Koshi Live-कोशी लाइव BSEB:मैट्रिक परीक्षा पेपर लीक पर तेजस्वी के बयान से गहराया विवाद, डिप्टी CM ने कार्रवाई का दिया दिलासा - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Friday, February 19, 2021

BSEB:मैट्रिक परीक्षा पेपर लीक पर तेजस्वी के बयान से गहराया विवाद, डिप्टी CM ने कार्रवाई का दिया दिलासा

कोशी लाइव डेस्क:

Patna: बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के मैट्रिक परीक्षा में पेपर लीक के बयान पर बिहार सरकार के मंत्री श्रवण कुमार (Shravan Kumar) ने कहा कि सदन के बाहर अगर कोई मामला उठाया जाता है तो उस पर क्या बयान दिया जा सकता है. अगर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को मामला उठाना है तो सदन में उठाएं तब जबाब सरकार देगी. बाहर उठाए गए सवालों का जवाब सरकार नहीं देती.

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के पेपर लीक वाले बयान पर बिहार के उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने कहा कि अगर कोई ऐसी घटना घटी है तो सरकार उस पर कार्रवाई करेगी. किसी भी प्रकार की ऐसी बातें होती हैं जो कहीं ना कहीं नियामकुल नहीं है, आपराधिक है, उस पर सरकार तुरंत कार्रवाई करती है.

आरएसएस पर पीएफआई के जनरल सेक्रेटरी के द्वारा दिए गए बयान पर उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद (Tar Kishore Prasad) ने कहा कि RSS को किसी संस्था के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है. RSS राष्ट्रवादी और ऐसे लोगों का संगठन है जिसने देश के नवनिर्माण में एक बड़ी भूमिका अदा की है और इस संस्था से जुड़े हुए या RSS के बारे में कोई नकारात्मक टिप्पणी करता है तो इसकी भर्त्सना करते हैं.

उन्होंने हा कि पीएफआई (PFI) के महासचिव की बातों की गंभीरता से नहीं लेना चाहिए लेकिन इस तरह की बातें अनर्गल करेंगे तो सरकार उसे गंभीरता से ले सकती है. पीएफआई (PFI) की गतिविधियां राष्ट्रविरोधी रही हैं PFI की आवांछित गतिविधियों पर सरकार कार्रवाई करेगी.

- तेजस्वी का नीतीश सरकार पर जोरदार हमला- C ग्रेड पार्टी के नेता को BJP ने सीएम बनाया

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के द्वारा पेपर लीक पर दिए गये बयान पर कांग्रेस के MLC प्रेमचन्द्र मिश्रा (Premchand Mishra) ने कहा कि ये बात सच है कि बिहार बोर्ड के परीक्षा जब भी होती है तो पेपर लीक हो जाता है. जो अपने आप में एक गंभीर मसला है और नेता प्रतिपक्ष ने जिस मजबूती के साथ बात उठाया है उसका हम समर्थन करते हैं.

उन्होंने कहा कि सवाल यह है कि सरकार वैसी व्यवस्था अब तक क्यों नहीं बना पाई कि पेपर लीक नहीं हो. पेपर लीक होने से छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होता है. यह गंभीर समस्या है. सरकार को इस पर जांच कराना चाहिए और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए.

वही, धान खरीद के मामले को लेकर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा कि सरकार का जो भी दावा है और राज्यपाल महोदय के अभिभाषण में उल्लेख किया गया है. वह सच्चाई से परे है. सच्चाई है कि आप इस बात को क्यों नहीं स्वीकारते. इस राज्य में एक करोड़ 20 लाख किसान है जो किसानी करते हैं. बिहार में धान खरीद का लक्ष्य बहुत ही पीछे रह गया है और किसानों को परेशानी हुई है जो सरकार की विफलता है. मैंने 30 संशोधन लिस्ट दिया है जिस पर चर्चा होगी.

Followers

MGID

Koshi Live News