Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR NEWS:पॉलिटेक्निक स्टूडेंट ने खुद 10 लाख की फिरौती लिख बंद किया था मोबाइल, पुलिस से भागते हुए पकड़ा गया - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Thursday, February 11, 2021

BIHAR NEWS:पॉलिटेक्निक स्टूडेंट ने खुद 10 लाख की फिरौती लिख बंद किया था मोबाइल, पुलिस से भागते हुए पकड़ा गया

बाप को ठगने के लिए अपहरण की रची कहानी:पॉलिटेक्निक स्टूडेंट ने खुद 10 लाख की फिरौती लिख बंद किया था मोबाइल, पुलिस से भागते हुए पकड़ा गया

पटना में पॉलिटेक्निक के स्टूडेंट सुमित कुमार पाठक के अपहरण की बात फर्जी साबित हुई। पिता से रुपए ठगने के लिए सुमित ने खुद के अपहरण की साजिश रची। वो खुद घर से निकला। उसने अपने ही मोबाइल से पिता और भाई के मोबाइल पर मैसेज भेजा और 10 लाख के फिरौती की डिमांड कर दी। परिवार ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी। पटना पुलिस ने इस केस को बेहद गंभीरता से लिया। राजीव नगर के रोड नम्बर 18 और 4A में लगे हर एक CCTV के फुटेज को खंगाला। कई घंटे तक सुमित की तलाश में थानेदार निशांत सिंह और उनकी टीम अलग-अलग इलाकों में खाक छानती रही, लेकिन घुड़दौड़ रोड से दीघा जाने वाले पॉल्सन रोड में वो रात के 10 बजे के करीब मिला।

सुमित पुलिस टीम को देखकर भागने लगा था। मगर, उसे पुलिस ने पकड़ लिया। थाना लाकर उससे पूछताछ की गई। तब बताया कि वो अपने पिता से रुपया ऐंठना चाहता था। सोर्स के अनुसार सुमित को नशे की भी लत है। थाना लाये जाने के बाद वो लगातार पानी पी रहा था। उसे बार-बार प्यास लग रही थी।

पिता को किया सुमित का मैसेज। - Dainik Bhaskar
पिता को किया सुमित का मैसेज।

मैसेज में लिखा - पुलिस के पास गए तो पैसा बच जाएगा, बेटा नहीं बचेगा

सुमित सुबह 8:30 बजे के करीब घर से निकला था। इसके बाद 10:30 बजे के करीब पिता के मोबाइल पर खुद ही व्हाट्सएप मैसेज किया। उसने लिखा कि बेटा मेरे कब्जे में है। 10 लाख दो और बेटा ले जाओ। पुलिस के पास मत जाना। अगर गए तो पैसा बच जाएगा, बेटा नहीं बचेगा। उसके पिता ने जब बहुत देर तक मैसेज नहीं देखा तो फिर उसने 20 मिनट बाद अपने भाई को मैसेज किया था। मैसेज के बाद परिवार ने राजीव नगर थाने को जानकारी दी थी।

गोपालगंज में पढ़ता है, लॉकडाउन के बाद घर पर था

17 साल का सुमित गोपालगंज के BK NSGP पॉलिटेक्निक कॉलेज में थर्ड सेमेस्टर का स्टूडेंट है। वहां कॉलेज के हॉस्टल में रहता था। लॉकडाउन के वक्त से पटना वाले घर में रह रहा था। जल्द ही सेमेस्टर एग्जाम शुरू होने वाला था तो वह वापस गोपालगंज जाने वाला भी था। सुमित के पिता संतोष कुमार पाठक दरभंगा के मूल निवासी हैं। पटना में राजीव नगर के रोड नम्बर 18 के पांडेय पथ में घर है। संतोष पाठक SP सिंगला कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम करते हैं।

Followers

MGID

Koshi Live News