Koshi Live-कोशी लाइव सहरसा/वारदात:शहर में 6 राउंड फायरिंग पुलिस पहुंची 1 घंटे बाद - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Tuesday, April 13, 2021

सहरसा/वारदात:शहर में 6 राउंड फायरिंग पुलिस पहुंची 1 घंटे बाद


सोमवार दोपहर लगभग 2:30 बजे सदर थाना क्षेत्र के बनगांव रोड स्थित मीर टोला में सड़क किनारे एक कट्ठा जमीन पर जबरन कब्जा करने की नीयत से छह राउंड फायरिंग की गई। पीड़ित लकड़ी कारोबारी मीर टोला निवासी मो. नुरुल इस्लाम ने कहा कि गोलीबारी की सूचना सदर थाना को दी गई। लेकिन घटना स्थल पर एक घंटे बाद पुलिस तब आई जब हमलावर वहां से सुरक्षित निकल गए। पीड़ित पक्ष ने आरोप लगाया कि सदर थाना की पुलिस कथित भू-माफिया से मिली है। उनसे न्याय की उम्मीद नहीं रह गई है। इधर गोलीबारी की घटना के बाद घटनास्थल से बरामद खाली खोखा दिखाते पीड़ित पक्ष के मो. नुरूल इस्लाम ने बताया कि मीर टोला निवासी सुमित वर्मा सहित अन्य लोगों ने दर्जनों राउंड फायरिंग कर दहशत फैलाया। गनीमत रही कि इस गोलीबारी में कोई जख्मी नहीं हुआ। मीरटोला में सोमवार को हुई गोलीबारी के बाद बरामद खाली दो खोखा दिखाते हुए पीड़ित मो. नुरूल ने खुलेआम कहा कि सदर थानाध्यक्ष पर भरोसा नहीं है। वह दूसरे पक्ष के लोगों से मिले हुए हैं। ऐसे में एसपी से ही न्याय की उम्मीद है। वहीं, घटनास्थल पर पीड़ित द्वारा बरामद किए गए गोली के दो खोखे को पुलिसकर्मी को सुपुर्द नहीं किया गया। पीड़ित लोगों ने कहा कि पुलिस आकर चली गई। वहीं अगर पुलिस सूचना मिलने के बाद समय पर आ जाती तो गोलीबारी करने वाले बच के नहीं जा पाते। अभी वे पुलिस की गिरफ्त में रहते। ऐसा नहीं होने पर ही पीड़ित के साथ लोगों में आक्रोश है।

दो खोका मिला, एसपी को सौंपेंगे : पीडि़त
पीड़ित मो. जहीर अंसारी ने बताया कि गोलीबारी की घटना के बाद पहुंचे पुलिस पदाधिकारी द्वारा आस पास खोखा की तलाश नहीं की गई। जबकि सभी व्यक्तियों ने उन्हें गोलीबारी होने की गवाही दी थी। ऐसे में मौके से बरामद खोखे को उन्होंने पुलिस को सुपुर्द नहीं किया। पीड़ित ने बताया कि उक्त खोखा एसपी को ही दिया जाएगा। उनके अनुसार स्थानीय थाना की पुलिस आरोपी के मेल में है। उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि वरीय पुलिस पदाधिकारी सदर थाना की करतूत पर अंकुश लगाएंगे। जमीन विवाद में लगातार हो रही गोलीबारी की घटना को रोकने का प्रयास करेंगे।

आरोपी के पास वैद्य दस्तावेज नहीं

पीड़ित नूरूल इस्लाम के पिता मो. जहीर अंसारी ने बताया कि सुबह में पंचायत भी हुई थी। जिसमें कई वार्ड के मुखिया और वार्ड पार्षद सहित अन्य थे। दोनों पक्षों द्वारा कागज को उपस्थित कराया गया। दूसरे पक्ष के पास वैद्य दस्तावेज नहीं था। जबकि उनके पास न्यायालय से उक्त जमीन को लेकर मिली डिग्री है। जिसे पंचायत के सामने रखी गई। जमाबंदी रसीद सहित अन्य कागजात भी पंच को दिया गया। पंच ने उनके पक्ष में निर्णय दिया।

फायरिंग के साथ मारपीट भी की

मो. नूरुल इस्लाम सहित आसपास के दुकानदार दुकान खोल काम कर रहे थे। इस दौरान दिन के 2:30 बजे उनके ही वार्ड के सुमित वर्मा, माधव वर्मा, रिंकू लाल दास, जिबू आलम उर्फ महबूब आलम, ताबिश आलम, शाहरुख आलम के साथ 10-12 अज्ञात लोग वहां पहुंचे। उन लोगों ने दहशत और भय फैलाने के उद्देश्य से दर्जनों राउंड फायरिंग की। साथ ही उनके पुत्र के साथ मारपीट करते जमीन खाली करने को कहा।

आरोपियों की गिरफ्तारी होगी
गोलबारी की सूचना मिली थी। पंचायत होने की भी जानकारी मिली है। खोखा पुलिस पदाधिकारी को सुपुर्द करना चाहिए था। शिकायत पर सदर थाना में मामला दर्ज किया जाएगा। गोलीबारी के आरोपी की गिरफ्तारी होगी।
बृजनंदन मेहता, हेड क्वार्टर डीएसपी सह प्रभारी सदर डीएसपी

Followers

MGID

Koshi Live News