Koshi Live-कोशी लाइव बिहारः पत्नी से अवैध संबंध में दोस्त ने युवक के किए छह टुकड़े, अलग-अलग मिला सिर, हाथ और पैर - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, February 10, 2021

बिहारः पत्नी से अवैध संबंध में दोस्त ने युवक के किए छह टुकड़े, अलग-अलग मिला सिर, हाथ और पैर


संसू, मैरवा (सिवान) : बिहार के सिवान में बड़ी वारदात हुई। अवैध संबंध में दोस्त ने युवक के हत्या कर छह टुकड़े कर दिए। मैरवा रेलवे स्टेशन से सटे जीआरपी क्वार्टर के पीछे रेल परिसर से मोतीछापर गांव निवासी चाय दुकानदार छोटेलाल पटेल के पुत्र राजेश पटेल का शव मंगलवार की दोपहर बोरा से बरामद किया गया।  हत्या करने वालों ने युवक के हाथ-पैर और सिर को काटकर अलग कर दिया था। बोरे में केवल धड़ मिला। राजेश की पहचान उसके बड़े भाई ने अध कटे शव में मौजूद कपड़े के रंग से की। राजेश सोमवार की रात्रि 8 बजे दुकान से घर जाने के लिए निकला था। मामले में पुलिस ने करीब पांच घंटे तक जांच के बाद घटनास्थल से कुछ दूर स्टेशन चौक स्थित एक मकान से राजेश पटेल का सिर, हाथ और पैर के साथ हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार बरामद कर लिया। हत्यारे को उसकी पत्नी के साथ उसके ही घर से गिरफ्तार कर लिया। हत्यारा मृतक का दोस्त ही निकला। हत्या का कारण दोस्त की पत्नी के साथ राजेश पटेल का अवैध संबंध बताया जा रहा है। 

बताते हैं कि चाय दुकानदार छोटेलाल पटेल का मंझला पुत्र राजेश पटेल सोमवारकी रात 8 बजे से ही घर से गायब था। रात भर घर वालों ने उसकी खोजबीन की, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म संख्या एक से सटे बाउंड्री वॉल के पीछे पीपल के पेड़ के पास किसी ने बोरे में एक युवक का शव देखा। सिर नहीं होने के कारण शव की पहचान करना मुश्किल साबित हो रहा था। रेलवे स्टेशन के पास बोरे में शव होने की जानकारी मिली तो छोटेलाल अपने अन्य पुत्रों के साथ वहां पहुंचे, वस्त्र रंग देखकर छोटे लाल के बड़े बेटे रमेश पटेल ने अपने भाई राजेश पटेल के रूप में मृतक की पहचान की। पुलिस ने आसपास की झाड़ी में शव का काटे गए सिर हाथ पैर की तलाश की, लेकिन पता नहीं चल सका। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए सिवान भेज दिया। पुलिस ने पांच घंटे की निरंतर जांच के बाद हत्या मामले में राजेश पटेल के मित्र राजकुमार और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया। हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार भी बरामद कर लिया गया है। पुलिस दंपती से पूछताछ कर रही है। 

अपने ही मकान में की हत्या

रेलवे स्टेशन के निकट स्थित चाय दुकानदार छोटेलाल पटेल के पुत्र राजेश पटेल की हत्या की गुत्थी पुलिस ने पांच घंटे के अंदर ही सुलझा ली। हत्यारा मृतक राजेश का दोस्त राज कुमार ही निकला। पत्नी के साथ अवैध संबंध को लेकर राजेश के दोस्त ने उसकी हत्या कर दी। वहीं पुलिस राजेश के मोबाइल के सीडीआर के आधार पर हत्यारे तक पहुंची है। थानाध्यक्ष संजीव कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने कई जगहों पर छापेमारी की, पुलिस ने वह जगह ढूंढ निकाला जहां हत्या की घटना को अंजाम दिया गया था। स्टेशन स्टेशन चौक के निकट स्थित हत्यारे ने अपने ही मकान में राजेश पटेल को बुलाकर हत्या कर दी। 

00:05/02:58

चाय दुकान से चला लेकिन घर नहीं पहुंचा राजेश

थाना क्षेत्र के मोतीछापर निवासी छोटेलाल पटेल की चाय की दुकान रेलवे स्टेशन के निकट माल गोदाम रोड में स्थित है। वे सुबह से शाम तक अपनी चाय की दुकान पर रहते हैं। उनके साथ उनके तीन पुत्र दुकान पर उनके सहयोग करते हैं। उनका मंझला पुत्र राजेश पटेल भी उनका हाथ बंटाता था। सोमवार को रात्रि करीब आठ बजे वह चाय दुकान से घर जाने के लिए कह कर निकला, जब रात में दुकान बंद कर छोटेलाल घर पहुंचे तो मालूम हुआ कि राजेश घर नहीं पहुंचा। इसके बाद उसकी खोजबीन शुरू हुई, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल सकी। सुबह किसी ने बताया कि चाय दुकान से कुछ दूरी पर बोरे में शव रखा हुआ है। छोटेलाल अपने दो पुत्रों के साथ वहां पहुंचे। इसके पहले वहां पुलिस पहुंच चुकी थी। वहां काफी भीड़ लगी हुई थी। छोटेलाल के बड़े पुत्र रमेश ने मृतक की पहचान उसके अंत:वस्त्र के रंग से की।

मायके गई थी मृतक की पत्नी

राजेश पटेल की पत्नी कुछ महीने पहले अपने मायके श्रीकलपुर गई हुई थी। उस समय वह अपने ससुराल में नहीं थी। सूचना मिलते ही वह मायके से ससुराल के लिए चल दी। राजेश पटेल की शादी आठ वर्ष पहले हुई थी। उसे एक पुत्र और दो पुत्री है। पत्नी बच्चों को साथ लेकर मायके गई थी। 

विदेश जाने की तैयारी में था राजेश

राजेश पटेल विदेश में काम करता था। लॉकडाउन के पहले वह वापस आ गया था। इधर, काम की तलाश में वह दिल्ली गया था, लेकिन काम नहीं मिला तो दो महीने पहले घर लौट आया था। इस दौरान वह अपने पिता की चाय पकौड़े की दुकान पर सहयोग करता था। 

Followers

MGID

Koshi Live News