरसा जिला मखाना की खेती के लिए चयनित है, परंतु बहुत से किसानों को इसके लिए तालाब नहीं है। जिन किसानों को निजी जमीन है, उन्हें मनरेगया योजना से तालाब की सुविधा दी जा रही है, परंतु जिन्हें जमीन नहीं है वैसे लोग इस सार्वजनिक तालाब में विभाग से स्वीकृति लेकर मखाना का उत्पादन कर सकेंगे। तालाबों के चारों ओर फलदार व टिंबर वृक्ष के लिए पौधे लगाए जाएगे। मत्स्य पालन की रूचि रखनेवाले किसान इन तालाब को पट्टा पर लेकर मत्स्यपालन कर अपनी जीविका चला पाएंगे। इस लिहाज से अमृत सरोवर योजना इस इलाके के लिए वरदान साबित होगा।
इस योजना के तहत अंचलाधिकारियों द्वारा जमीन उपलब्ध कराए जाने पर एक- एक हेक्टेयर का 75 तालाब निर्माण होगा। इससे जलसंचयन होगा। कृषि व अन्य कार्यों में लोगों को सहायता मिलेगी।

अफरोज आलम, डीपीओ, मनरेगा, सहरसा

Followers

MGID

Koshi Live News