Koshi Live-कोशी लाइव BSEB Inter Exam: इंटर परीक्षा के पहले ही दिन बिहार में वायरल हुआ प्रश्‍नपत्र, सत्‍यता की जांच शुरू - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Tuesday, February 2, 2021

BSEB Inter Exam: इंटर परीक्षा के पहले ही दिन बिहार में वायरल हुआ प्रश्‍नपत्र, सत्‍यता की जांच शुरू


पटना, बिहार ऑनलाइन डेस्‍क। Bihar Board Inter 12th Exam: बिहार में आज से इंटर की परीक्षाएं शुरू हो गई हैं। इधर, परीक्षा शुरू होते ही प्रश्‍न पत्र लीक होने की अफवाहें भी सामने आने लगी हैं। पटना जिले के दुल्हिन बाजार में इंटर के प्रश्‍न पत्र और उत्‍तर परीक्षा केंद्रों के बाहर बांटे और बेचे जा रहे हैं। आरा जिले में भी इंटरनेट मीडिया पर इंटर परीक्षा के प्रश्‍न पत्र वायरल हो रहे हैं। हालांकि इनकी सत्‍यता की परख होनी अभी बाकी है। प्रशासन ने ऐसी किसी अफवाह पर कार्रवाई की बात कही है। प्रशासन ने प्रश्‍न पत्र लीक होने की पुष्टि नहीं की है। स्‍थानीय अधिकारियों का कहना है कि यह किसी की शरारत भी हो सकती है। पटना जिले के पालीगंज एसडीओ मुकेश कुमार सिंह का कहना है कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। उनका कहना है कि वायरल प्रश्‍नपत्र पिछले साल का भी हो सकता है। ऐसा पहले भी कुछ असामाजिक तत्‍व करते रहे हैं।

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (Bihar School Examination Board) ने कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए परीक्षा की तैयारियां की हैं। परीक्षा की पहली पाली में विज्ञान संकाय के छात्र भौतिकी की परीक्षा देंगे। पहली पाली सुबह 9.30 बजे से शुरू हो चुकी है। इसके लिए 10 म‍िनट पहले तक ही छात्र-छात्राओं को परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया जाना था। इसे देखते हुए छात्र-छात्रा सुबह आठ बजे से ही परीक्षा केंद्रों पर पहुंचने लगे थे। थर्मल स्‍क्रीनिंग और मास्‍क की जांच के बाद उन्‍हें परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया गया। यह परीक्षा 13 फरवरी तक चलेगी।

परीक्षा केंद्रों पर सभी परीक्षार्थियों को मास्‍क लगाकर आने का निर्देश दिया गया था। इसके बावजूद भी जो परीक्षार्थी बगैर मास्‍क के केंद्र पर पहुंच गए उन्‍हें स्‍कूल प्रशासन की ओर से मास्‍क उपलब्‍ध कराया गया।

9.30 बजे इंटर के परीक्षार्थियों के बीच प्रश्‍न पत्र का वितरण कर दिया जाएगा। उन्‍हें 15 मिनट प्रश्‍नों को समझने के लिए तीन घंटे की परीक्षा के अतिरिक्‍त मिलेंगे।

इंटर के परीक्षा केंद्रों के बाहर सुबह 8.30 बजे से ही छात्र-छात्राओं की कतार लगनी शुरू हो गई थी। कतार में खड़े छात्रों की एक-एक कर जांच के बाद अंदर प्रवेश दिया गया।

राजधानी पटना के बांकीपुर गर्ल्‍स स्‍कूल को इंटर परीक्षा के लिए दुल्‍हन की तरह सजाया गया है। इस तरह की व्‍यवस्‍था हर जिले में चुनिंदा परीक्षा केंद्रों पर की गई है।

1473 केंद्रों पर हो रही परीक्षा, 13. 50 लाख परीक्षार्थी होंगे शामिल

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के तत्वावधान में सोमवार से राज्य के 1473 केंद्रों पर इंटर की परीक्षा शुरू हो गई। इस वर्ष 13.50 लाख परीक्षार्थी इंटर की परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। इंटर की परीक्षा 13 फरवरी तक चलेगी। इंटर की परीक्षा को लेकर प्रशासन ने काफी सावधानी बरती है । प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर दंडाधिकारी सहित पुलिस बल की तैनाती की गई है। परीक्षा केंद्र की 200 मीटर के दायरे में धारा 144 लागू कर दी गई है। कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति उस दायरे में नहीं भटक सकता है।

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की अध्यक्ष आनंद किशोर का कहना है कि इंटर की परीक्षा कदाचार मुक्त एवं शांतिपूर्ण कराने के लिए समुचित तैयारी की गई है। हर जिले में जिलाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि शांतिपूर्ण कदाचार मुक्त परीक्षा के लिए समुचित प्रयास करें। परीक्षा केंद्र के आंतरिक कार्यों की संचालन के लिए केंद्राधीक्षक नियुक्त किए गए हैं। राजधानी में मिलर स्कूल,  शास्त्री नगर हाई स्कूल, गर्दनीबाग हाई स्कूल , पटना कॉलेजिएट, बीएन कॉलेजिएट,  बांकीपुर गर्ल्स स्कूल सहित दर्जनों स्कूलों में परीक्षा संचालित की जा रही है।

पटना जिले में इंटर परीक्षा के लिए कुल 85 केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर लगभग 85000 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसके लिए सभी केंद्राधीक्षक को निर्देश दिए जा चुके हैं।

परीक्षा समिति ने सभी केंद्राधीक्षकों को निर्देश दिया है कि परीक्षा के दौरान क्रोना गाइडलाइन का पालन किया जाएगा । शारीरिक दूरी बनाकर बच्चों को कक्षाओं में बैठाया जाएगा । बच्चे अपने साथ पानी का बोतल भी ला सकते हैं। बच्चे जूता मोजा पहन कर आ सकते हैं। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इस वर्ष इंटर की परीक्षा में छात्रों को जूता मोजा पहन कर अनुमति प्रदान कर दी है । इसे अपवाद स्वरूप ही लिया गया है। भीषण ठंड को देखते हुए बिहार बोर्ड ने यह निर्णय लिया है ।

15 मिनट प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए

बिहार बोर्ड ने पूर्व की तरह इस बार भी छात्रों को प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए 15 मिनट का समय दिया है। साथ ही बोर्ड ने परीक्षार्थियों को यह भी निर्देश दिया है कि शिक्षक को कॉपी सौंपने के बाद ही परीक्षा कक्ष से बाहर जा सकते हैं।

Followers

MGID

Koshi Live News