Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा/उदाकिशुनगंज के पूर्व एसडीपीओ सीपी यादव के कारनामें की जांच करने पटना से पहुंचे CID के एएसपी - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, January 16, 2021

मधेपुरा/उदाकिशुनगंज के पूर्व एसडीपीओ सीपी यादव के कारनामें की जांच करने पटना से पहुंचे CID के एएसपी


मधेपुरा। उदाकिशुनगंज के पूर्व एसडीपीओ सीपी यादव पर लगे आरोप की जांच करने शुक्रवार को सीआइडी पटना के एएसपी राजेश कुमार पहुंचे। उन्होंने आरोप के मामले को लेकर स्थल की जांच की। शिकायतकर्ता और स्थानीय पुलिस अधिकारी से अलग-अलग बातचीत की। शिकायतकर्ता जनता दल सेक्युलर के प्रदेश अध्यक्ष हलधरकांत मिश्रा हैं।

जांच अधिकारी के समक्ष हलधरकांत मिश्रा ने कहा कि उन्होंने जो शिकायत की वह सही है। पूर्व एसडीपीओ सीपी यादव ने अपने पर्यवेक्षण में गलत रिपोर्ट समर्पित की है। मामला गांजा तस्करी से जुड़ा हुआ है। इस मामले में उदाकिशुनगंज थाने में मामला दर्ज है। पुलिस गांजा तस्कर को पकड़ने उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के महेशुआ गांव गई थी। जहां पुलिस को देखकर गांजा फेंक कर तस्कर फरार हो गया। पुलिस ने मौके पर से चार सौ ग्राम गांजा बरामद किया। पुलिस जांच में गांजा तस्कर का नाम सामने आया। इसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गई। प्राथमिकी के बाद तत्कालीन एसडीपीओ सीपी यादव ने पर्यवेक्षण की। पर्यवेक्षण में एसडीपीओ ने गांजा बरामदगी की बात को हटा दिया। इतना ही नहीं गांजा तस्कर में शामिल प्राथमिकी अभियुक्त के नाम को हटा दिया। पर्यवेक्षण में एसडीपीओ ने कहा कि पुलिस ने जान बूझ कर भले आदमी को परेशान करने की नियत से आरोपित किया है। इस मामले में कार्रवाई करने वाले तत्कालीन एएसआइ संतलाल सिंह पर ही आरोप गठित कर दिया गया। मामला काफी हाई-प्रोफाइल बन गया। इस मामले को लेकर उदाकिशुनगंज के गोपालपुर गांव के हलधरकांत मिश्रा ने सीआइडी से जांच की मांग को लेकर सरकार को आवेदन दिया। सरकार ने सीआइडी जांच के आदेश दिए। इससे पहले पिछले वर्ष सीआइडी के एक अधिकारी ने भी मामले की जांच की। इस बार एएसपी रैंक के अधिकारी मामले की जांच करने पहुंचे। शुक्रवार को जांच को पहुंचे एएसपी राजेश कुमार ने बताया कि उन्होंने घटना स्थल का दौरा किया। घटना स्थल के करीब लोगों और उस समय के गवाहों के बयान दर्ज किया। यह पूछें जाने पर कि क्या सत्यता क्या सामने आई। जबाब में सीआइडी अधिकारी ने बताया कि कुछ मामला मिला है लेकिन वे बता नहीं सकते। इतना जरूर है कि सच जो होगा उसे सामने रखेंगे। जांच पूरी तरह पारदर्शी होगा। जल्द ही सच सामने आएगा। बताते चलें कि एसडीपीओ सीपी यादव का स्थानांतरण कटिहार हुआ है। वह इस समय कटिहार समादेष्टा में पदस्थापित है। इस दौरान एसडीपीओ सतीश कुमार, थानाध्यक्ष शशिभूषण सिंह मौजूद थे।

Followers

MGID

Koshi Live News