Koshi Live-कोशी लाइव SAHARSA/वारदात:फोटो शूट की बात कह पेपर मिल की छत पर ले जाकर दोस्तों ने रिशु को मारी गोली - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Thursday, January 7, 2021

SAHARSA/वारदात:फोटो शूट की बात कह पेपर मिल की छत पर ले जाकर दोस्तों ने रिशु को मारी गोली




स्थानीय तिवारी टोला वार्ड 32 निवासी प्रभु शरण साह के 17 वर्षीय पुत्र नौंवी के छात्र रिशु साह को बुधवार की देर शाम बैजनाथपुर ओपी क्षेत्र स्थित पेपर मिल परिसर स्थित वॉयलर की दूसरी मंजिल पर फोटो शूट करने के बहाने ले जाकर दोस्तों ने ही गोली मार दी। गोली से जख्मी छात्र को स्थानीय सूर्या हॉस्पीटल में गंभीर स्थिति में भर्ती कराया गया है।

स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना जहां बैजनाथपुर ओपी अध्यक्ष को दी। पीड़ित के भाई प्रशांत कुमार ने बताया कि बुधवार की शाम लगभग 4 बजे उनके भाई घर पर ही था। तभी तिवारी टोला में अपने चाचा के घर रहने वाले बघवा गांव निवासी मनीष कुमार झा एवं सहरसा बस्ती निवासी मो. अल्ताफ बाइक से उनके घर आया।

वे दोनों उनके भाई को लेकर फोटो शूट करने और वीडियो बनाने का प्रलोभन देकर बैजनाथपुर पेपर मिल के पुराने खंडहर नुमा बिल्डिंग पर ले गए। जहां उन दोनों ने उनके भाई को जबड़े में गोली मार दी। गोली हत्या करने की नीयत से मारी गई। पीड़ित के भाई ने बताया कि गोली मारने के आरोपी मनीष 10 दिन पूर्व उनके भाई से 10 हजार रुपए की मांग की थी। जिसे देने से उनके भाई ने इनकार किया था। ऐसे में उसने गोली मार देने की धमकी दी थी।

गंभीर रूप से जख्मी 17 वर्षीय छात्र रिशु कुमार सूर्या अस्पताल में भर्ती

पिछले साल भी पेपर मिल के क्षेत्र में हुई थी रौशन कुमार की हत्या

सुनसान पड़े बैजनाथपुर पेपर मिल के खंडहरनुमा परिसर में 6 महीने पूर्व भी अपराधियों ने एक युवक की गला दबा कर हत्या कर दी थी। कई एकड़ क्षेत्रफल में फैले बैजनाथपुर पेपर मिल परिसर में बना भवन भूतबंगला बन गया है। ऐसे में अपराधिक वारदात को यहां अंजाम देना अपराधी के लिए आसान है।

वहीं हत्या जैसे जघन्य अपराध के साक्ष्य को छिपाने में भी पेपर मिल का इलाका सुरक्षित दिख रहा है। बीते साल 6 जून को उक्त खंडहरनुमा इलाके में बैजनाथपुर पटेल चौक निवासी रौशन कुमार की गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। विडंबना यह रही थी कि मृतक रौशन के घर से महज चंद कदम दूर स्थित पेपर मिल परिसर में ही हत्या की गयी लेकिन लाश को यहां छिपा कर 6 दिनों तक रखा गया था।

दोनों आरोपियों को आर्म्स एक्ट में भेजा जा चुका है

गोली मारने के आरोपी बनाए गए दोनों अपराधी हाल ही में जेल से बाहर आया है। मनीष पर जहां आर्म्स एक्ट का मामला सदर थाना में दर्ज किया गया था। वहीं मो. अल्ताफ मोबाइल छिनतई और चोरी को लेकर दो बार जेल जा चुका है। दोस्ती तोड़ने का किया था प्रयास मार दी गई है।

जल्द गिरफ्तारी होगी

नाबालिग छात्र को उसके ही मित्र ने गोली मारी है। बयान दर्ज कर आरोपी बनाए गए युवक की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है। जल्द ही उनकी गिरफ्तारी होगी।
बृजनंदन प्रसाद, मुख्यालय डीएसपी

Followers

MGID

Koshi Live News