Koshi Live-कोशी लाइव SAHARSA/वारदात:रात में मां, पिता व भाई को मारने की दी धमकी दिन में बड़े भाई ने बीच सड़क पर हत्या की - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Saturday, November 20, 2021

SAHARSA/वारदात:रात में मां, पिता व भाई को मारने की दी धमकी दिन में बड़े भाई ने बीच सड़क पर हत्या की


सहरसा: सदर थाना के तिवारी चौक पर एक युवक की दिनदहाड़े गला रेतकर दो बदमाशों ने हत्या कर दी। शव की पहचान की जा चुकी है। पुलिस छानबीन में जुट गई है। इस हत्याकांड के बाद से इलाके में सनसनी का माहौल है।

युवक की पहचान मधेपुरा जिला के झिटकिया के मुर्शीद के पुत्र जैकी के रूप में हुई है। जेब से मिले मोबाइल से पहचान हुई। युवक सहरसा बस्ती में रहता था।



सहरसा के तिवारी टोला चौक पर शनिवार को दिनदहाड़े घरेलू विवाद को लेकर बड़े भाई ने छोटे भाई की धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी। प्रत्यक्षदर्शियों को पहले लगा कि अपराधियों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया, लेकिन कुछ ही सीसीटीवी कैमरे की मदद से मामले का खुलासा हो गया। मृतक की पहचान मधेपुरा जिले के झिटकिया निवासी मो जैकी उर्फ छोटू के रूप में हुई। पुलिस ने हत्या के आरोप में देर शाम मृतक के बड़े भाई गुड्डू को मधेपुरा से गिरफ्तार कर लिया।

बताया जाता है कि झिटकिया निवासी मो मुर्शिद अपनी पत्नी के साथ बीते कई वर्षों से सहरसा बस्ती स्थित मुहल्ले में रहते हैं। जबकि उसका बड़ा बेटा गुडडू और छोटा भाई मो जैकी उर्फ छोटू अपने गांव में रहता है। छोटा भाई अक्सर अपनी मां से लड़ाई झगड़ा करता था। इसी वजह से दोनों भाइयों में विवाद होते रहता था। शनिवार की सुबह भी दोनों भाइयों के बीच विवाद हुआ और दोनों सहरसा घर पहुंचा। वहां भी दोनों के बीच विवाद हुआ। बड़े भाई ने फोन पर छोटे भाई को बाहर बुलाया। इसी दौरान बकझक के बाद उसने तिवारी चौक पर दिनदहाड़े धारदार हथियार से गर्दन पर हमला कर छोटे भाई की हत्या कर दी। घटना की जानकारी मिलते ही गश्ती कर रही पुलिस टीम मौके पर पहुंची और जख्मी को सदर अस्पताल भेजा। लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। मृतक का ससुराल सुपौल जिले में था। पोस्टमार्टम के दौरान मृतक के पास से रेलवे टिकट, 2290 रुपये और एक मोबाइल फोन मिला। वहीं घटनास्थल पर एक चाकू बरामद की गयी है। संभावना जतायी जा रही है कि यह चाकू मृतक की ही होगी जो मारपीट के दौरान गिर गयी। हत्या के बाद आरोपी पैदल ही वहां से चला गया। 


सीसीटीवी कैमरा से खुलासा
घटना की जानकारी मिलते ही सदर एसडीपीओ संतोष कुमार, सदर अंचल निरीक्षक राकेश कुमार सिंह, पुअनि संजीव कुमार, एएसआई वीरेंद्र साह, तकनीकी सेल के अमर कुमार सहित अन्य मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू किया। घटना के बाद आसपास लोगों की भीड़ जमा हो गई। तिवारी चौक पर लगे विभिन्न सीसीटीवी कैमरा की फुटेज देखने के बाद जल्द ही मामले का खुलासा करने में पुलिस को सफलता मिली। जिसके आधार पर पुलिस ने मां-बाप के घर की तलाशी ली। पुलिस को परिजनों की निशानदेही पर मृतक के बड़े भाई का इस्तेमाल किया हुआ कपड़ा बरामद हुआ। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मृतक का एक बड़ा भाई और दूसरा बौकू के रूप में पहचान हुई है। परिजनों ने कहा कि मृतक का आपराधिक इतिहास रहा है और वह अपने एक रिश्तेदार की हत्या में जेल भी जा चुका है।

हत्या कर पैदल ही भागे, लोग देखते रहे
छोटे भाई की हत्या करने वाला बड़ा भाई व अन्य पैदल ही आया और दिनदहाड़े तिवारी चौक जैसे भीड़भाड़ वाले जगह पर घटना को अंजाम देकर पैदल ही भाग निकले। घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर उसका घर है। जहां उसने कपड़े बदले और भाग निकला। दिनदहाड़े चौक पर हुई घटना के बाद भी आसपास के लोगों ने न उसे हमला करने के दौरान रोका और न ही भागने के समय। आम लोगों की सुस्ती पर भी लोग सवाल उठा रहे हैं। लोगों का कहना है कि अपनी जान का डर और पुलिस की पूछताछ से बचने के कारण भी आसपास के लोग सक्रियता नहीं दिखाते हैं।

पड़ोसी बौकू के साथ मिलकर भाई ने घटना को दिया अंजाम
मृतक के पिता मो. युसूफ सहरसा में रहकर बस चालक के रूप में काम करते हैं। एक साल पूर्व संपत्ति विवाद को लेकर मो. जकी ने अपने बड़े भाई मो. तकी, मां और पिता को मारपीट कर गांव से भगा दिया था। इसके बाद से उसकी मां, पिता सहरसा बस्ती के तिवारी टोला चौक स्थित अपने दामाद के घर पर रह रही थी। संपत्ति विवाद के बाद जहां मां और पुत्र में आपसी विवाद चल रहा था। वहीं शुक्रवार की देर शाम मो. जकी बहन के घर पहुंचकर मां सहित भाई व पिता की हत्या कर देने और मारपीट की धमकी दी थी। जिसके आक्रोश में मां ने अपने बड़े पुत्र को उसकी हत्या कर देने का आदेश दिया था। जिसके बाद मो. तकी अपने पड़ोसी मो. बौकू के साथ मिलकर तिवारी टोला चौक के पास स्थित पान दुकान पर खड़े जकी को घेरा कुछ क्षण के लिए बहस हुई फिर चाकू से हमला कर सड़क पर ही गर्दन काटकर हत्या कर दी।

आखिरी सांस : बीच सड़क लहूलुहान जकी।
आखिरी सांस : बीच सड़क लहूलुहान जकी।

संपत्ति विवाद में हत्या की गई
संपत्ति विवाद में सगे भाई ने ही हत्या की थी। हत्या का आदेश मां ने दिया था। मौके से ही हत्यारी मां और मधेपुरा के हत्यारे भाई की गिरफ्तारी कर ली गई है। सदर इंस्पेक्टर आरके सिंह के नेतृत्व में दोनों अपराधी की गिरफ्तारी हो गई है।
संतोष कुमार, सदर डीएसपी

Followers

MGID

Shivesh Mishra

Koshi Live News