Koshi Live-कोशी लाइव सुपौल/ऑन ड्यूटी जेल में पहुंचाते थे शराब:वीरपुर जेल से हवलदार और सिपाही गिरफ्तार, सिगरेट और तंबाकू की भी करता था डिलीवरी - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, March 28, 2021

सुपौल/ऑन ड्यूटी जेल में पहुंचाते थे शराब:वीरपुर जेल से हवलदार और सिपाही गिरफ्तार, सिगरेट और तंबाकू की भी करता था डिलीवरी

ऑन ड्यूटी जेल में पहुंचाते थे शराब:वीरपुर जेल से हवलदार और सिपाही गिरफ्तार, सिगरेट और तंबाकू की भी करता था डिलीवरी

शराबबंदी वाले बिहार में शराब जेल के अंदर पहुंच रही है। कैदियों को शराब के अलावा सिगरेट, तंबाकू समेत कई नशीले पदार्थ की डिलीवरी हो रही है। यह सप्लाई कोई और नहीं, बल्कि सुरक्षा में तैनात हवलदार और सिपाही ही कर रहे हैं। यह जानकर आप हैरान मत होइए। सुपौल जिले के वीरपुर उपकारा में शराब की 13 बोतलों के साथ एक हवलदार और सिपाही को गिरफ्तार किया गया है। शुक्रवार रात जेल बैरक में छापेमारी की गई, जिसमें हवलदार अशोक कुमार और सिपाही विनोद कुमार को ऑन ड्यूटी शराब के साथ पकड़ा गया।

शराब की 13 बोतल बरामद
काफी दिनों से वीरपुर उपकारा में कैदियों तक शराब पहुंचाने की चर्चा चल रही थी। होली को लेकर सक्रियता बढ़ गई थी। आरोपियों तक पहुंचने के लिए छापेमारी टीम का गठन किया गया। वीरपुर थानाध्यक्ष राजेश कुमार, ASI मोहम्मद शाहिद के साथ कई सशस्त्र बल के जवानों की टीम ने छापेमारी की। इस दौरान गिरफ्तार किए गए हवलदार और सिपाही की ब्रेथ एनालाइजर से जांच हुई। रिपोर्ट में दोनों को नशे में रहने की पुष्टि हुई। हवलदार अशोक कुमार के बैरेक से नेपाल निर्मित 300 ML की उमंगा ब्रांड की 13 बोतल बरामद हुई। जबकि, दूसरे बैरेक में तैनात सिपाही विनोद कुमार नशे की हालत में झपकी लेता पकड़ा गया।

क्या बोले SDPO
पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ वीरपुर थाना में बिहार मद्य निषेध संशोधन अधिनियम के तहत कांड संख्या-97/21 दर्ज किया है। पूछताछ के बाद दोनों को जेल भेज दिया गया। वीरपुर के SDPO रामानंद कुमार कौशल ने कहा कि शराब का सेवन और बिक्री करने वाले के खिलाफ पुलिस सख्त है। आम नागरिक हो या पुलिसकर्मी पकड़े जाने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि वीरपुर जेल में सुरक्षाकर्मियों द्वारा बीड़ी, सिगरेट, तंबाकू और गुटखा जैसे प्रतिबंधित पदार्थ बेचने की सूचना कई बार मिली थी।

Followers

MGID

Koshi Live News