Koshi Live-कोशी लाइव Farmers Tractor Rally: कब क्या हुआ? किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान कैसे बिगड़े हालात ? - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Wednesday, January 27, 2021

Farmers Tractor Rally: कब क्या हुआ? किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान कैसे बिगड़े हालात ?


लाल किला के पास भी हुई हिंसक झड़प में कई पुलिसकर्मी घायल हुए. उसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. आइये जानते हैं कब क्या हुआ और कैसे किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली के दौरान बिगड़े हालात.

नई दिल्ली: नए कृषि कानूनों के विरोध में हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे किसानों ने मंगलवार को पुलिस की बैरिकेडिंग तोड़ दी. राष्ट्रीय राजधानी में कई जगहों पर आंदोलनकारी किसान पुलिस से उस वक्त भिड़ गए जब दिल्ली के अंदर आने की कोशिश कर रहे थे. आंदोलनकारी किसानों ने लाल किला परिसर में प्रवेश किया और वहां पर झंडा फहरा दिया.

इस दौरान स्थित बिगड़ी, कई जगहों पर पुलिस के साथ हिंसक झड़प हुई और फिर पुलिस को आंसू गैस छोड़ने पड़े. लाल किला के पास भी हुई हिंसक झड़प में कई पुलिसकर्मी घायल हुए. उसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. आइये जानते हैं कब क्या हुआ और कैसे किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली के दौरान बिगड़े हालात-


80:55am-
दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर के पास भारी संख्या में किसानों का आंदोलन चल रहा था. ट्रैक्टर रैली के दौरान गाजीपुर सीमा के पास किसान नारेबाजी और प्रदर्शन करते हुए दिखे. दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर के पास जब किसानों ने जबरन घुसने की कोशिश की तो पुलिस ने ट्रैक्टरों पर आंसू गैस के गोले दागकर किसानों को रोकने की कोशिश की.


09:00am-
प्रदर्शनकारी किसान दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे पर बड़ी संख्या में दिल्ली की ओर घुसने की कोशिश कर रहे थे. इस दौरान पुलिस की तरफ से रोकने की कोशिश हुई और आंसूगैस का इस्तेमाल किया गया.


09:30-
दिल्ली-हरियाणा सीमा पर स्थित सिंघू बॉर्डर पर किसानों ने ट्रैक्टर रैली की शुरुआत की तो उनके स्वागत फूल फेंक कर किया गया. जबकि, दूसरी तरफ गाजीपुर बॉर्डर पर दिल्ली कूच के दौरान किसान और पुलिस के बीच झड़प हो गई.
उधर, किसानों को तीन सीमाओं से प्रवेश की इजाजत दी गई थी लेकिन 12 बजे के बाद से होनी थी. लेकिन, सिंघू बॉर्डर पर सैकड़ों की संख्या में किसान समय से पहले ही ट्रैक्टर लेकर निकल गए थे.


10:00pm-
प्रदर्शनकारी किसान हजारों की संख्या में दिल्ली के भलस्वा के पास ट्रैक्टर दौड़ाते हुए नजर आए.


10:10pm- जब किसान दिल्ली बॉर्डर पर अंदर आए गए तब उनकी पूरी कोशिश लाल किला की ओर बढ़ने की थी. इस दौरान अक्षरधाम के पास बैरिकेडिंग के पास तोड़कर अंदर प्रवेश करने लगे आंदोलनकारी. इस दौरान पुलिस लगातार उन्हें समझाते रहे लेकिन वे अपनी जिद पर अड़े हुए थे.


10:48am
गाजीपुर बॉर्डर से प्रदर्शनकारी प्रगति मैदान पहुंचे और उसके बाद वह सेंट्रल दिल्ली, लाल किला की ओर बढ़ने लगे.


10:48am-
सिंघू बॉर्डर से संजय गाधी ट्रांसपोर्ट नगर पहुंचे किसानों के साथ पुलिस की झड़प हो गई. इस दौरान पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे.


11:04am
किसानों ने आईटीओ में डीटीसी की बसों में तोड़फोड़ की. इस दौरान आंदलोनकारी किसानों ने दिल्ली पुलिस मुख्यालय के उल्टी तरफ लगाई गई बैरिकेडिंग भी तोड़ दी. दिल्ली पुलिस की तरफ से आंसूगैस के गोले आईटीओ में आंदोलनकारी किसानों पर छोड़े गए.


