Koshi Live-कोशी लाइव BSEB/मैट्रिक परीक्षा रद्द/खुलासा:SBI ब्रांच के सफाईकर्मी ने फोटो खींच अपने रिलेटिव को भेजा, 3 गिरफ्तार; अब 8 मार्च को होगा यह पेपर - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, February 20, 2021

BSEB/मैट्रिक परीक्षा रद्द/खुलासा:SBI ब्रांच के सफाईकर्मी ने फोटो खींच अपने रिलेटिव को भेजा, 3 गिरफ्तार; अब 8 मार्च को होगा यह पेपर

मैट्रिक के सोशल साइंस पहली पाली का एग्जाम रद्द:जमुई में SBI ब्रांच के सफाईकर्मी ने फोटो खींच अपने रिलेटिव को भेजा, 3 गिरफ्तार; अब 8 मार्च को होगा यह पेपर

जमुई में भारतीय स्टेट बैंक की झाझा शाखा से शुक्रवार को मैट्रिक प्रथम पाली की परीक्षा का पेपर लीक हुआ है। पुलिस की जांच में मामले का खुलासा होते ही मुकदमा दर्ज कर प्रथम पाली की परीक्षा को रद कर दिया गया है। इस मामले में पुलिस की प्रारंभिक जांच में पता चला है कि बैंक से ही पेपर का फोटो खींच व्हाटसएप के माध्यम से लीक कराया गया है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर के निर्देश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस मामले में बैंक पर तैनात संविदा कर्मी विकास कुमार व दो अन्य कर्मचारियों को अरेस्ट किया गया है। पुलिस और जिला प्रशासन की टीम पूछताछ में लगी है। बिहार बोर्ड ने प्रथम पाली के सामाजिक विज्ञान की परीक्षा को रद कर दिया है। अब यह परीक्षा 8 मार्च को हागी।

विकास ने बैंक से फोटो खींचकर अपने रिश्तेदार को किया था व्हाट्सएप

जांच में पाया गया है कि संविदा बैंक कर्मी विकास कुमार ने ही शुक्रवार को परीक्षा शुरू होने के पहले अपने मोबाइल से अपने एक संबंधी जो इस साल मैट्रिक की परीक्षा में शामिल है उसे पेपर भेजा था। इसके अलावा अन्य किसको यह पेपर भेजा गया इसकी जांच की जा रही है। पेपर लीक मामले में जमुई पुलिस ने SBI झाझा शाखा के संविदा कर्मी विकास कुमार को गिरफ्तार किया है। विकास के साथ ही पुलिस ने बैंक के कर्मचारी अजीत कुमार और शशिकांत चौधरी को भी गिरफ्तार किया है। इस मामले में अभी पुलिस अन्य गिरफ्तारी भी कर सकती है। पुलिस की जांच जारी है।

सफाई करने के दौरान मोबाइल से खींची फोटो

जांच में पता चला कि कुछ वर्ष पहले खैरमा निवासी गोपाल कुमार दास बैंक में स्वीपर का काम करता था। उसके काम छोड़ने के बाद पिछले कुछ साल से एसबीआई की मुख्य शाखा में उसका भाई विकास कुमार दास स्वीपर का काम कर रहा था। बैंक की साफ-सफाई के दौरान ही शुक्रवार को विकास ने बैंक में रखे सामाजिक विज्ञान विषय का प्रश्नपत्र लीक कर दिया। पुलिस विकास कुमार दास को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो खेल सामने आ गया।

बैंककर्मियों से की गई पूछताछ, सवालों में सुरक्षा

बैंक में जांच कर रहे डीएम, एसपी, डीडीसी के साथ अन्य अधिकारियाें ने कर्मचारियों से एक एक कर पूछताछ की है। बैंक में काम करने वाले सभी कर्मियों को जांच पूरी होने तक बैंक से बाहर नही निकलने को कहा गया था। पुलिस ने पूरी तरह से घेराबंदी कर SBI की झाझा शाखा की जांच की है। बैंक में कार्यरत सभी कर्मियों से बारी-बारी से पूछताछ की गई है। जमुई के डीएम अवनीश कुमार ने कहा है कि पेपर लीक करने और इसे वायरल करने में जो भी लोग हैं उनकी गिरफ्तारी कर कार्रवाई की जाएगी। डीएम का कहना है कि इस मामले में काफी गहनता से छानबीन की जा रही है। पेपर लीक का मामला आने के बाद एसपी प्रमोद कुमार मंडल, डीडीसी आरिफ अहसन, एसडीओ प्रतिभा रानी सहित कई पदाधिकारियों की टीम जमुई के कचहरी चौक स्थित एसबीआई की मुख्य शाखा पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी।

कोशी लाइव ने सबसे पहले चलाई थी खबर

प्रथम पाली की परीक्षा शुरू होने से पहले ही कोशी लाइव ने सबसे पहले पेपर लीक की आशंका जताते हुए वायरल हो रहे पेपर की खबर चलाई थी। इसके बाद तेजस्वी यादव ने विधानसभा में मैट्रिक परीक्षा पर सवाल खड़ा किया था। मामला मुख्यमंत्री सचिवालय पहुंचा और बड़ी कार्रवाई हुई है। अब बिहार विद्यालय परीक्षा समिति इस मामले में परीक्षा रद्द करने के साथ अन्य कार्रवाई में जुटी है।

111-0470581 सीरियल का लीक हुआ था पेपर

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि शुक्रवार को सामाजिक विज्ञान प्रथम पाली की परीक्षा में एक प्रश्न पत्र 111-0470581 सीरियल का परीक्षा शुरु होने से पूर्व किसी अन्य व्यक्ति के मोबाइल पर व्हाटसएप से भेजे जाने का मामला सामने आया था। इसके बाद मामले की जांच का आदेश दिया गया। जांच में पता चला कि यह प्रश्न पत्र जमुई जिले में भेजा गया था। इस मामले में जांच के लिए जमुई के डीएम और एसपी को निर्देशित किया गया। डीएम जमुई और एसपी की जांच रिपोर्ट के बाद बोर्ड ने कार्रवाई की है।

BSEB EXAM:प्रश्न पत्र लीक होने पर गरमाई सियासत... सीएम ने बोर्ड अध्यक्ष को फोन कर परीक्षा रद का दिया आदेश, तेजस्वी ने सदन में उठाया था मामला

जांच में जुड़ती गई कड़ी, बैंक तक पहुंच गई पुलिस की टीम

जांच रिपोर्ट में पाया गया कि जिस सीरिसल का पेपर वायरल हुआ है उसे जमुई जिले के स्टेट बैंक झाझा की शाखा में रिजर्व रखा गया था। शुक्रवार की सुबह परीक्षा शुरू होने से पहले स्टेट बैंक की झाझा शाखा से निकालकर इसका फोटो खींचकर वायरल किया गया था। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा इस मामले में मुकदमा दर्ज करने का निर्देश दिया गया। इस मामले में जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए समिति ने शुक्रवार को सामाजिक विज्ञान की प्रथम पाली की परीक्षा को रद करने का निर्णय लिया है। शुक्रवार को प्रथम पाली में 8,46,504 परीक्षार्थी हुए थे। अब यह परीक्षा 8 मार्च को आयोजित होगी।

Followers

MGID

Koshi Live News