Koshi Live-कोशी लाइव SUPAUL NEWS:संदेहास्पद:घर में ही मिली 12 दिनों से गायब अधेड़ की सड़ी लाश, मां और भाई ने नहीं करने दिया पोस्टमार्टम - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, February 20, 2021

SUPAUL NEWS:संदेहास्पद:घर में ही मिली 12 दिनों से गायब अधेड़ की सड़ी लाश, मां और भाई ने नहीं करने दिया पोस्टमार्टम


सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत बरैल वार्ड-3 में शुक्रवार की सुबह 45 वर्षीय व्यक्ति की सड़ी हुई लाश उसके ही घर में मिली है। इससे गांव के लोगों में भय है। युवक की लाश तब बरामद हुई, जब मृत व्यक्ति की युवक की मां रमा देवी बेटे के घर से अपना सामान लेने पहुंची थी। जहां अपने 45 वर्षीय बेटे सिंहेश्वर झा की लाश देख अवाक रह गई। कमरे के गेट के पास उसके बेटे सिंहेश्वर की लाश जमीन पर पड़ी थी। इसके बाद उसने मामले की सूचना ग्रामीणों को दी। इसके बाद ग्रामीणों ने मामले की जानकारी सदर थानाध्यक्ष दीनानाथ मंडल को दी। मौके पर पहुंचे सदर थानाध्यक्ष ने मामले की जानकारी एवं लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की प्रक्रिया शुरू कर दी, लेकिन रमा देवी ने अपने बेटे की स्वाभाविक मौत होने की बात कहकर शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। इसको लेकर रमा और सिंहेश्वर के भाई पवन झा ने आवेदन देकर पोस्टमार्टम नहीं कराने की बात कही। इसके बाद ग्रामीणों की मदद से शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। दूसरे घर में रहती है मां और भाई : मृतक की मां रमा देवी ने बताया कि सिंहेश्वर झा शराब पीने का आदी था। वह शराब के नशे में अक्सर मां सहित अन्य परिजनों के साथ मारपीट करता रहता था। जिसे मारपीट कर घर बाहर निकाल दिया था। इससे दुखी होकर मां रमा देवी अपने दूसरे बेटे के साथ करीब 200 मीटर दूर बने दूसरे घर में रहने लगी थी।

दिल्ली में रहता है मृत सिंहेश्वर झा का परिवार
सिंहेश्वर झा दिल्ली में परिवार के साथ रह कर मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करता था। उसके परिवार में मृतक की पत्नी, एक बेटा एवं बेटी साथ में रहते थे। लेकिन बीते करीब दो माह पहले सिंहेश्वर झा का पत्नी से विवाद हुआ था। जिसके बाद वह अपने घर लौट आया था। सदर थानाध्यक्ष दीनानाथ मंडल ने फोन पर दिल्ली में रह रही मृतक की पत्नी से बात किया। जिसने घर आने में असमर्थता जाहिर की।

पीड़ित मां बोलीं-बेटे की किसी से दुश्मनी भी नहीं
सिंहेश्वर की मां ने सदर थानाध्यक्ष को आवेदन देकर कहा कि उनके बेटे की मौत स्वाभाविक रूप से हुई है। साथ ही उनके बेटे की लाश सड़ गई है। अपने बेटे की किसी से दुश्मनी नहीं होने की भी बात बताई।
परिवार के दो सदस्य पहले कर चुके हैं सुसाइड
बताया जाता है कि इससे पूर्व सिंहेश्वर के बड़े भाई और भतीजे ने फांसी लगाकर खुदकुशी की थी। दो वर्षों में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत के बाद गांव में भय का माहौल है। पीड़ित मां ने बताया कि जब उसके घर का दरवाजा खोली तो बदबू आ रही थी। कमरे को खाेल कर देखा तो बेटे की लाश पड़ी थी।

Followers

MGID

Koshi Live News