11:19am
भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि रैली शांतिपूर्ण हो रही है. उन्होंने कहा कि हिंसा की उन्हें कोई जानकारी नहीं है. मीडिया से बात करते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि हम गाजीपुर बॉर्डर पर हैं और यहां पर ट्रैफिक चल रहा है.


11:26am
दिल्ली मेट्रो की तरफ से किसान रैली के दौरान हिंसा को देखते हुए बादली रोहिणी सेक्टर 18,19, हैदरपुर बादली, जहांगीरपुरी, आदर्श नगर, आजादपुर, मॉडल टाउन, जीटीबी नगर, विश्व विद्यालय, विधानसभा और सिविल लाइन्स के एंट्री और एग्जिट गेट को बंद कर दिया गया.


12:13pm
दिलशाद गार्डन के पास ड्यूटी के दौरान एक पुलिसकर्मी बेहोश होकर गिर पड़े. उन्हें होश में आने के बाद अस्पताल लेकर जाया गया.


12:31pm-
जब दिल्ली पुलिस ने लाल किला तक जाने की इजाजत नहीं दी तो स्थित हिंसक पैदा हो गई. इस बीच कुछ किसान ट्रैक्टर लेकर लाल किला तक पहुंच गए. वहां पर प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेडिंग तोड़ते हुए लाल किला के अंदर प्रवेश कर गए.

ट्रैक्टर पलटा, ड्राइवर की मौत

दिल्ली में ट्रैक्टर मार्च के दौरान एक किसान की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि डीडीयू मार्ग पर एक किसान का ट्रैक्टर पलट गया, जिससे ट्रैक्टर चालक की मौके पर मौत हो गई।

हिंसा में 18 पुलिसकर्मी घायल

दिल्ली में ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा में 18 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। उन्हें एलएनजेपी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। घायल पुलिसकर्मियों में से एक की हालत नाजुक बताई जा रही है।

ट्रैक्टर हिंसा पर अलर्ट: दिल्ली पुलिस को मिली छूट, तुरंत लें तगड़ा एक्शन

दिल्ली में कई जगहों पर किसानों ने तोड़े बैरिकेटिंग

-गाजीपुर बार्डर पर किसानों ने बैरिकेटिंग तोड़ दिया है इस बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी किया है कि दिल्ली में घुसने वाले संयुक्त किसान मोर्चा के नहीं है।

- गाजीपुर बॉर्डर के पास बेरीकेट्स तोड़े गए
- अक्षरधाम-नोएडा मोड के पास झड़प
- नोएडा-चिल्ला बॉर्डर पर झड़प
- कुछ जगह छिटपुट झड़प की खबरें, किसानों ने कुछ गाड़ियों में तोड़फोड़ की
- मुकरबा चौक पर भी थोड़े हालत खराब हुए
- टिकरी बॉर्डर के आगे नांगलोई में भी पुलिस बेरिकेड्स तोड़े गए
- किसानो ने 37 NOC के नियमों का उल्लंघन किया
- कई जगह बल प्रयोग कर रही है पुलिस, आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए
- ITO के पास भी किसान पहुंचे

पांच-छह पुलिसकर्मी जख्मी हुए, प्रदर्शनकारियों को भी चोटें आईं

किसान परेड में हंगामा बढ़ने पर पुलिस ने यहां किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। भीड़ को काबू करने के दौरान पांच-छह पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। वहीं, प्रदर्शनकारियों की तरफ से पुलिसवालों पर ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश की गई। झड़प के बीच दो मीडियाकर्मी भी घायल हो गए हैं। वहीं कई प्रदर्शनकारियों को चोटें आई हैं।

भयानक किसान हिंसा: 18 पुलिसकर्मी हो गए घायल, अब तैनात पैरामिलिट्री फोर्स

दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर इलाके में भी खूब हंगामा

वहीं, एनएच-24 पर भी किसान रास्ते में बैरिकेड तोड़ अक्षरधाम मंदिर की तरफ बढ़ रहे हैं। रास्ते में प्रदर्शनकारियों ने हुड़दंग भी किया। इन लोगों पुलिस की गाड़ियों के शीशे भी तोड़ डाले। राजधानी के करनाल बाईपास पर प्रदर्शनकारी किसानों के साथ ही घुड़सवार निहंग पुलिस बैरिकेड पर टूट पड़े। किसानों व निहंगों ने पुलिस बैरिकेड तोड़फोड़ करते हुए खूब हंगामा किया। वहीं, पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े।

