Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR/जानकी एक्सप्रेस और क्रेन में हुई सीधी टक्कर,तेज आवाज के बाद चारों ओर मची चीख पुकार - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, March 7, 2021

BIHAR/जानकी एक्सप्रेस और क्रेन में हुई सीधी टक्कर,तेज आवाज के बाद चारों ओर मची चीख पुकार


समस्तीपुर। समस्तीपुर-खगड़िया रेल खंड के रोसड़ा-नयानगर रेलवे स्टेशन के समपार फाटक संख्या-11 सी के निकट 05284 डाउन जानकी एक्सप्रेस ट्रेन क्रेन से टकरा गई। जिसमें ट्रेन का इंजन बुरी तरह क्षतिग्रस्त होने के साथ-साथ दोनों चालक गंभीर रूप से जख्मी हो गए। बताया गया है कि शनिवार की सुबह जानकी एक्सप्रेस ट्रेन रुसेरा घाट रेलवे स्टेशन से खुलकर जैसे ही नयानगर रेलवे स्टेशन के फाटक संख्या-11सी के निकट पहुंची, उसी समय उक्त फाटक के रास्ते क्रेन गुजर रही थी। जिस कारण ट्रेन और क्रेन में जबरदस्त टक्कर हो गई। इस तेज आवाज के बाद तो चारों ओर चीख पुकार मच गई। एक ओर जहां ट्रेन में सवार जान बचाने के ल‍िए नीचे कूदने लगे वहीं आसपास के लोग भी उस ओर भागे। घटना की सूचना मिलते ही आरपीएफ थानाध्यक्ष रामनिवास, आरक्षी मनोज कुमार घटना स्थल के लिए रवाना हो गए हैं।




ट्रेन आने की सूचना नहीं थी

स्थानीय लोगों का कहना है कि रेलवे का काम चल रहा था। इस दौरान क्रेन को उस पार ले जाना था। इसलिए रेलवे फाटक को खोला गया। वहां काम कर रहे कर्मचारियों को ट्रेन आनेे की सही जानकारी नहीं थी । क्रेन जैसे ही रेलवे फाटक से इन कर रही उसी दौरान अचानक जानकी एक्सप्रेस ट्रेन आ गई। और यह हादसा हुआ । हादसे के बाद वहां से रेलवे कर्मचारी वहां पहुंच कर जांच पड़ताल करने में जुट गए हैं। जानकी एक्सप्रेस की स्पीड काफी ज्यादा थी। चालक ने सूझबूझ से ब्रेक लगाने की कोशिश की लेकिन वह कोशिश नाकाम साबित हुआ और हादसा हो गया।

समस्‍तीपुर में हुआ था लापरवाही से भयंकर हादसा

बताते चलें कि समस्तीपुर में जनवरी 2020 में एक इसी तरह की घटना हुई थी जिसमें समस्तीपुर से सहरसा जा रही ट्रेन एक बैलगाड़ी से टकरा गई थी। जिसमें छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। वह हादसा समस्तीपुर जिले के हसनपुर स्टेशन के पास हुआ था हादसे में ट्र्रेन की बौगी के गेट पर बैठे यात्री बैल गाड़ी से टकराकर एक-एक कर गिरते चले गए। कुछ की मौत हो गई थी। और कई लोग घायल हो गए थे। यह पूरा मामला लापरवाही का था।



जंक्शन पर लगाया गया यात्री सहायता केंद्र

हादसे को लेकर शुक्रवार को यात्री सहायता केंद्र खोला गया। ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों के परिजनों को जानकारी देने के लिए स्टेशन पर पूरी व्यवस्था की गई। सुबह से हेल्पलाइन से लोगों को स्थिति के बारे में जानकारी दी जा रही है। संबंधित हादसे को लेकर एक भी व्यक्ति ने काउंटर पर संपर्क नहीं किया है।

Followers

MGID

Koshi Live News