Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा/सख्ती:लॉकडाउन में सचिव के फर्जी हस्ताक्षर से ‌17 लाख रुपए निकालने वाले एचएम पर केस - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, February 14, 2021

मधेपुरा/सख्ती:लॉकडाउन में सचिव के फर्जी हस्ताक्षर से ‌17 लाख रुपए निकालने वाले एचएम पर केस


प्रखंड क्षेत्र के रामपुर लाही पंचायत के मध्य विद्यालय बरियाही के प्रभारी प्रधानाध्यापक के द्वारा विद्यालय के सरकारी खाता से बीते एक वर्ष में लगभग 17 लाख रुपए की अवैध निकासी के मामले में बड़ी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। दैनिक भास्कर में छपी खबर पर संज्ञान लेते हुए जिला शिक्षा पदाधिकारी जगतपति चौधरी ने प्रभारी एचएम ऋषि ध्यान पाल नंदन भारती को सस्पेंड करते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज कराने का आदेश जारी किया। दरअसल विद्यालय शिक्षा समिति की सचिव रजिया देवी की शिकायत पर मामले का खुलासा होने के बाद आरोपी एचएम को बीईओ और डीईओ ने शो-कॉज पूछकर जवाब दाखिल करने को कहा था। लेकिन वे लॉकडाउन के दौरान 17 लाख रुपए की निकासी को जायज नहीं ठहरा सके। इसके बाद डीईओ ने प्रभारी एचएम ऋषि ध्यान पाल नंदन भारती को सस्पेंड करते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज कराने का आदेश जारी किया है।

गड़बड़ी करने पर हुई कार्रवाई
सचिव रजिया देवी ने अनियमितता की शिकायत की थी। जांच में प्रथम दृष्टया प्रभारी प्रधानाध्यापक के द्वारा एक वर्ष में विद्यालय विकास मद से लगभग 17 लाख से अधिक निकाला गया है। गड़बड़ी को देखते हुए प्रभारी एचएम को सस्पेंड करते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज कराने का आदेश जारी किया गया है।
जगतपति चौधरी, डीईओ, मधेपुरा

कब कितनी निकासी
18 जनवरी 2020 -60 हजार
30 जनवरी -40 हजार
30 जनवरी -60 हजार
11 फरवरी -5 हजार
12 फरवरी 20 हजार
18 फरवरी -20 हजार
24 फरवरी - 20 हजार
24 फरवरी -20 हजार
21 मई -एक लाख
27 मई -20 हजार
4 जून-एक लाख
11 हजार-950
4 जून-1 लाख 89,600
4 जून-76 हजार 100
4 जून-3 लाख 46,800
5 अगस्त-76 हजार
26 अगस्त-10 हजार
9 सितंबर-84 हजार
25 सितंबर-50 हजार
12 अक्टूबर-एक लाख
4 नवंबर-10 हजार
4 नवंबर-50 हजार
18 नवंबर-20 हजार
1 दिसंबर-30 हजार
5 दिसंबर-10 हजार
8 दिसंबर-10 हजार

डीईओ की ओर से जारी किया गया पत्र।
डीईओ की ओर से जारी किया गया पत्र।

छात्रवृत्ति, पोशाक व अन्य मद के थे रुपए
विद्यालय शिक्षा समिति की सचिव रजिया देवी का कहना था कि स्कूल में छात्रवृत्ति, पोशाक, मध्याह्न भोजन समेत अन्य मद की राशि आते रहती है। उन्हें पूर्व के एचएम ने बताया था कि चेक और पासबुक कहीं खो गया। लेकिन लॉकडाउन के दौरान प्रभारी एचएम लगातार रुपए की निकासी करते रहे। एक दिन सचिव के देवर ने बैंक में एचएम को रुपए निकालते देख लिया। जब उन्होंने घर आकर इसकी जानकारी दी तो सचिव और उनके पति ने बैंक से स्टेटमेंट निकलवाया गया, तब जाकर मामले का खुलासा हुआ। बताया जा रहा है कि प्रभारी एचएम ऋषि ध्यान पाल नंदन भारती ने विद्यालय शिक्षा समिति के विकास मद के खाते से 18 जनवरी 2020 से 8 अगस्त 2020 तक चेक के माध्यम से 15 लाख 39 हजार 450 रुपए समेत 17 लाख की निकासी 26 अलग-अलग चेक के माध्यम से किए।

Followers

MGID

Koshi Live News