दिल्‍ली, नोएडा और गाजियाबाद में इंटरनेट सेवा बंद

किसानों की ट्रैक्‍टर रैली में हिंसा को देखते हुए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। खबर के मुताबिक, उन सभी बॉर्डर एरियाज में जहां पर प्रदर्शन चल रहा है, रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। कोई URL खोलने पर यह मैसेज आ रहा है क‍ि 'सरकार के निर्देशानुसार, आपके क्षेत्र में इंटरनेट सेवा अगली सूचना आने तक बंद कर दी गई हैं।' मोबाइल इंटरनेट सेवा चल रही है।

नांगलोई में प्रदर्शनकारी किसानों को रोकने के लिए पुलिसवाले खुद जमीन पर बैठ गए। यहां से किसानों के जत्थे नजफगढ़ की ओर तय रूट पर जाने की बजाय रोहतक रोड पर पीरागढ़ी की ओर बढ़ रहे हैं। बहादुरगढ़ से पीरागढ़ी मेट्रो सेवा तत्काल प्रभाव से बंद कर दी गई। पीरागढ़ी सहित इस रूट पर लगने वाले सभी स्टेशनों को बंद कर दिया गया है। प्रदर्शनकारी राजधानी के मकरबा चौक पर पुलिस के वाहन पर चढ़ गए। इसके बाद उन लोगों ने पुलिस के बैरिकेड हटा दिए।

बंद होगा लालकिला: पुलिस फोर्स दिखाएगी अपनी ताकत, किसानों का प्रदर्शन जारी

दिल्ली मेट्रो ने कई स्टेशनों के किए बंद गेट

दिल्ली मेट्रो ने किसानों की ट्रैक्टर परेड और पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प के बाद अपने कई स्टेशनों के गेट बंद कर दिए हैं। दिल्ली मेट्रो ने ट्वीट कर बताया कि समयपुर बादली, रोहिणी सेक्टर 18/19, हैदरपुर बादली मोड़, जहांगीर पुरी, आदर्शनगर, आजादपुर, मॉडल टाउन, जीटीबी नगर, विश्वविद्यालय, विधानसभा और सिविल लाइन्स, इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन पर एंट्री और एग्जिट बंद कर दिए हैं।

वहीं, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर पांडव नगर के निकट भी प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हो गई। किसानों की ट्रैक्टर परेड का समय गणतंत्र दिवस परेड के बाद का तय किया गया है।

चिल्ला बॉर्डर पर स्टंट करने के दौरान एक ट्रैक्टर पलटा

नोएडा के चिल्ला बॉर्डर पर स्टंट करने के दौरान एक ट्रैक्टर पलट गया। इसमें दो लोग घायल हो गए। बाद में लोगों ने मिलकर इसे सीधा खड़ा किया। ट्रैक्टर पलटने के बाद वहां कुछ देर के लिए अफरातफरी मच गई। इससे पहले ट्रैक्टर परेड निकाल रहे किसानों की सुबह दिल्ली पुलिस के साथ झड़प हो गई। प्रदर्शनकारी किसानों ने पुलिस की तरफ से लगाए गए बैरिकेडों को तोड़ दिया। इसके बाद किसान राजधानी में प्रवेश कर गए।

इससे पहले किसानों की ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए राजधानी के करनाल बाईपास पर रातोंरात अस्थायी दीवार खड़ी कर दी गई। इससे पहले किसानों की ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने सोमवार को अलग से एक ट्रैफिक एडवाइजरी (Traffic Advisory On Republic Day) जारी करते हुए लोगों को आगाह किया है कि वे ट्रैक्टर परेड के रूट के आस-पास से ना गुजरें, वरना दिक्कत हो सकती है।

जनता ने योगेन्द्र यादव को ललकारा, बोला कहां है संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य

गाजियाबाद: टकराव के आसार देख रास्ता किया बंद

किसान ट्रैक्टर परेड यूपी गेट से अक्षरधाम तक ले जाने पर अड़े रहे। गतिरोध बना रहने के कारण सोमवार शाम दिल्ली पुलिस ने यूपी गेट बॉर्डर पर दिल्ली की तरफ से आने वाले रास्ते को बंद कर दिया। गाजियाबाद की तरफ आने वाले ट्रैफिक को गाजीपुर की तरफ से डायवर्ट किया गया है।

