Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा:एक्शन में DM/निर्देश:नाबालिगों के वाहन चलाने पर अब होगी अभिभावकों पर कार्रवाई: जिलाधिकारी - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Friday, January 15, 2021

मधेपुरा:एक्शन में DM/निर्देश:नाबालिगों के वाहन चलाने पर अब होगी अभिभावकों पर कार्रवाई: जिलाधिकारी



जिले में 18 जनवरी से 17 फरवरी तक चलेगा सड़क सुरक्षा माह
गलत तरीके के साथ ड्राइविंग करने पर भी होगी सख्ती

डीएम श्याम बिहारी मीणा की अध्यक्ष्ता में गुरुवार को जिला सुरक्षा समिति की बैठक हुई। इसमें निर्णय लिया गया कि 18 जनवरी से 17 फरवरी तक सड़क सुरक्षा माह का आयोजन किया जाएगा। डीएम ने कहा कि सुरक्षा संबंधित मामलों पर वैज्ञानिक तरीके के कार्य करना है। यह पूरे प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है। हम लोगों को इसके आधार पर प्रशासनिक तंत्र को विकसित करना है। सड़क सुरक्षा माह के आयोजन का उद्देश्य आमजन को यातायात नियमों की आधारभूत जानकारी देना है।
उन्होंने कहा कि आकस्मिक कारक के रूप में सड़क दुर्घटनाओं के विश्लेषण से पता चलता है कि कुल सड़क दुर्घटनाओं में 78.7 प्रतिशत चालकों की होती है। इस गलती के पीछे शराब, मादक पदार्थों का इस्‍तेमाल, वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात करना, वाहनों में जरूरत से अधिक भीड़ होना, वैध गति से अधिक तेज गाड़ी चलाना और थकान आदि होना है। उन्होंने कह कि इस मामले में लोगों को विभिन्न तरीकों से जागरूक करना होगा। डीएम ने कहा कि शमन पदाधिकारियों के द्वारा हेलमेट, सीट बेल्ट, वाहन को गलत साइड में चलाना, ऐसे लोगों का लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई पर अमल करना है। उन्होंने कह कि हम लोगों को गुड समेरिटन का चयन करना और अस्पताल पहुंचाने वाले वाहन का भाड़ा देने हेतु वाहन की सूची उपलब्ध कराना है। डीएम ने कह कि सभी प्रखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में बस स्टैंड का निर्माण काफी जरूरी है। रोड सेफ्टी व ट्रैफिक नियमों से संबंधित संकेतक चिन्ह व स्लोगन लगाया जाना चाहिए। डीएम ने कहा कि सड़क सुरक्षा के लिए जरूरी है कि अभिभावक 18 वर्ष से कम उम्र के लड़के व लड़कियों को वाहन चलाने नहीं दें। ऐसा करते हुए पाए जाने पर अभिभावकों पर सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि पुलिस ऐसे मामले का सख्ती से निपटें। क्योंकि कई जगह वीभत्स घटनाओं के पीछे ऐसे ही कम उम्र के लड़के व लड़कियां होते हैं। वहीं डीएम ने कहा कि एनएच, एसएच व आरसीडी व पीडब्ल्यूडी सड़क पर सड़क सुरक्षा संबंधित स्लोगन व संकेतक चिह्न लगाना है।
जाम पर बरतनी होगी सख्ती
डीएम ने जिला मुख्यालय समेत सभी प्रमुख भीड़ वाले बाजार पर लगने वाली अतिक्रमण व जाम पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि ऐसा देखा जा रहा है कि लोग चार पहिया वाहन को सड़क किनारे लगा देते हैं। जिससे जाम की समस्या पैदा हो जाती है। इस मामले में स्थानीय प्रशासन को सख्ती बरतना होगा। उन्होंने सभी को निर्देश दिया कि जाम की समस्या पर हर हाल में लगाम लगाएं। वहीं डीएम ने शहर में अतिक्रमण पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि लोग अपनी-अपनी दुकानें सड़क तक पर लगा देते हैं। जिससे आए दिन दुर्घटना होते रहती है। अतिक्रमण हटाने के लिए नियमित रूप से अभियान चलना चाहिए।

कॉलेजों में रोड सेफ्टी एंबेस्डर का होगा चयन
बैठक में निर्णय लिया गया कि सड़क सुरक्षा माह के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों के द्वारा आम जनता को यातायात के नियमों की आधारभूत जानकारी दी जाएगी। इसके अतिरिक्त सड़क सुरक्षा अभियान को मनाने का उद्देश्य समुदाय, स्कूल, कॉलेज, कार्यशाला व अन्य माध्यमों से दिया जाएगा। बैठक में निर्णय हुआ कि कॉलेजों में रोड सेफ्टी एंबेस्डर का चयन किया जाना है। ताकि युवाओं में सड़क सुरक्षा के प्रति ज्यादा से ज्यादा जागरूकता आए। इसके अलावा जिले में चलने वाली एंबुलेंसों की भी जांच होगी। वहीं ब्लैक स्पॉट को भी चिह्नित किया जाएगा। इस अवसर पर एसपी योगेंद्र कुमार सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Followers

MGID

Koshi Live News