Koshi Live-कोशी लाइव पूर्णियां/सहरसा:हर्ष फायरिंग की आड़ में जमीन कारोबारी की गोली मारकर हत्या, गोलीबारी से पहले हुई थी मारपीट - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Thursday, February 18, 2021

पूर्णियां/सहरसा:हर्ष फायरिंग की आड़ में जमीन कारोबारी की गोली मारकर हत्या, गोलीबारी से पहले हुई थी मारपीट


घटना के संबंध में मृतक के दोस्त ने बताया कि मृतक सहरसा से शादी में शामिल होने के लिए पूर्णिया आया था. इसी क्रम में हर्ष फायरिंग की आड़ में उसकी हत्या कर दी गयी. हत्या से पहले मारपीट भी की गई थी.

पूर्णिया: बिहार के पूर्णिया जिले में हर्ष फायरिंग की आड़ में बीती रात शादी में शामिल होने ससुराल आए शख्स की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. घटना जिले के सहायक खजांची थाना क्षेत्र के चित्रवाणी रोड स्थित सामुदायिक भवन की है. मृतक की पहचान सहरसा निवासी राजकुमार सिंह के रूप में की गई है, जो बीती रात चित्रवाणी रोड स्थित विवाह भवन में शादी में शामिल होने पहुंचा.

लेकिन वहां हर्ष फायरिंग के आड़ में उसे गोली मार दी गयी. गोली लगने के बाद उसे आननफानन अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया.


बारात में शामिल होने पहुंचा था मृतक


शादी समारोह में गोलीकांड का शिकार हुआ सहरसा के झपरा टोला निवासी गजेंद्र सिंह के बेटा राजकुमार कल बारात में शामिल होने पूर्णिया पहुंचा था. स्थानीय सूत्रों की मानें तो जमीनी विवाद के कारण हर्ष फायरिंग की आड़ में हत्या कर दी गयी है, क्योंकि मृतक शादी में शामिल होने के साथ ही जमीन रजिस्ट्री कराने भी पूर्णियां पहुंचा था.


गोलीबारी के पहले हुई थी मारपीट


घटना के प्रत्यक्षदर्शी और मृतक के दोस्त अविनाश सिंह भी घायल हैं, उनके सिर में चोट लगी है. उन्होंने बताया कि देर रात शादी समारोह में गोलीबारी की घटना हुई, जिसमें राजकुमार सिंह की मौत हो गई. उन्होंने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि गोली चलने के पूर्व मृतक और मेरे साथ भी मारपीट की गई थी. लेकिन मैं किसी को नहीं पहचानता.


मामले की जांच में जुटी पुलिस


इधर, इस पूरे मामले में स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस को सूचना देने के बाद भी पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंची. इस बात से वे काफी आक्रोशित हैं. फिलहाल स्थानीय थाना पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. वहीं, जल्द ही अपराधियों की गिरफ्तारी की बात कह रही है.


थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि शादी समारोह में ही मर्डर की घटना को अंजाम दिया गया है. मामले में जमीन सम्बधी आपसी विवाद की भी बात सामने आ रही है. सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है. अपराधी कोई भी हो बचेगा नहीं.


शादी में जाना नहीं चाह रहे थे राजकुमार

मृतक के ससुर विभाष प्रसाद सिंह (शेर सिंह) ने बताया कि बुधवार रात महबूब खान टोला निवासी अविनाश सिंह और प्रसन्न श्रीवास्तव उनके घर पर आए। राजकुमार सिंह को शादी समारोह में जाने के कहने लगे। राजकुमार ने मना किया लेकिन अविनाश सिंह जिद करने लगा। इसके बाद तीनों शादी समारोह में चले गए। रात में अविनाश ने जानकारी दी कि राजकुमार को पेट में चोट लगी है, उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। आननफानन में हमलोग अस्पताल गए तो पता चला कि राजकुमार की गोली मार कर हत्या कर दी गई। परिजनों का कहना है कि राजकुमार की हत्या साजिश के तहत करवाई गई है।

ससुराल वालों ने कहा- दोस्त पर है शक

मृतक के ससुर ने बताया कि उन्हें आशंका है कि साजिश के तहत राजकुमार ही हत्या करवाई गई है। गोली लगने की बात भी अविनाश ने फोन पर नहीं बताई। वह बार-बार अलग-अलग बात कह रहा है। वहीं थानाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि अविनाश सिंह से पूछताछ चल रही है। वह अलग-अलग बयान दे रहा है। पुलिस हर एंगल से मामले की जांच कर रही है।

अविनाश ने कहा- बाइक सवार से हुआ था विवाद

अविनाश सिंह ने बताया कि वे राजकुमार के साथ शादी समरोह में आए थे। खाना-पीना खाने के बाद हम दोनों बाहर निकलने लगे। तभी एक बाइक सवार से किसी बात को लेकर राजकुमार का विवाद हुआ। इसके बाद बीच-बचाव कर मामले को शांत करवाया। कुछ देर बाद बारात आ गई। बारात जब अंदर आ गई तो हमलोग निकलने लगे। राजकुमार पैदल ही निकल गए। उनकी बाइक चौक पर लगी थी, तभी अचानक हल्ला हुआ। देखने गए तो बाइक सवार बदमाश अपने दोस्तों के साथ राजकुमार के साथ मारपीट कर रहा था। उन्होंने विरोध किया तो बदमाशों विरोध किया तो गोली मार दी। इसके बाद जब बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की तो मेरे सिर पर रोड़े (पत्थर) से वार कर घायल कर दिया।


Followers

MGID

Koshi Live News