Koshi Live-कोशी लाइव BSEB 10TH EXAM:मैट्रिक परीक्षा के दौरान छात्रा ने बेटे को दिया जन्‍म, नाम रखा इम्तिहान - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, February 21, 2021

BSEB 10TH EXAM:मैट्रिक परीक्षा के दौरान छात्रा ने बेटे को दिया जन्‍म, नाम रखा इम्तिहान

कोशी लाइव डेस्क
इन दिनों बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा चल रही है। पहले सामाजिक विज्ञान पर्चा लीक और अब अंग्रेजी का फर्जी पर्चा वायरल होने को लेकर बवाल मच गया। लेकिन परेशान करने वाली इन खबरों के बीच एक परीक्षा केंद्र से चेहरों पर मुस्‍कान ला देने वाली खबर भी आई है। मुजफ्फरपुर के इस परीक्षा केंद्र पर परीक्षा देने आई शादीशुदा छात्रा शांति देवी ने अपने बेटे को जन्‍म दिया तो पति बिरजू ने उसका नाम इम्तिहान रख दिया।

यह वाकया एमडीडीएम कॉलेज परीक्षा केंद्र पर शुक्रवार को हुआ। मैट्रिक की परीक्षा देने आई छात्रा शांति देवी को अचानक प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। आनन-फानन में उन्‍हें अस्‍पताल पहुंचाया गया। शांति देवी ने देर शाम एक बेटे को जन्‍म दिया। पति बिरजू सहनी सब कुछ सकुशल हो जाने से काफी खुश नजर आ रहे थे। उन्‍होंने बेटे का नाम इम्तिहान रख दिया। डॉक्‍टरों के मुताबिक जच्‍चा-बच्‍चा दोनों स्‍वस्‍थ हैं। सब काफी प्रसन्‍न हैं।


परीक्षा नहीं छोड़ेंगी शांति
बच्‍चे को जन्‍म देने के बाद शांति देवी ने कहा कि वह परीक्षा नहीं छोड़ेंगी। एम्‍बुलेंस से जाकर परीक्षा देंगी। शांति ने बताया कि शुक्रवार को जब उन्‍हें प्रसव पीड़ा शुरू हुई उस वक्‍त तक उन्‍होंने सारे वस्‍तुनिष्‍ठ प्रश्‍न हल कर लिए थे। ओएमआर शीट पूरी तरह भरकर जमा कर दी थी। जैसे विषयगत प्रश्‍नों के उत्‍तर लिखने शुरू किए प्रसव पीड़ा होने लगी। आसपास बैठी छात्राओं ने इसकी जानकारी कक्ष परीक्षक को दी। उन्‍होंने तत्‍काल शांति को अस्‍पताल भेजने की व्‍यवस्‍था की। शांति बोचहां हाई स्कूल की छात्रा हैं।

परीक्षा कक्ष से ऐसे पहुंचीं अस्पताल
शांति देवी को जब प्रसव पीड़ा शुरू हुई तब तक दूसरी पाली की परीक्षा का पहला घंटा बीत चुका था। एमडीडीएम कॉलेज केंद्र की केंद्राधीक्षक डॉ. मीरा मधुमिता ने बताया कि सूचना मिलते ही तत्‍काल शांति देवी को चैंबर में बुलाकर आराम की मुद्रा में लिटा दिया गया। इसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी को सूचना दी गई। एम्‍बुलेंस बुलाई गई और शांति को तत्‍काल सदर अस्‍पताल पहुंचाया गया जहां देर शाम उसने बेटे को जन्म दिया। डॉ. मीरा मधुमिता ने बताया कि प्रसव पीड़ा शुरू होने से पहले शांति देवी अपनी ओएमआर शीट जमा कर चुकी थीं। विषयगत प्रश्‍नों को हल करना बाकी रह गया था।

Followers

MGID

Koshi Live News