Koshi Live-कोशी लाइव Patna Murder Case: इंडिगो एयरलांइस हेड रूपेश हत्याकांड का पर्दाफाश, ना ठेकेदारी, ना कोई रुपयों का लेनदेन, जानिए मर्डर की पूरी कहानी - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, February 3, 2021

Patna Murder Case: इंडिगो एयरलांइस हेड रूपेश हत्याकांड का पर्दाफाश, ना ठेकेदारी, ना कोई रुपयों का लेनदेन, जानिए मर्डर की पूरी कहानी


पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) के इंडिगो एयरलाइंस (Indigo Airlines Officer) मैनेजर रूपेश कुमार सिंह (Rupeh Murder Case) हत्याकांड का पर्दाफाश हो गया है. पुलिस के मुताबिक, रूपेश की हत्‍या रोडरेज को लेकर हुई थी. बुधवार को पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस हत्याकांड की पूरी जानकारी मीडिया को दी.

पुलिस ने रूपेश हत्याकांड के मुख्य आरोपी ऋतुराज को गिरफ्तार कर लिया है वहीं उसके तीन साथी अभी भी फरार है. ऋतुराज ने अपना गुनाह भी कबूल किया है. बकौल एसएसपी, आरोपी ने हत्याकांड की जो वजह बतायी वो हैरान करने वाला है. पुलिस के मुताबिक, आदर्श नगर रोड नंबर दो निवासी मनोरंजन के बेटे ऋतुराज को पुलिस ने इस मामले में आरके नगर से गिरफ्तार किया है.

रूपेश की हत्‍या करने वाले ऋतुराज ने राजस्थान की एक यूनिवर्सिटी से भुगोल में स्नातक किया है. वह बैंक सहित कई जगह नौकरी भी कर चुका है. वह काफी दिनों तक दिल्‍ली में रहा है और वहां कॉल सेंटर की नौकरी भी किया है।. 2016 के आसपास वह पटना चला आया. यहां वह गलत धंधों में लग गया. आजकल वह बाइक चोरी के धंधे में लग गया था. पटना एसएसपी के मुताबिक, वह हर महीने चार से पांच बाइक चुरा लेता है. ऐसा उसने खुद ही पुलिस के सामने कबूल किया है.

RUPESH MURDER CASE: रूपेश को क्यों मारी गोली

एसएसपी के मुताबिक, ऋतुराज ने बताया कि नंवबर में छठ के आसपास सरदार पटेल चौक के पास रूपेश की कार की टक्कर उसके बाइक से हुई थी. घटना में वह मरते मरते बचा था. उस वक्त दोनों में बहस हुई थी और रूपेश ने उसकी पिटायी कर दी थी. तभी से वह रूपेश के पीछे लग गया था. कार का नंबर याद कर लिया था.

एक दिन राजवंशी नगर में उस कार को देखा तो पीछा करना शुरू कर दिया था. फिर 12 जनवरी को उसने अपने तीन साथियों के साथ इस वारदात को अंजाम दिया. पुलिस के मुताबिक आरोपी को इस वारदात से पहले ये मालूम नहीं था कि रूपेश कौन है. हत्याकांड के अगले दिन अखबारों के माध्यम से उसे पता जला कि रूपेश पटना एयरपोर्ट पर इंडिगो का स्टेशन हेड था

. एसएसपी ने बताया कि पुलिस ने हत्या के आरोपी को दबोचा, उसके बाद हत्या का कारण पता चला. उनके मुताबिक , ऋतुराज इससे पहले कभी जेल नहीं गया है. हालांकि उसके आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी जुटायी जा रही है. एसएसपी के मुताबिक, ऋतुराज आदतन बाइक चोर था. उसके मुहल्ले के लोगों ने भी बताया कि वह हर 15 से 20 दिन के बाद अपना बाइक बदल लेता था.

रूपेश हत्याकांड को भी उसने चोरी की ही बाइक से अंजाम दिया था. एसएसपी के मुताबिक, पुलिस ने कई सबूत बरामद किया. जिस कपड़ा को पहनकर कर हत्या किया वह भी मिला. मीडिया के सामने आरोपी ने गुनाह कबूल किया.

उठने लगे सवाल

नवंबर 2020 में इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह का एयरपोर्ट से घर आते वक्त सड़क पर किसी से बहस होती है और दो महीने बाद छोटी सी घटना को लेकर रेकी कर 6 गोली सीने में उतार दी जाती है. गोली मारने वाला लड़का कोई क्रिमिनल बैक ग्राउंड नही है, पहली बार गोली चलाता है. इस थ्योरी को लोग आसानी से पचा नहीं पा रहे रहे हैं.

Followers

MGID

Koshi Live News