Koshi Live-कोशी लाइव सुपौल/हाथ में लिया कानून:महिला मरीज से छेड़खानी का आरोप लगा आवास पर पहुंच चिकित्सा प्रभारी को पीटा - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Monday, January 25, 2021

सुपौल/हाथ में लिया कानून:महिला मरीज से छेड़खानी का आरोप लगा आवास पर पहुंच चिकित्सा प्रभारी को पीटा


महिला मरीज के साथ कथित छेड़खानी को लेकर दो दर्जन से अधिक लोगों ने रविवार की दाेपहर किशनपुर पीएचसी के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. अखिलेश कुमार के आवास पर पहुंच उनके साथ मारपीट की। घटना में डॉक्टर बुरी तरह से जख्मी हो गए। स्वास्थ्य कर्मियों ने जख्मी डॉ. अखिलेश को सदर अस्पताल लाया। यहां घायल की गंभीर स्थिति को देखते उन्हें पटना रेफर किया गया। घटना की सूचना पर सदर एसडीएम मनीष कुमार और सदर एसडीपीओ कुमार इंद्रप्रकाश सदर अस्पताल पहुंचे।
दूसरी ओर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ हुई मारपीट के विरोध में आक्रोशित अस्पताल कर्मियों ने अस्पताल में ताला जड़ दिया। इस संबंध में ड्यूटी पर मौजूद डॉ. रामदेव शर्मा ने बताया कि प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ हुई मारपीट के विरोध में हमलोग मरीजों का इलाज बंद कर दिए हैं। जब तक ऊपर से निर्देश नहीं मिलेगा। हमलोग इलाज नहीं करेंगे।
पीड़ित महिला ने थाने में दिया आवेदन
पिपरा थाने के महेशपुर गांव निवासी रीता देवी द्वारा चिकित्सा प्रभारी के ऊपर छेड़खानी का आरोप लगाया है, जहां उक्त महिला द्वारा किसनपुर थाने में आवेदन देकर कार्रवाई की गुहार लगाई है। इस बाबत थानाध्यक्ष सुमन कुमार ने कहा कि महिला द्वारा आवेदन दिया गया है। जिसे पूछताछ के लिए महिला पुलिस पदाधिकारी के पास भेजा जा रहा है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। स्वास्थ्य प्रभारी डॉक्टर अखिलेश कुमार द्वारा अब तक कोई आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन मिलने होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

सभी डॉक्टर आज काली पट्टी लगाकर करेंगे काम

सुपौल | इंडियन मेडिकल एसोसिएशन सुपौल के सचिव डॉ. बीके यादव ने रविवार को प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि रविवार को किशनपुर स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ. अखिलेश कुमार के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट हुई, जिसके विरोध में सोमवार को एसोसिएशन के सभी डॉक्टर और सदस्य काला पट्टी लगाकर काम करेंगे। साथ ही उन्होंने प्रशासन से घटना में संलिप्त अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की है।

पीड़ित महिला से चल रही पूछताछ

मामले में अभी तक कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है। डॉक्टर के गंभीर रूप से जख्मी होने के कारण आवेदन नहीं दिया जा सका है। वहीं, महिला द्वारा दिए गए आवेदन के आधार पर महिला से लगातार पूछताछ जारी है। -कुमार इंद्रप्रकाश, सदर एसडीपीओ

बकाया पैसा नहीं मिलने पर आउट सोर्सिंग कंपनी के संचालक ने रचा षडयंत्र
मामले को लेकर डॉक्टरों ने बताया कि किशनपुर पीएचसी में मरीजों को खाना
पहुंचाने के लिए कार्यरत आउट सोर्सिंग कंपनी का कुछ रुपया बकाया था। काम में अनियमितता को लेकर उसका पैसा नहीं दिया जा रहा था। इसको लेकर कंपनी के संचालक लालटू यादव शनिवार को पैसे को लेकर झगड़ा भी किया था। उसने ही पैसे नहीं देने पर पूरा षडयंत्र रच कर मारपीट कराई है। घटना की जानकारी देते हुए पीएचसी में तैनात डॉ मनीष भारती ने बताया कि रविवार को चिकित्सा प्रभारी छुट्‌टी पर थे। सुबह के समय महिला रीता देवी चेकअप के लिए आई थी।
जिसका पहले मैंने चेकअप किया। जिसके बाद वो कहने लगी कि डॉ अखिलेश कुमार से दिखाना है। हमारे बार-बार समझाने के बाद भी कि वो आज ड्यूटी में नहीं है। जिद पर अड़ गई। जिसके बाद डॉक्टर अखिलेश कुमार आ कर चेकअप किए फिर वह चली गई।
जिसके कुछ देर बाद करीब 50 की संख्या में लोग डॉक्टर के घर पर जाकर उनके साथ मारपीट करने लगे। घटना के दौरान आउट सोर्सिंग कंपनी के संचालक लालटू यादव भी मौके पर ही मौजूद थे।

Followers

MGID

Koshi Live News