शाहजहांपुर में ट्रैक्टर परेड को रोकने के लिए पुलिस ने किया ट्रक का इस्तेमाल

शाहजहांपुर: सपाईयों की ट्रैक्टर परेड को रोकने के लिए पुलिस ने ट्रक का इस्तेमाल किया और हाईवे पर ट्रकों को आड़े- तिरछे खड़े कर दिए। जिसके बाद ट्रकों के आगे भारी पुलिस बल खड़ा हुआ । जिले से ट्रैक्टर परेड के दौरान अजब गजब तस्वीरें देखने को मिली, कहीं सीओ और इंस्पेक्टर चलते ट्रेक्टर को हाथों पैरों से रोकती दिखाई दी। थाना कटरा क्षेत्र के नैशनल हाईवे पर पर निकाली जा रही थी ट्रैक्टर परेड।

शामली में किसानों की परेड, पुलिस से जबरदस्त झड़प

शामली: गणतंत्र दिवस पर किसानों ने निकाली ट्रैक्टर परेड 15 गांव के किसानों ने शामली शहर से होते हुए टिटौली गाँव से कलेक्ट्रेट तक निकाली ट्रैक्टर परेड 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर 15 गांव के किसानों ने ट्रैक्टर पर तिरंगा लगाकर निकाली ट्रैक्टर परेड, ट्रैक्टर परेड के दौरान कृषि कानून बिलों का जमकर विरोध हो रहा है पुलिस और किसानों के बीच परेड निकालने को लेकर हुई जबरदस्त झड़प हुई है पुलिस प्रशासन मौके पर मौजूद।

किसान का भयानक रूप: महिला अधिकारी को डंडे से पीटा, दंगों से दहली दिल्ली

फिरोजाबाद में कई गांवों में ट्रैक्टरों के साथ कारों से निकाली गयी रैली

फिरोजाबाद: समाजवादी पार्टी के साथ किसानों ने नसीरपुर क्षेत्र में टैक्टर मार्च निकाला। इस काफिले में बड़ी तादात में गाडियां हैं। आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार के नेतृत्व में किसान एक्सप्रेस वे पर नहीं चढ़ पाए। कई गांवों में ट्रैक्टरों के साथ कारों से निकाली गयी रैली।

मथुरा में एक्सप्रेसवे पर जाम लग गया

मथुरा: मथुरा में एक्सप्रेसवे पर जाम लग गया, किसानों के एक्सप्रेसवे पर चढ़ने के कारण ट्रैफिक रुकने से वहनों की लंबी कतार लग गई। किसान बाजना कट एक्सप्रेसवे पर धरना दे रहे हैं।

अयोध्या में समाजवादी पार्टी ने निकाली ट्रैक्टर तिरंगा यात्रा

अयोध्या: श्रीराम नगरी अयोध्या में समाजवादी पार्टी ने ट्रैक्टर तिरंगा यात्रा निकाली। पार्टी कार्यालय से निकली तिरंगा यात्रा। पुलिस ने रीडगंज चौराहे पर रैली रोक कर ट्रैक्टर को गुलाब बाड़ी मैदान में खड़ा करवाया। ये ट्रैक्टर तिरंगा यात्रा पूर्व राज्यमंत्री पवन पांडे के नेतृत्व में निकली गई। सपा नेता अनूप सिंह ने सोहावल क्षेत्र में निकाली ट्रैक्टर रैली।

ट्रैक्टर रैली हिंसा: राकेश टिकैत का बयान आया सामने, कह दी ये बड़ी बात

दिल्ली में तैनात की गयीं पैरामिलिट्री फोर्स की 15 कंपनियां

ट्रैक्टर रैली के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा बनाये गए रूट और नियमों को किसानों द्वारा तोड़ने और दिल्ली में हुई हिंसा के बाद गृह मंत्रालय अब सकते में आ गया है। राष्ट्रीय राजधानी के वर्तमान हालात को देखते हुए पैरामिलिट्री फ़ोर्स की 15 कंपनियां तैनात होंगी। इसमें से 10 कंपनियां CRPF की और 5 कंपनियां अन्य पैरामिलिट्री फ़ोर्स की होंगी। सरकार ने दिल्ली में पैरामिलिट्री के 1500 जवानों को तैनात करने का फैसला लिया है।वहीं, दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने सभी जवानों को उपद्रवियों का पूरी शक्ति के साथ मुकाबला करने का आदेश दिया है।

Followers

MGID

Koshi Live News