Koshi Live-कोशी लाइव BREAKING BIHAR NEWS:अररिया में भुट्टा पकाने के दौरान लगी आग, आधा दर्जन बच्‍चे की मौत - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Tuesday, March 30, 2021

BREAKING BIHAR NEWS:अररिया में भुट्टा पकाने के दौरान लगी आग, आधा दर्जन बच्‍चे की मौत

अररिया में भुट्टा पकाने के दौरान लगी आग, आधा दर्जन बच्‍चे की मौत

अररिया। पलासी प्रखंड के चहटपुर पंचायत अंतर्गत कवैय्या गांव में सोमवार की दोपहर गेहूं-मकई का भुट्टा पकाने के दौरान आग की चपेट में आने से आधा दर्जन बच्चों के झुलसने से मौत हो गई। हालांकि सूचना पर पहुंची स्थानीय प्रशासन की टीम ने एम्बुलेंस के माध्यम से बच्चों को पीएचसी पलासी लाया। मौके पर मौजूद प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. जहांगीर आलम ने आग में झुलसे बच्चों को मृत घोषित कर दिया।



मृतकों में ये शामिल

मृतकों में कवैय्या गांव के मो. युनिस के पांच वर्षीय पुत्र अशरफ, तीन वर्षीया पुत्री गुलनाज, मो. फारुक के पांच वर्षीय पुत्र बरकस अली, मंजूर का छह वर्षीय पुत्र दिलवर, मो. मतीन का पांच वर्षीय पुत्र अलीहसन तथा मो. तनवीर की पांच वर्षीया पुत्री खुश निहार शामिल हैं। पलासी थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अररिया भेज दिया। घटना की बाबत ग्रामीणों में मो. जसीम, मो. रईस, मो. अनवार आलम, ईदरीश, मो. शमशाद आलम आदि ने बताया कि सोमवार करीब 12 बजे कवैय्या गांव के एक पुआल घर में मकई का भुट्टा (ओराह) पकाने के दौरान आग की चपेट में आने से एक ही गांव के आधा दर्जन बच्चों की मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर प्रशिक्षु डी एस पी एजाज हाफिज मानी, थानाध्यक्ष शिव पूजन कुमार, बीडीओ अविनाश कुमार झा सहित अन्य ने घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली। तत्पश्चात मुखिया प्रतिनिधि प्रमोद साह, पूर्व मुखिया पति मो. शोयेब आलम, मो. नजाम उद्दीन, मो. इम्तियाज आजम, मो. अब्बास आलम, शमशाद आलम, जिप सदस्य मो. शब्बीर अहमद, पूर्व जिप सदस्य इमरान अजीम, मो. वसीकुर्रहमान, पूर्व उप प्रमुख मो. इम्तियाज आलम आदि के सहयोग से लोगों को समझा - बुझाकर सांत्वना देते हुए आग में झुलसे बच्चों को एम्बबुलें के माध्यम से पी एच सी भिजवाया। जहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।



एसपी भी पहुंचे

अररिया एसपी हृदयकांत ने बताया कि पलासी के कवैय्या गांव में छह बच्चों की मौत की जानकारी मिलने के बाद वे स्वयं गांव पहुंचे हैं। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार आग कैसे लगी इसका सही सही जानकारी नहीं मिली है। कुछ लोग बच्चों द्वारा भुट़्टा पकाने के दौरान आग लगने की बात बता रहे हैं। इस मामले में सरकार नियमानुसार जो मुआवजा मिलना है। तत्काल पीड़ित परिवार को दिया जाएगा।


बबुआन में आग लगने से बीस घर जलकर खाक

उधर, नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के भारत नेपाल सीमा से सटे बबुआन पंचायत के वार्ड संख्या सात में रविवार की दोपहर अचानक आग लगने के कारण हुई भीषण अगलगी में बीस घर जलकर खाक हो गए। दमकल के सहयोग से आग पर काबू पाया जा सका। जिसमें मो. इमजुद्दीन, अबुल कलाम, अमनुरूल, अफजल हुसैन, समीम अख्तर, ताजुद्दीन, मो. हारेसा, तरतीला खातून, अमानुल्लाह, सनाल्लाह, अबातुल्लाह, मो. जम्मेल, शमसुल, नुजहत बानु, नईमुद्दीन, जमालुद्दीन, मोतीउर रहमान, नजमा खातून, काबातुल्लाह, साबरा खातून के घरों को आग अपने चपेट में ले लिया।


जान बचाने खेतों की ओर भागे लोग

ग्रामीणों ने बताया कि रविवार की दोपहर अचानक से आग लग गई। तेज पछुआ हवा के कारण एक-एक कर सभी घर आग की चपेट में आते चले गए। इस भीषण अग्निकांड में देखते हीं देखते घर में रखे बर्तन, गहने, नगदी, अनाज, फर्नीचर समान, साईकिल एवं कपड़े आदि सब जलकर राख हो गए। पूरे गांव में भगदड़ मच गई लोग अपनी जान बचाने के लिए खेतों में भागने लगे करीब चार घंटे तक आग ने गांव में खूब तबाही मचाई। वहीं इस अग्निकांड में किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं है। इस बाबत बबुआन पंचायत के मुखिया मो. इमजुद्दीन ने बताया कि स्वयं जाकर पीडि़त परिवारों को सभी प्रकार से सहायता का भरोसा दिया गया है। अगलगी की घटना की जानकारी नरपतगंज अंचल पदाधिकारी प्रवीण कुमार को भी दिया गया है। सूचना दिए जाने पर हल्का कर्मचारी अवधेश सिंह मौके पर पहुंचकर अगलगी में हुए नुकसान का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि सभी पीडि़तों को सरकार की ओर से हर संभव मदद दिलाया जाएगा। स्थानीय ग्रामीणों ने पीडि़त स्वजनों को आवास योजना के तहत मुआवजा देने की मांग अररिया जिला पदाधिकारी से की है ताकि बेसहारा पीडि़त परिवार अपना घर बना सके। अग्निकांड पीडि़त परिवार खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं।

Followers

MGID

Koshi Live News