Koshi Live-कोशी लाइव MADHEPURA/WhatsApp ग्रुप से शिक्षिका की गई रिमूव, तो रणक्षेत्र में बदल गया मधेपुरा का ये स्कूल, जमकर हुई धक्का मुक्की - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Friday, April 1, 2022

MADHEPURA/WhatsApp ग्रुप से शिक्षिका की गई रिमूव, तो रणक्षेत्र में बदल गया मधेपुरा का ये स्कूल, जमकर हुई धक्का मुक्की


कुमारखंड (मधेपुरा): महावीर रानीपट्टी उच्च माध्यमिक विद्यालय, टिकुलिया के WhatsApp ग्रुप से शिक्षिका का नाम हटाए जाने के बाद स्कूल रणक्षेत्र में बदल गया।
पहले शिक्षिका के साथ दुर्व्यवहार किया गया। उसके बाद शिक्षकों के बीच जमकर धक्का मुक्की हुई। मामला विद्यालय प्रबंधन समिति के समक्ष पहुंचा है।

जानकारी के अनुसार पंचायत के महावीर रानीपट्टी उच्च माध्यमिक विद्यालय, टिकुलिया के प्राचार्य बिपिन कुमार द्वारा मामूली विवाद के कारण फरवरी महीने में महिला शिक्षिका कुमारी ज्योति सुमन का नाम व नंबर WhatsApp पर बने विद्यालय के शिक्षक ग्रुप से हटा दिया। इसी को लेकर बीते दिन प्राचार्य कक्ष में बैठे शिक्षकों के बीच बात चल रही थी। इसी बात को लेकर प्राचार्य आपा खो बैठे और महिला शिक्षिका के साथ अमर्यादित व्यवहार करने लगे। इस बीच उनके सहयोग में दूसरे शिक्षक अमित कुमार भी शामिल हो गए।

मामला यहीं थमने का नाम नहीं लिया सभी शिक्षकों के बीच आपस में धक्का मुक्की शुरू हो गई। शिक्षिका ने घटना की सूचना अपने पति को दे दी। सूचना पाते ही उनके पति विद्यालय पहुंचकर विद्यालय के मुख्य द्वार पर ताला जड़ कर विद्यालय के शिक्षकों के बीच जमकर बबाल काटा। वहीं आस पास के ग्रामीण भी पहुंच गए और शिक्षिका के साथ किए व्यवहार की निंदा की। लोगों के कहने सुनने के बाद शिक्षकों को प्राचार्य कक्ष से बाहर जाने दिया गया। महिला शिक्षिका ने इसकी शिकायत विद्यालय प्रबंधन समिति के समक्ष रखकर न्याय की गुहार लगाई है।

रामपुर डेहरू में हत्या के बाद दो पक्षों के बीच तनाव

संवाद सूत्र, उदाकिशुनगंज (मधेपुरा) : अनुमंडल के उदाकिशुनगंज प्रखंड के बिहारीगंज थाना अंतर्गत जौतेली पंचायत के रामपुर डेहरू में गुरूवार की सुबह मनोहर मेहता नामक युवक की हत्या से गांव में दो पक्षों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई। यहां पर कभी भी माहौल बिगड़ सकता है। यद्यपि किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए पुलिस ने तैयारी कर रखी है। गांव में बड़ी संख्या में पुलिस को लगाया गया है।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक पुलिस गांव में स्थिति सामान्य होने तक कैंप करेगी। वहीं सीनियर अफसर पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। ग्रामीण सूत्रों के मुताबिक हत्या कांड से तीन दिन पहले ही विवाद की नौबत बन गई थी। लेकिन उस समय गांव के कुछ प्रबुद्ध लोगों की वजह से मामला शांत पड़ गया था। अब जबकि मामला हत्या में परिणत हो गया है तो एक पक्ष के लोगों में काफी आक्रोश है। यह आक्रोश कभी भी दूसरे पक्ष भड़क सकता है। बताया गया कि तीन दिन पहले मनोहर मेहता के घर पर धार्मिक प्रवचन का कार्यक्रम चल रहा था। जहां दूसरे पक्ष के लोगों ने पुलिस को बुलाकर बाजा बंद करवा दिया। इससे एक पक्ष के लोगों में आक्रोश समा गया। बहरहाल मामला तनाव पूर्ण है। लोगों में बदले की आग धधक रही है।

Followers

MGID

Koshi Live News