Koshi Live-कोशी लाइव बिहार से जुड़ा शाहरुख के बेटे आर्यन खान के ड्रग्स केस का तार, मुंबई से बिहार पहुंची NCB की टीम - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Monday, October 18, 2021

बिहार से जुड़ा शाहरुख के बेटे आर्यन खान के ड्रग्स केस का तार, मुंबई से बिहार पहुंची NCB की टीम


मोतिहारी/ मुजफ्फरपुर, जाटी। मुंबई में क्रूज पर रेव पार्टी में ड्रग्स के इस्तेमाल के जिस मामले में शाहरुख खान के पुत्र आर्यन को पकड़ा गया है, उसका तार मोतिहारी और मुजफ्फरपुर से भी जुड़ गया है।

दोनों जगह की जेल में बंद आठ तस्कर ड्रग्स के इस धंधे से जुड़े बताए जा रहे हैं। इनमें मोतिहारी जेल में बंद दो तस्कर मुंबई के रहनेवाले हैं। दोनों को रिमांड पर लेने के लिए मुंबई नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की पांच सदस्यीय टीम यहां पहुंची है। इसके लिए मोतिहारी कोर्ट में अर्जी दी है।

पूछताछ के दौरान एनसीबी को मिली जानकारी

एनसीबी ने पिछले दिनों मुंबई में एक क्रूज पर छापा मारकर रेव पार्टी में ड्रग्स के इस्तेमाल के आरोप में फिल्म अभिनेता शाह रुख खान के पुत्र आर्यन सहित अन्य को गिरफ्तार किया था। केंद्रीय कारा मोतिहारी में बंद दो ड्रग्स तस्करों मो. उस्मान और विजय वंशी को एनसीबी इस कांड से जोड़ रही है। दोनों मुंबई के रहनेवाले हैं। उन्हें बीते साल सितंबर में चकिया थाने की पुलिस ने टोल प्लाजा के पास एक कार से 11 किलो चरस और 50 किलो गांजा के साथ गिरफ्तार किया था। क्रूज पार्टी में और आर्यन को ड्रग्स की आपूर्ति करने वाले जिस गिरोह का नाम सामने आया है, पूछताछ में दोनों तस्करों ने उनसे तार जुड़े होने की बात पहले ही बताई थी। पूछताछ में दोनों तस्करों ने बताया था कि उनके कुछ साथी मुजफ्फरपुर में पकड़े गए हैं। ये दोनों भागकर इधर आ रहे थे।

मुजफ्फरपुर जेल में बंद हैं इससे जुड़े तस्कर

इधर, एनसीबी ने मुजफ्फरपुर पुलिस से भी संपर्क किया है। नगर थाने की पुलिस ने गत साल सितंबर में सरैयागंज टावर के समीप छापेमारी कर चरस के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया था। पूछताछ व उसकी निशानदेही पर गोलाबांध रोड स्थित एक तीन मंजिला मकान से पांच और तस्करों को पकड़ा गया था। इनकी पहचान नेपाल के ललितपुर का सात्विक खकटा, प्रकाश शर्मा, संजय विश्वकर्मा और कटरा के पहसौल निवासी वासो कुमार, गौरव कुमार व रूपेश शर्मा के रूप में हुई थी। इन सभी के पूछताछ के बाद मोतिहारी में पकड़े गए मुंबई के दोनों ड्रग्स तस्करों से जुड़े होने की बात बताई थी। वे कार से चरस दिल्ली ले जा रहे थे। ये सभी खुदीराम बोस केंद्रीय कारा, मुजफ्फरपुर में बंद हैं। पुलिस चार्जशीट दायर कर चुकी है। चकिया थाने के अवर निरीक्षक और मुंबई के दोनों तस्करों की गिरफ्तारी के मामले को देख रहे संदीप कुमार का कहना है कि एनसीबी की टीम ने यहां आकर उनसे संपर्क किया और आवश्यक जानकारी ली है। जेल अधीक्षक बिद्दू कुमार भी टीम के आने की बात कहते हैं।

Followers

MGID

Shivesh Mishra

Koshi Live News