Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा/नए साल में मेडिकल कॉलेज में शुरू होगी पढ़ाई - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Friday, January 1, 2021

मधेपुरा/नए साल में मेडिकल कॉलेज में शुरू होगी पढ़ाई



मधेपुरा। अपनी उपयोगिता साबित करने में अब तक नाकाम रहा मेडिकल कॉलेज से नए वर्ष में काफी आशा व उम्मीदें है। नए वर्ष में इस जन नायक कर्पूरी मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल में छात्रों की पढ़ाई भी प्रारंभ हो जाएगी। एक फरवरी से इस मेडिकल कॉलेज में छात्रों की पढ़ाई प्रारंभ होगी। इसके बाद हर वर्ष यहां एक सौ नए मेडिकल छात्रों का नामांकन होना प्रारंभ हो जाएगा। मेडिकल के छात्रों की पढ़ाई प्रारंभ होने के बाद मेडिकल कॉलेज के स्वास्थ्य सुविधाओं में काफी विस्तार हो जाने की भी उम्मीद है। प्रथम वर्ष के बाद से मेडिकल कॉलेज में जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर की कमी पूरी हो जाएगी। इसके अलावा नियमित पढ़ाई प्रारंभ हो जाने के बाद चिकित्सकों की संख्या जहां बढ़ने की उम्मीद है। वहीं अभी पदस्थापित चिकित्सक भी अपना पूरा समय देंगे। नए मेडिकल कॉलेज होने के कारण अभी यहां पदस्थापित सीनियर चिकित्सकों की अनुपस्थिति आम बात है। पटना व बाहर से यहां पदस्थापित किए गए चिकित्सक यहां ठहरना नहीं चाहते हैं। प्रथम वर्ष एक सौ नए छात्रों का नामांकन लिया जाना है। यद्यपि अब तक 94 छात्रों का नामांकन ही हुआ है। जनवरी प्रथम हफ्ता में माप-अप राउंड प्रारंभ किया जाएगा। इसमे शेष बचे छह और छात्रों का नामांकन भी ले लिया जाएगा। कोसी-सीमांचल के लोगों की बड़ी उम्मीद है मेडिकल कॉलेज से कोसी सीमांचल क्षेत्र के लोगों के लिए यह मेडिकल कॉलेज बड़ी उम्मीदें लेकर आई है। यद्यपि अब तक यह मेडिकल कॉलेज लोगों की उम्मीदें पर खरा नहीं उतर पाई है। उद्घाटन के साथ से ही लगातार मेडिकल कॉलेज विवादों में घिरी रही है। अधिकारियों, चिकित्सकों व कर्मियों की लापरवाह रवैये की वजह से अब तक मेडिकल कॉलेज अपनी उपयोगिता साबित नहीं कर पाई है। लापरवाह रवैये के कारण अगस्त में तत्कालीन अधीक्षक को विभाग के प्रधान सचिव द्वारा हटाया जा चुका है। इसके बावजूद भी कोई सुधार नहीं हो पाया है। प्राचार्य लगातार व्यवस्थाओं में सुधार लाने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। नए साल में संस्थान को नए रूप में दिखाने की बात भी इन्होंने कही है। आठ मार्च को हुआ था उद्घाटन आठ मार्च को सीएम नीतीश कुमार व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने मेडिकल कॉलेज के चिकित्सीय कार्यों का शुभारंभ किया था। इससे पहले की मेडिकल कॉलेज की व्यवस्था ढर्रे पर आती। उससे पहले ही कोरोना का कहर आ गया। नए मेडिकल कॉलेज के कारण कोरोना से जंग में अपेक्षित तो नहीं लेकिन आंशिक ही सही मदद मिली। यहां मरीजों के इलाज की सुविधा मिल रही है, लेकिन अभी और भी काफी उम्मीदें इस मेडिकल कॉलेज से है। लोगों की आशाएं व उम्मीदें भी यही है कि नए साल यह मेडिकल कॉलेज कोसी सीमांचल के लोगों की स्वास्थ्य सुविधा की सभी जरूरतों को पूरी कर सके। एक फरवरी से मेडिकल छात्रों की पढ़ाई यहां प्रारंभ हो जाएगी। 100 छात्रों का नामांकण यहां लिया जाना है। अब तक 94 छात्रों का नामंकन हो चुका है। जनवरी प्रथम हफ्ता में मोप अप राउंड चलकर शेष बचे छह छात्रों का नामांकन ले लिया जाएगा। मेडिकल छात्रों की पढ़ाई होने के बाद स्वास्थ्य सुविधाओं में और बढ़ोत्तरी होगी। लोगों को और अधिक सुविधाएं मिल पाएगी। नए साल में मेडिकल कॉलेज कोसी सीमांचल की स्वास्थ्य सुविधाओं की पूरी तरह पूर्ति कर पाएगी। -डॉ. गौरीकांत मिश्रा, प्राचार्य, जन नायक कर्पूरी मेडिकल कॉलेज, मधेपुरा

Followers

MGID

Koshi Live News