Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR/VIDEO: शर्मनाक! कुत्तों ने नोंच कर खाया बेटे का शव, बोरे में भरकर पैदल थाने पहुंचा पिता - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, March 6, 2021

BIHAR/VIDEO: शर्मनाक! कुत्तों ने नोंच कर खाया बेटे का शव, बोरे में भरकर पैदल थाने पहुंचा पिता

ज़ी मीडिया ब्यूरो डेस्क
Katihar: बिहार के कटिहार के कुर्सेला थानाक्षेत्र से झकझोड़ने वाली तस्वीर सामने आई है. यहां इंसान के संवेदनाओं का सरेआम दफन किया गया. दरअसल, यहां प्लास्टिक के बोरे को हाथ में टांग कर एक पिता अपने बेटे के शव को 3 किलोमीटर तक की दूरी पैदल तय की. जानकारी के अनुसार, लेरू यादव का पुत्र हरिओम (13 साल 7 महीना) की मौत 26 फरवरी को हो गई. बताया जा रहा है कि नाव से गंगा नदी पार करने के दौरान अचानक नाव नदी में पलट गई, जिससे हरिओम गंगा में डूब गया.

इसके बाद परिजनों और स्थानीय लोगों ने हरिओम को नदी में खूब ढूंढा लेकिन कुछ भी पता नहीं चला. कई दिनों तक पिता अपने बेटे ढूंढते-ढूंढते थक गया.

इसके बाद त्रिमुहानी नदी के किनारे में हरिओम का शव देखा गया था, जिसे किसी ने लावारिस समझकर फिर उसे गंगा नदी में बहा दिय. अपने पुत्र के लिए बेचैन पिता ने आखिरकार पता लगा लिया कि वह शव उसके बेटे का है.


इस बीच, पिता लेरू यादव ने स्थानीय थाना गोपालपुर में अपने बेटे हरिओम की गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज करवाई थी. 3 मार्च 2021 को शव के मिलने की सूचना जैसे ही गोपालपुर थाने को मिला तो गोपालपुर पुलिस और कुर्सेला पुलिस दोनों खेरिया गंगा घाट पहुंची. इसके बाद लेरू यादव और परिजन भी पुलिस के साथ खेरिया गंगा घाट पहुंचा और गंगा घाट किनारे पड़ा क्षत-विक्षत शव को कब्जे में लिया.

हैरान करने वाली बात यह है कि शव को कुत्तों ने नोच कर खा लिया था और कंकाल मात्र बचा था. लेकिन इसके बावजूद बेटे हरिओम के शव को लेरू यादव ने पहचान लिया. शव की पहचान कर लेने के बाद खेरिया गंगा घाट से दोनों थानों की पुलिस ने अपने-अपने गाड़ी से मृतक के परिजन और पिता को यह कह कर छोड़कर चल दिया कि शव को लेकर थाना आ जाओ.


इसके बाद लेरू यादव को अपने बेटे के शव को ले जाने के लिए जब कोई वाहन या अन्य साधन नहीं मिला तो वह अपने परिजनों के साथ प्लास्टिक के बोरे में सड़ा गला बेटे के शव को भरकर हाथ में टांगे पैदल निकल पड़ा और 3 किलोमीटर तक पैदल ही चलता रहा. फिर कुर्सेला बाजार में किसी और साधन से गोपालपुर थाना के लिए निकल पड़ा. इतने देर तक दोनों थाने की पुलिस संवेदनहीन बनी रही, फिर थाने में पुलिस कागजी कार्रवाई और खानापूर्ति करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेज दिया गया.

इस अमानवीय दृश्य और घटना की सूचना के लिए जब कटिहार की पुलिस से पूछा गया तो कटिहार पुलिस ने घटना भागलपुर के गोपालपुर थानाक्षेत्र का होने की बात कहकर विस्तृत जानकारी वहां के पुलिस के द्वारा बता कर अपना पल्ला झाड़ती दिखी. हालांकि, बरामद हरिओम के शव को पिता लेरू यादव के द्वारा पहचान लेने की पुष्टि किया है. वहीं, वरिष्ठ अधिकारियों ने कार्रवाई का भरोसा दिया है.

(इनपुट-राजीव रंजन)

Followers

MGID

Koshi Live News