Koshi Live-कोशी लाइव MADHEPURA/कार्रवाई:मुखिया प्रतिनिधि राजीव हत्याकांड में 50 हजार का इनामी नवीन मंडल गिरफ्तार - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, June 26, 2021

MADHEPURA/कार्रवाई:मुखिया प्रतिनिधि राजीव हत्याकांड में 50 हजार का इनामी नवीन मंडल गिरफ्तार

NEWS DESK/PATNA

सरौनी कला पंचायत की मुखिया बेबी देवी के पति राजीव कुमार गुप्ता की डेढ़ साल पहले आठ गोली मारकर हत्या किए जाने के मुख्य आरोपी 50 हजार के इनामी सरौनी निवासी नवीन मंडल को एसटीएफ और मधेपुरा जिले के विभिन्न थानों की पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई के दौरान गिरफ्तार कर लिया। उसकी गिरफ्तारी भवानीपुर और मधेपुरा जिले की सीमा से गुरुवार की रात किए जाने की बात की जा रही है। कुख्यात नवीन मंडल की गिरफ्तारी की पुष्टि एसपी योगेंद्र कुमार ने की। उन्होंने बताया कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि पिछले कुछ वर्षों से नवीन मंडल ने बिहारीगंज और ग्वालपाड़ा के सीमावर्ती क्षेत्र में आतंक मचा रखा था। उसका मुख्य काम विभिन्न योजनाओं में ठेकेदारों से लेवी और उदाकिशुनगंज अनुमंडल के बड़े पैसे वालाें से रंगदारी वसूलना था। मुखिया पति की हत्या भी योजनाओं में लेवी वसूली और रंगदारी को लेकर ही किए जाने की बात कही गई। चर्चा है कि ऐसी ही एक बड़ी सड़क योजना में उसने लेवी वसूलकर कई अत्याधुनिक हथियार खरीदे थे। चर्चा इस बात की भी है कि उसके गांव में उसे पकड़ना पुलिस के लिए टेढ़ी खीर बन गई थी, क्योंकि गांव में उसने अपने कई शुभचिंतक बनाए हुए थे। इस कारण से पुलिस के आने की भनक उसे लग जाती थी। इस बार भी उसकी गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ ने बहुत ही गोपनीय तरीके से जाल बुना था। तीन दिनों से एसटीएफ की टीम इलाके में उसके हर एक मूवमेंट की रेकी कर रही थी। गुरुवार की रात को जब एसटीएफ को तसल्ली हो गया कि अब उसे आसानी से गिरफ्तार किया जा सकता है, तो पुलिस टीम के साथ छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

पूर्व में सरपंच की हुई थी गिरफ्तारी
बताया गया कि इस मामले में बाद में पुलिस ने अपने अनुसंधान के आधार पर गांव के सरपंच कुलेश्वर मंडल को भी गिरफ्तार किया था। वे अभी जमानत पर हैं। पुलिस रिकार्ड में नवीन मंडल के खिलाफ कुल नौ संगीन मामले दर्ज हैं। इसमें बिहारीगंज में 5, ग्वालपाड़ा में 3 और पस्तपार ओपी में एक मामला दर्ज है। जबकि मुखिया प्रतिनिधि हत्याकांड समेत चार कांडों में फरारी घोषित करते हुए उसके खिलाफ पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट भी पूर्व में दाखिल कर दिया था। जबकि अन्य पांच मामलों में वह वांटेड था।

भोज खाकर लौटने के दौरान हुई थी हत्या
बताया जा रहा है कि राजीव लंबे समय से पंचायत की राजनीति कर रहे थे। पूर्व में आरटीआई एक्टिविस्ट भी थे। इस कारण से उन्हें कई मामलों का शिकार भी होना पड़ा। बाद में जब इस बार उनकी पत्नी मुखिया बनी तो पंचायत की राजनीति और हावी होने लगी। हत्या से दो माह पूर्व भी कुछ ऐसी घटनाएं हुई, जिसके बाद एक पराजित प्रत्याशी के परिजन उसे सहयोग करने का दबाव बनाए थे। सहयोग नहीं करने के कारण पहले पंचायत भवन पर और फिर उनके घर पर भी गोलीबारी की गई। इससे संबधित केस भी दर्ज हुआ था। इसी बीच सरौनी कला पंचायत के वार्ड पांच में अरविंद यादव की मां का निधन हो गया था। उन्हीं के श्राद्ध भोज में 14 दिसंबर 2019 को अन्य लोगों के साथ मुखिया प्रतिनिधि राजीव गुप्ता, सरपंच कुलेश्वर मंडल आदि शामिल होने गए थे। उनकी पत्नी ने दर्ज कराए केस में कहा था कि भोज खाकर जैसे ही उनके पति महादलित टाेला में घुसो ऋषिदेव के घर के पास पहुंचे कि घात लगाए सरौनी निवासी नवीन मंडल, उसका भाई मुकेश मंडल, बंटी मेहरा, विभीषण मंडल, ग्वालपाड़ा थाना क्षेत्र के महाराजगंज के नवल यादव व अन्य अज्ञात 10 ने उन्हें घेर लिया और छह-सात गोली मार दी। मुखिया बेबी देवी का कहना था कि नवीन और उसका भाई अक्सर उनके पति को फोन कर जान से मारने की धमकी देता था। उन्होंने हत्या कारण पंचायत की राजनीति, जबरन ठेकेदारी और रंगदारी मांगना बताया था।

Followers

MGID

Koshi Live News