Koshi Live-कोशी लाइव MADHEPURA/खुलासा:प्रेम प्रसंग के कारण स्वजनों ने ही की थी ऋतिका की हत्या - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, February 24, 2021

MADHEPURA/खुलासा:प्रेम प्रसंग के कारण स्वजनों ने ही की थी ऋतिका की हत्या

Koshi Live:
कोशी लाइव मधेपुरा
मधेपुरा। जिले के मुरलीगंज थाने के चर्चित ऋतिका हत्याकांड का पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। ऋतिका की हत्या प्रेम प्रसंग में स्वजनों ने ही कर दी थी। हत्या के बाद शव को बेंगा नदी में फेंक दिया था। हत्या में शामिल उसके पिता वार्ड पार्षद डिपल पासवान फिलहाल फरार है।

पुलिस ने जब्त गाड़ी में लगा जीपीएस के आधार पर हत्याकांड का वैज्ञानिक अनुसंधान कर पर्दाफाश किया। हत्या और शव को ठिकाने लगाने में संलिप्त जब्त गाड़ी के चालक धीरज कुमार उर्फ मुखिया को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। हत्या में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।


पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार ने बताया कि दिसंबर माह में मुरलीगंज में ऋतिका का शव नदी से बरामद होने के बाद मृतका के पिता के बयान पर प्रेम प्रसंग में अपहरण कर हत्या का मामला अज्ञात के खिलाफ दर्ज किया गया था। ऋतिका हत्याकांड का पर्दाफाश के लिए एसडीपीओ अजय नारायण यादव के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। टीम में सर्किल इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार, मुरलीगंज थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक किशोर कुमार, अवर निरीक्षक धनेश्वर मंडल व तकनीकी सेल के धीरेंद्र कुमार को शामिल किया गया है। गठित टीम को अनुसंधान में पता चला कि जिस गाड़ी से ऋतिका के शव को ठिकाना लगाया गया था उस गाड़ी में जीपीएस लगा था। जिस दिन शव को ठिकाना लगाया गया था उस दिन जीपीएस को बंद कर दिया गया था। इससे पुलिस टीम का शक गहराया और पुलिस टीम वैज्ञानिक तरीके से उक्त मामले का अनुसंधान शुरू किया। अनुसंधान के क्रम में पुलिस टीम ने जिस स्कॉर्पियो गाड़ी से शव को ठिकाना लगाया गया था उस स्कोर्पियो के चालक धीरज कुमार उर्फ मुखिया को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार चालक ने पूछताछ में बताया कि ऋतिका की हत्या कर स्वजनों ने ही शव को बेंगा नदी में फेंका था। उन्होंने यह भी बताया कि जिस गाड़ी में शव को बेंगा नदी में फेकने के लिए ले जाया गया था उस गाड़ी को वह स्वयं चला रहा था। उन्होंने पूछताछ में बताया कि हत्या उसके पिता अरविद कुमार डिपल व उसके स्वजनों ने घर में ही कर शव को अपने स्कोर्पियो से दूसरी रात बेंगा नदी में ले जाकर फेंक दिया था। ऋतिका के पिता अरविद कुमार डिपल ने पुलिस को दिग्भ्रमित करने की नीयत से प्रेम प्रसंग में हत्या होने का मामला दर्ज करवाया था।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार चालक ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। चालक के बयान का वीडियोग्राफी भी करवाई गई है। ऋतिका के पिता अरविद कुमार डिपल अभी फरार है। उन्होंने कहा जांच के घेरे में घर के सभी सदस्य हैं। पुलिस टीम सभी से पूछताछ करेगी और संलिप्तता सामने आने पर उसे गिरफ्तार करेगी। मौके पर एसडीपीओ अजय नारायण यादव,सर्किल इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार, मुरलीगंज थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार मौजूद थे।

मालूम हो कि ऋतिका की हत्या की केस दर्ज होने के बाद पुलिस ने कुमार आनंद को अप्राथमिकी अभियुक्त बनाकर उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

Followers

MGID

Koshi Live News