Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा/महाशिवरात्रि 11 मार्च को, सिंहेश्वर मंदिर में तैयारी शुरू - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Friday, February 26, 2021

मधेपुरा/महाशिवरात्रि 11 मार्च को, सिंहेश्वर मंदिर में तैयारी शुरू

महाशिवरात्रि 11 मार्च को, सिंहेश्वर मंदिर में तैयारी शुरू

मधेपुरा। बिहार के सुप्रसिद्ध सिंहेश्वर स्थान में 11 मार्च से शुरू होने वाले महाशिवरात्रि को केवल 15 दिन शेष रह गए हैं। इसे देखते हुए सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति ने तैयारी शुरू कर दी है। मंदिरों में साफ-सफाई से लेकर रंग-रोगन का कार्य तेजी से चल रहा है। सिंहेश्वर ऐसा ऐतिहासिक मंदिर हैं, जहां दूरदराज से लोग शिव की आराधना करने पहुंचते हैं। बाबा के दरबार में मन्नतें मांगने के लिए देश विदेश से श्रद्धालु महाशिवरात्रि में आते हैं। गुरुवार को मंदिर परिसर में साफ-सफाई के साथ मरम्मत और रंगाई-पुताई का कार्य दिन भर चलता रहा। मंदिर को आकर्षक ढंग से सजाया जा रहा है। सिंहेश्वर में भोलेनाथ मंदिर सहित अन्य छोटे-बड़े एक दर्जन से अधिक मंदिर सजने लगे हैं। इस बाबत सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति के सदस्य मदन मोहन सिंह, विजय सिंह व स्मिता सिंह ने संयुक्त रूप से बताया कि न्यास समिति शिवरात्रि को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है। मंदिर को आकर्षक रूप से सजाया जाएगा। महाशिवरात्रि के मौके पर बाबा की बारात धूम-धाम से निकाली जाएगी। न्यास समिति बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को हर सुविधा देने के लिए तैयार है। 11 मार्च को महाशिवरात्रि मेले का उद्घाटन कोसी के प्रमंडलीय आयुक्त से कराने की संभावना है।


महाशिवरात्रि मेले व सिंहेश्वर महोत्सव के आयोजन पर अब भी संशय बरकरार है। जबकि मेला और महोत्सव को मात्र 15 दिन रह गए हैं। इसके बावजूद प्रशासनिक स्तर पर स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी। यद्यपि जिला प्रशासन मेले की तैयारियों में जुटा है, इसके लिए मेला डाक की तिथि चार मार्च निर्धारित कर दी गई है। लेकिन इसका होना या न होना राज्य सरकार के दिशा निर्देश पर निर्भर करेगा। सरकार ही तय करेगी कि मेला और महोत्सव होगा की नहीं। जिला प्रशासन ने कोरोना के कारण हर वर्ष लगने वाले महाशिवरात्रि मेला व महोत्सव के आयोजन के लेकर राज्य सरकार से दिशा निर्देश मांगा है जो अब तक अप्राप्त है। गत दिनों मेला एवं महोत्सव की तैयारियों को लेकर प्रशानिक स्तर पर बैठक की गई थी। इसमें मेला की तैयारियों पर विभागवार समीक्षा की गई थी। मेला लगने की स्थिति में कोरोना गाइड लाइंस का पालन कराने पर विचार किया गया था। वहीं मेला की साफ सफाई, मंदिर का रंग रोगन, पेयजल शौचालय की व्यवस्था आदि पर संबंधित विभाग के कार्यपालक अभियंता को भी निर्देश दिया गया।

सिंहेश्वर महोत्सव के लिए 12, 13 और 14 मार्च की तिथि संभावित है। प्रशासनिक स्तर पर महोत्सव के आयोजन की तैयारी चल रही है। लेकिन अभी सरकार से राशि आना बाकी है। जिले में पहली बार सिंहेश्वर महोत्सव का आयोजन 2014 में किया गया था। सिंहेश्वर में विगत सात सालों से महोत्सव का सिलसिला अनवरत चलता रहा है, लेकिन इस कोरोना काल में महोत्सव के आयोजन पर संकट के बादल मंडरा रहा है।

कोट महाशिवरात्रि मेला व महोत्सव होगा कि नहीं अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी है। इसके आयोजन के लेकर राज्य सरकार से दिशा निर्देश मांगा है जो अब तक अप्राप्त है। अभी समय कम बचा हुआ है। ऐसे में तैयारियां की जा रही है। लेकिन राज्य सरकार के दिशा निर्देश के बाद ही मेला व महोत्सव की तस्वीर साफ होगी। विनोद कुमार सिह, डीडीसी, मधेपुरा

Followers

MGID

Koshi Live News