Koshi Live-कोशी लाइव खगड़िया:पत्नी ने ही रेलकर्मी पति की सुपारी देकर करवाई थी हत्या - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, January 20, 2021

खगड़िया:पत्नी ने ही रेलकर्मी पति की सुपारी देकर करवाई थी हत्या


खगड़िया। भागलपुर के बाथ थाना क्षेत्र स्थित कुमैठा गांव निवासी और कर्नाटक में रेलवे की नौकरी करने वाला सन्नी कुमार मिश्र की निर्मम हत्या उसकी पत्नी ने ही अपने ब्याय फ्रेंड व उसके साथियों को सुपारी देकर करवायी थी। सन्नी को जीजा कहकर उसके रिश्ते में लगने वाला साला ने ही सुल्तानगंज के तिलकपुर उर्फ तिलकनगर से पिस्तौल की नोक पर उठाया था। उसे नशीला दवा पिलाकर परबत्ता थाना क्षेत्र लाया था और उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। 23 दिसंबर को युवक का शव मिलने से परबत्ता थाना क्षेत्र में सनसनी फैल गई। बाद में उसकी पहचान बाथ थाना क्षेत्र के कुमैठा निवासी सन्नी के रूप में की गई।

एसपी अमितेश कुमार द्वारा परबत्ता थानाध्यक्ष प्रियरंजन को इस घटना के पर्दाफाश करने के लिए टास्क दिया गया था।

थानाध्यक्ष गहन व तकनीकी जांच बाद के बाद असल अपराधियों तक पहुंचने में कामयाब रहे। इस घटना में शामिल परबत्ता थाना के नयाटोला- सतखुटी के कुणाल कन्हैया को दबोच लिया। पुलिस पकड़ में आने के बाद कन्हैया टूट गया और उसने स्वीकारोक्ति बयान में कबूल किया कि मृतक रेलकर्मी सन्नी की पत्नी ने ही दो लाख में पति की हत्या की सुपारी दी थी। उसने कबूल किया कि घटना में सात अपराधी शामिल थे।

पुलिस सूत्रों की माने तो 2017 में सन्नी कुमार मिश्र की शादी नवगछिया के गौरीपुर की एक युवती से हुई थी। युवती के पिता का भागलपुर में भी मकान है। उसने कबूल किया कि केशव कुमार सिंह उर्फ सिक्सर, राहुल समेत अन्य साथ शराब पीते थे। केशव का दोस्त छोटू कुमार गौरीपुर का ही रहने वाला है। उसने बताया कि केशव का ननिहाल गौरीपुर ही है और शादी से पहले ही सन्नी की पत्नी से उसे प्रेम प्रसंग चल रहा था। उसने कबूल किया कि छह बीघा जमीन पर कब्जा को लेकर सभी दोस्त बराबर एक साथ होते थे। बताया जाता है कि गिरफ्तार अपराधी ने कबूल किया कि छोटू ने केशव को बताया कि हमारी एक बहन है, उसे पति परेशान करता है। इस पर केशव ने बोला कि वह तो मेरी गर्लफ्रेंड है। कबूल किया कि छोटू ने अपनी चचेरी बहन व सन्नी की पत्नी से केशव को बात कराया तो उसकी बहन बोली कि मेरे पति को मरवा दो। उसकी जगह रेल की मुझे नौकरी भी मिल जाएगी और हम मिलने को स्वतंत्र हो जाएंगे। रेलकर्मी की पत्नी ने इसके एवज में दो लाख रुपये भी देने की बात कही। बहरहाल पुलिस ने उक्त रेलकर्मी की पत्नी समेत घटना में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर दबाव बढ़ा दिया है। थानाध्यक्ष प्रियरंजन ने बताया कि मामले का पर्दाफाश हो गया है। एक को गिरफ्तार किया गया। उसने कबूल किया कि रेलकर्मी की पत्नी ने ही हत्या की सुपारी दी थी। ''जघन्य हत्याकांड के उलझे मामले को सुलझा लिया गया है। जल्द ही घटना में शामिल अन्य अपराधियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

अमितेश कुमार, एसपी, खगड़िया।

Followers

MGID

Koshi Live News