Koshi Live-कोशी लाइव SAHARSA/हत्या की आशंका:सड़क किनारे वार्ड सदस्य के पुत्र की मिली लाश, हत्या की आशंका - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, January 9, 2021

SAHARSA/हत्या की आशंका:सड़क किनारे वार्ड सदस्य के पुत्र की मिली लाश, हत्या की आशंका




बसनही थाना क्षेत्र के महुआ उत्तरवाड़ी पंचायत के वार्ड सात के वर्तमान वार्ड सदस्य रतन चौधरी के 25 वर्षीय पुत्र रंजीत चौधरी की संदेहास्पद स्थिति में सड़क किनारे लाश मिली। मृतक के पिता ने थाने में आवेदन देते हुए पांच लोग चंदशेखर यादव, बौकु यादव, संजू देवी, मिथुन कुमार, बबलू यादव पर हत्या का आरोप लगाते हुए कहा इन्होंने कुछ दिन पहले पुत्र को देख लेने की धमकी दी थी। रतन चौधरी ने इनपर यह भी आरोप लगाया है कि ये शराब कारोबारी है। इनके कारोबार का हमलोगों ने विरोध किया तो इन्होंने मेरे पुत्र को जान से मार डाला। रनत चौधरी ने इनपर अविलंब कार्रवाई की मांग की है। इसके अलावा रतन चौधरी ने कहा कि पुत्र रंजीत गुरुवार की शाम करीब 6 बजे घर से बाइक लेकर पूर्वी बलैठा निवासी संतोष मंडल के यहां गया था। देरी हुई तो रंजीत को फोन लगाया। तब रंजीत ने कहा कि निकल गया हूं, लेकिन तीन से चार घंटे तक नहीं लौटने पर फिर से फोन किया तो उसने फोन नहीं उठाया। काफी खोजबीन की फिर भी कुछ पता नहीं चला। शुक्रवार सुबह 4 बजे पुलिस को सूचना मिली कि रंजीत की लाश क्षतिग्रस्त बाइक के साथ घर से करीब तीन सौ मीटर दूर खिलहा चिमनी के पास बनकट्‌टा पुलिया के नीचे गिरी हुई मिली।

पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए सहरसा भेजा

हालांकि घटना के बाद मृतक रंजीत के पिता ने अपने आवेदन में गांव के ही चंदशेखर यादव, बौकु यादव, संजू देवी-मिथुन कुमार, बबलू यादव पर अपने पुत्र की हत्या का आरोप लगाते हुए कहा कि उक्त लोगों ने बीते दिन देख लेने की धमकी दी थी, क्योंकि ये सभी लोग शराब का कारोबार करते हैं । जिसका विरोध करने इन लोगों ने मेरे पुत्र की हत्या कर दी। वहीं घटना की सूचना मिलने पर बसनही पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सहरसा भेज दिया।

तीन दिन पहले ही दिल्ली से घर आया था रंजीत

दिल्ली में रहकर काम करता था मृतक रंजीत। तीन दिन पहले ही घर आया था। दो छोटी बेटियां हैं जिनमें एक साल की मौसम कुमारी, ढाई साल की सहबानी। बताते चलें कि सभी आरोपी बरैठ पंचायत के तमकुल्हा गांव का रहने वाले हैं। ये लोग करीब 10 वर्षों से खिलहा गांव में जमीन लेकर अपना घर बनाकर रह रहे हैं। इन आरोपितयों के घर में पुलिस की पहले भी शराब कारोबार को लेकर छापेमारी हुई है। जिसका संदेह मृतक के पिता वार्ड सदस्य पर था जिस कारण देख लेने की धमकी दी गई थी।

जांच के बाद मामला स्पष्ट होगा
मृतक के परिजनों द्वारा आवेदन देकर हत्या का आरोप लगाया है। लेकिन अनुसंधान के बाद ही मामला स्पष्ट हो पाएगा।
जनार्दन प्रसाद यादव, बसनहीं थानाध्यक्ष

Followers

MGID

Koshi Live News