Koshi Live-कोशी लाइव बिहार मैट्रिक परीक्षा में मिलेंगी रंगीन कॉपियां:पहली पाली में पिंक और दूसरी में मैजेंटा रंग की उत्तरपुस्तिकाएं दी जाएंगी परीक्षार्थियों को - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Friday, January 22, 2021

बिहार मैट्रिक परीक्षा में मिलेंगी रंगीन कॉपियां:पहली पाली में पिंक और दूसरी में मैजेंटा रंग की उत्तरपुस्तिकाएं दी जाएंगी परीक्षार्थियों को

कोशी लाइव डेस्क:

17 फरवरी से शुरू हो रही बिहार बोर्ड की मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा 2021 में परीक्षार्थियों को रंगीन कॉपियां दी जाएंगी। पाली के हिसाब से कॉपियों के रंग अलग-अलग होंगे। पहली पाली के परीक्षार्थियों के लिए OMR शीट और उत्तरपुस्तिका का रंग पिंक रहेगा जबकि दूसरी पाली के लिए मैजेंटा होगा। बिहार बोर्ड ने कहा है कि पिछले साल की तरह ही इस बार भी मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा में सभी विषयों में 50 प्रतिशत ऑब्जेक्टिव एवं 50 प्रतिशत सब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाएंगे।

अतिरिक्त कॉपी या OMR शीट नहीं मिलेगी

प्रत्येक विषय में परीक्षार्थी को एक प्रश्न पत्र दिए जाएंगे जिसमें ऑब्जेक्टिव और सब्जेक्टिव प्रश्नों के दो अलग-अलग खंड होंगे। ऑब्जेक्टिव प्रश्नखंड की परीक्षा OMR शीट पर तथा सब्जेक्टिव प्रश्नखंड की परीक्षा सादी उत्तरपुस्तिका पर ली जाएगी। परीक्षार्थी को कॉपी व OMR शीट एक ही साथ दी जाएगी। किसी भी परीक्षार्थी को अतिरिक्त कॉपियां या OMR शीट नहीं दी जाएगी। बिहार बोर्ड का मानना है कि अलग-अलग पालियों में अलग-अलग रंग की उत्तरपुस्तिका देने से कॉपियां जांचने वालों को सुविधा होगी।

गणित व उच्च गणित के लिए 24 कॉपियां
50 प्रतिशत सब्जेक्टिव प्रश्नपत्र पर आधारित परीक्षा के लिए सादी उत्तरपुस्तिकाएं दी जाएंगी। इनमें गणित एवं उच्च गणित के लिए ग्राफ सहित 24 पृष्ठों की उत्तरपुस्तिकाएं दी जाएंगी जबकि शेष सभी विषयों के लिए 20 पन्नों की कॉपियां होंगी। सब्जेक्टिव कॉपियों के कवर पृष्ठ को तीन भागों में बांटा गया है। बायां, मध्य और दायां भाग। परीक्षार्थियों को केवल बाएं और एवं दाहिने भाग को ही भरना है। परीक्षार्थी कवर पृष्ठ के बाएं भाग में केवल विषय का नाम एवं उत्तर देने का माध्यम लिखेंगे। दाहिने भाग में प्रश्न पत्र के सेट कोड को लिखेंगे और गोलक को भरेंगे।

इन दिशानिर्देशों का पालन करना होगा

मैट्रिक की परीक्षा पर कोविड-19 का भी असर दिखेगा। बिहार बोर्ड द्वारा जारी दिशानिर्देश के अनुसार परीक्षा हॉल में प्रत्येक बेंच पर दो परीक्षार्थी बैंठेंगे। एक से दूसरे बेंच के बीच 2 से 3 फीट की दूरी रखी जाएगी। छात्र के रौल नंबर के अनुसार ही उत्तरपुस्तिकाओं का वितरण किया जाएगा। परीक्षार्थी को परीक्षा शुरू होने के कम से कम 10 मिनट पहले तक ही प्रवेश मिलेगा। प्रथम पाली के परीक्षार्थी को 9.20 बजे तक और दूसरी पाली के छात्र को 1.35 बजे तक प्रवेश मिलेगा। परीक्षार्थी को जूता-मोजा पहनकर नहीं, चप्पल पहनकर आना होगा। परीक्षार्थी की जांच तीन बार अलग-अलग समय पर की जाएगी।

Followers

MGID

Koshi Live News