Koshi Live-कोशी लाइव काम की खबर:इस तरह 21 साल में आपकी बिटिया बन सकती है करोड़पति, करना होगा यह काम - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, April 4, 2021

काम की खबर:इस तरह 21 साल में आपकी बिटिया बन सकती है करोड़पति, करना होगा यह काम

Koshi Live:

नई दिल्लीः मां-बाप को बेटियों की शिक्षा और उनके विवाह की बहुत चिंता रहती है. हर मां-बाप चाहते हैं कि उनकी बेटी के भविष्य को संवारने के लिए बहुत सा फंड इक्कठा कर लिया जाए, ताकि आगे चलकर बेटी को किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो. ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी योजना के बारे में बताने जा रहे हैं. जिससे न केवल आपकी बेटी का भविष्य सुरक्षित होगा, बल्कि यह योजना उसकी पढ़ाई लिखाई से लेकर हर कदम पर सहयोग करेगी. क्योंकि खासतौर पर यह स्कीम केंद्र सरकार द्वारा केवल बेटियों के लिए चलाई जा रही है. जिसका लाभ हर बेटी के मां-बाप को लेना चाहिए.

सुकन्या समृद्धि योजना
दोस्तों हम बात कर रहे हैं सुकन्या समृद्धि योजना की.

यह योजना केंद्र सरकार ने बेटियों के उज्ज्वल भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए शुरू की है. सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) बेटियों के लिए केन्द्र सरकार की बचत योजना है. इस योजना के तहत बेटियों के नाम पर कोई भी व्यक्ति खाता खुलवा सकता है और छोटी-छोटी बचत कर अपनी बेटी की शादी और पढ़ाई के लिए एकमुश्त लाखों की रकम पा सकता है. ऐसे में आज हम आपको इस योजना से जुड़ी सभी जानकारी देने जा रहे हैं कि कैसे इस योजना का लाभ लिया जाता है.

योजना पर मिलता है अच्छा ब्याज
अभी सुकन्या समृद्धि योजना में 7.6 फीसदी की ब्याज दर से ब्याज दिया जा रहा है. साथ ही इस योजना के तहत मिलने वाले ब्याज पर इनकम टैक्स भी नहीं लगता है. जिन लोगों की आमदनी कम है और जो शेयर मार्केट में निवेश नहीं करना चाहते, उनके लिए यह योजना बेहतरीन है. इस योजना में एक साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक जमा किए जा सकते हैं. इस खाते में रकम कैश, डीडी या चेक द्वारा जमा करायी जा सकती है.

कैसे खुलवाया जाता है सुकन्या समृद्धि योजना का खाता?
किसी भी कमर्शियल बैंक या पोस्ट ऑफिस में सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खुलवाया जा सकता है. बेटी के जन्म से लेकर उसके 10 साल की उम्र होने तक यह खाता कभी भी खुलवाया जा सकता है. एक बेटी के लिए एक ही खाता खुलवाया जा सकता है. बेटी के 18 साल की होने के बाद उसकी शिक्षा के लिए खाते से 50 फीसदी रकम निकाली जा सकती है. खाताधारक की मृत्यु की स्थिति में डेथ सर्टिफिकेट दिखाकर खाता बंद कराया जा सकता है. गंभीर बीमारी की स्थिति में भी खाता खोलने के पांच साल बाद बंद किया जा सकता है.

ऐसे मिलते हैं 1.27 करोड़ रुपए
सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले मां-बाप को बेटी के एक साल पूरा होने पर SSY अकाउंट खुलवाना पड़ता है. इस अंकाउट में हर महीने 12,500 रुपये जमा करने पड़ते हैं या फिर आप सालाना 1.5 लाख रुपए भी जमा कर सकते हैं. जब बेटी की उम्र 21 साल होती है तब उसे मेच्योरिटी की रकम के तौर पर कुल 63.7 लाख रुपये मिलेंगे. इस अवधि के दौरान कुल जमा राशि 22.5 लाख रुपए होगी, जबकि अर्जित ब्याज 41.29 लाख रुपए होगा. अगर बेटी के पिता और माता दोनों अलग-अलग पैसा जमा करते हैं तो 21 साल में बेटी को 1.27 करोड़ रुपए मिलेंगे. तो अगर आप भी अपनी बेटी के भविष्य को लेकर परेशान है तो इस योजना का लाभ आप भी ले सकते हैं.

Followers

MGID

Koshi Live News