Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा/बेखौफ अपराधी:एक सप्ताह में 2 किराना व्यवसायी से मांगी रंगदारी, एक आरोपी गिरफ्तार - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, March 28, 2021

मधेपुरा/बेखौफ अपराधी:एक सप्ताह में 2 किराना व्यवसायी से मांगी रंगदारी, एक आरोपी गिरफ्तार


थाना क्षेत्र के मधेली बाजार में 10 लाख रुपए रंगदारी नहीं देने पर किराना व्यवसायी पप्पू भगत को गोली मारने के बाद अब वहीं के दूसरे किराना व्यवसायी राजेश भगत से पांच लाख रुपए की रंगदारी की मांग की गई है। घटना को लेकर पीड़ित व्यवसायी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। दोनों व्यवसायियों को गुड्डू कुमार नाम के अपराधी ने एक ही मोबाइल नंबर से अलग-अलग तिथियों में रंगदारी की मांग की है। मामले को लेकर पुलिस मधेपुरा के एक मोबाइल व्यवसायी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि सिम उसी व्यवसायी के नाम से है। पुलिस इस मामले में और छानबीन कर रही है। दूसरी ओर, एक सप्ताह में एक ही बाजार के दो-दो किराना व्यवसायियों से रंगदारी मांगे जाने से बाजार के दुकानदार दहशत में हैं। बताया गया कि मधेली बाजार के व्यवसायी राजेश भगत ने शंकरपुर थाने में आवेदन देकर रायभीर निवासी गुड्डू कुमार पर मोबाइल से पांच लाख रुपए की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष राजकिशोर मंडल ने बताया कि दोनों मामले में एक ही मोबाइल नंबर से एक ही अपराधी द्वारा रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। अनुसंधान के क्रम में मधेपुरा वार्ड नंबर -15 निवासी मोबाइल दुकानदार कुंदन कुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। वहीं अन्य अपराधी की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर छापेमारी जारी है।

घायल दुकानदार ने दर्ज कराया केस
वहीं पिछले रविवार की देर रात्रि आधा दर्जन से अधिक हथियारबंद अपराधियों ने मधेली बाजार के किराना व्यवसायी पप्पू भगत की दुकान पर आकर उन्हें गोली मार दी थी। इस मामले में घायल पप्पू भगत के फर्द बयान पर रायभीर निवासी गुड्डू यादव को नामजद व अन्य अज्ञात पर कांड दर्ज किया गया है। जख्मी व्यवसायी पप्पू भगत का कहना है कि रायभीर निवासी गुड्डू यादव फोन कर लगातार 10 लाख रुपए रंगदारी के रूप में देने को कह रहा था। रंगदारी नहीं देने पर ही उनलोगों ने घटना को अंजाम दिया। उनका कहना है की 16 मार्च की देर शाम को उनके मोबाइल पर मोबाइल नंबर 8235199719 से फोन आया। उधर से कहा गया कि वह रायभीर वाला गुड्डू बोल रहा है। उससे कहा गया कि 10 लाख रंगदारी दो। इस पर पप्पू ने कहा कि उसके पास रुपए नहीं है। पुनः 17 मार्च को आठ बजे रात्रि में उसी मोबाइल नंबर से फोन आया और रुपए की मांग की गई। मजबूरी बताने पर फोन काट दिया। इसके बाद 21 मार्च की रात अचानक गुड्डू कुमार अपने 5-6 अज्ञात साथियों के साथ दुकान पर आया और उसे गोली मार दी। पीएमसीएच में दारोगा उमेश सिंह के समक्ष फर्द बयान दिया।

मामले की छानबीन जारी है

घायल पप्पू भगत के फर्द बयान पर मामला दर्ज कर लिया गया है। जबकि राजेश भगत के आवेदन के आधार पर मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है। अपराधी की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी चल रही है। -राजकिशोर मंडल, थानाध्यक्ष, शंकरपुर

Followers

MGID

Koshi Live News