Koshi Live-कोशी लाइव बिहार: पूर्व SHO की करतूत, लूट की घटना, चोरी की FIR, बनाई अकूत संपत्ति, अब आय से अधिक मामले में दर्ज हुआ केस - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, January 2, 2021

बिहार: पूर्व SHO की करतूत, लूट की घटना, चोरी की FIR, बनाई अकूत संपत्ति, अब आय से अधिक मामले में दर्ज हुआ केस


बिहार के पूर्णिया जिले के मरंगा थाना के पूर्व थानाध्यक्ष मदन कुमार पर पूर्णिया रेंज के आईजी रत्न संजय के आदेश पर आईजी कार्यालय के एडिशनल एसपी बमबम चौधरी के द्वारा दिए गए लिखित आवेदन के आलोक पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने को लेकर मामला दर्ज कराया गया है। इस मामले की जांच का जिम्मा कटिहार के एडिशनल एसपी हरि मोहन शुक्ला को सौंपा गया है।

बताया जाता है कि इस मामले की जांच पहले आईजी के द्वारा कार्यालय के एडिशनल एसपी बम बम चौधरी से करवाई गई थी। जांच में मामला सही पाए जाने के बाद साक्ष्य के साथ केहाट थाना में मामला दर्ज करवाया गया है। पूर्णिया जिले में पहली बार किसी थानाध्यक्ष पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने मामले को लेकर इस तरह का मामला दर्ज करवाया गया है।

इस संदर्भ में केहाट थाना के थानाध्यक्ष सुनील कुमार मंडल ने बताया कि आईजी कार्यालय के एडिशनल एसपी बमबम चौधरी के लिखित आवेदन के आलोक पर मरंगा थाना के पूर्व थानाध्यक्ष पर मामला दर्ज किया गया है। इस मामले के अनुसंधान का जिम्मा कटिहार जिले के एडिशनल एसपी हरि मोहन शुक्ला को सौंपा गया है। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर अनुसंधान शुरू कर दिया गया है।

लूटी की घटना, चोरी की एफआईआर
केहाट थाना में दिए गए आवेदन में लिखा गया है कि मदन कुमार तुलसीपुर खड़ीक भागलपुर जिला का रहने वाला है। वह 18 फरवरी 2009 को बिहार पुलिस सेवा में आया था। उनकी पहली पदस्थापना कटिहार जिले के रेलवे पुलिस और फिर पटना में हुआ था। मुफ्फसिल रानीपतरा थाना से उनका तबादला मरंगा थाना में किया गया था। मरंगा थानाध्यक्ष रहने के दौरान ही उनके द्वारा लूट की घटना को चोरी की धारा में मामला दर्ज किया गया था। इसके अलावा थाना में कई बाहरी लोगों को रखकर थाना के काम में हस्तक्षेप करवाने का आरोप भी लगा था। इस मामले की जांच पूर्णिया प्रक्षेत्र के आईजी रत्न संजय के द्वारा की गई थी। इस मामले में आईजी के द्वारा मामला भी सही पाया गया था। इसके बाद उन्हें आईजी के आदेश पर एसपी विशाल शर्मा ने मरंगा थानध्यक्ष के पद से हटा दिया था और उनके ऊपर विभागीय कार्रवाई भी शुरू करने का आदेश दिया गया था ।

बनायी प्रापर्टी, अच्छा खासा बैंक बैलेंस
गुप्त सूचना के आलोक पर आईजी के द्वारा आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने को लेकर भी जांच पड़ताल की गई। जिसमें पता चला कि वह पूर्णिया के ही एक बिल्डर से तीन बीएचके का बिल्डिंग खरीदा है। उनके दो बैंक खाता है जिनमें एक पूर्णिया जिले के सिंधिया एसबीआई ब्रांच में दूसरा तुलसीपुर स्थित ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स में है। जांच पड़ताल के दौरान इस बात की जानकारी मिली है कि उनके द्वारा अवैध रूप से चल अचल संपत्ति अर्जित की गई है। एफडी से ब्याज मिलने और कई अन्य तरह के भी संपत्ति होने के साक्ष्य मिले हैं। इसके अलावा मदन कुमार के बैंक बैलेंस में लाखों की संपत्ति की बात भी सामने आयी है।

साक्ष्य के आधार पर कार्रवाई : आईजी
आईजी रत्न संजय ने बताया कि मरंगा थाना के पूर्व थानाध्यक्ष मदन कुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले की जांच कार्यालय के एडिशनल एसपी बम बम चौधरी से करवाई गई थी। इसमें मामला सही पाया गया और उनके द्वारा अवैध रूप से चल अचल संपत्ति भारी मात्रा में अर्जित करने को लेकर साक्ष्य भी पाया गया। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर बम बम चौधरी के द्वारा केहाट थाना में मामला दर्ज करवाया गया है और जांच पड़ताल शुरू की गई है। उन्होंने बताया कि फिलहाल मदन कुमार निलंबित है और उनके ऊपर विभागीय कार्रवाई भी चलाया जा रहा है।

Followers

MGID

Koshi Live News