Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR:रेडलाइट एरिया से बरामद लड़कियों की आपबीती सुन पुलिसकर्मी भी हो गए सन्‍न, किसी को प्रेमी ने ठगा तो किसी को... - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Monday, January 4, 2021

BIHAR:रेडलाइट एरिया से बरामद लड़कियों की आपबीती सुन पुलिसकर्मी भी हो गए सन्‍न, किसी को प्रेमी ने ठगा तो किसी को...



किशनगंज। बहादुरगंज थाना क्षेत्र स्थित प्रेमनगर रेडलाइट एरिया से बरामद लड़कियों का सदर अस्पताल में मेडिकल कराया गया। जांच के बाद पुलिस उनसे पूछताछ करने में जुट गई है। इस दौरान बरामद पीड़िताओं की आपबीती को सुनकर पुलिसकर्मी भी सन्न रह गए।

असम गुवाहाटी निवासी पीड़िता ने बताया कि उसने अपने पड़ोस में रहने वाले युवक के साथ प्रेमविवाह किया था। शादी के कुछ ही दिनों बाद पति ने उसे छोड़ दिया। पीड़िता जब अपने मायके पहुंची तो नाराज मायके वालों ने भी उसे मारपीट कर भगा दिया। कुछ दिनों तक दर दर भटकने के बाद वह एक महिला दलाल के चंगुल में फंस गई। महिला उसे अच्छी नौकरी देने का झांसा देकर बहलाफुसला कर इस्लामपुर रेडलाइट एरिया लाकर बेच दिया। जहां उससे जबरन देहव्यापार का धंधा कराया जाने लगा। फिर वहां से विगत दिनों उसे प्रेमनगर रेडलाइट एरिया भेज दिया गया।




बंगाल के मालदा निवासी पीड़िता ने बताया कि जल्द अमीर बनने के लिए उसने यह रास्ता अख्तियार किया था। लेकिन कमाई का अधिकांश हिस्सा चकलाघर संचालिका हड़प लेती थी। विरोध करने पर मारपीट की जाती थी और कई दिनों तक भूखा रखा जाता था। घर वापस लौटने के सारे रास्तों के बंद हो जाने के कारण वह मजबूर होकर देहव्यापार करने लगी थी। हालांकि असम निवासी एक अन्य पीड़िता को छोड़कर सभी ने अपनी मर्जी से देहव्यापार में शामिल होने की बात कही।


प्रेम नगर रेडलाइट से बरामद की गई 13 लड़कियां



बहादुरगंज थाना क्षेत्र स्थित प्रेमनगर रेडलाइट एरिया में छापेमारी कर अवैध देहव्यापार के धंधे का भंडाफोड़ किया है। गुरुवार शाम को एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी के नेतृत्व में गठित टीम ने रेडलाइट एरिया में छापेमारी कर तीन पीड़िता सहित कुल 13 लड़कियों को बरामद किया। जबकि दो ग्राहक को गिरफ्तार करने में पुलिस सफल रही। महिला थाना में गिरफ्तार आरोपितों के विरूद्ध आइपीसी की विभिन्न धाराओं के साथ साथ ट्रैफिकिंग एक्ट और पोक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।



जानकारी के अनुसार एसपी कुमार आशीष को प्रेमनगर रेडलाइट एरिया के फिर से गुलजार हो जाने की जानकारी मिली। रेडलाइट एरिया में इशहाक, जरीना, आजाद, पिंकी, खुशबू, चांद, कुर्बान, खालिद आदि के द्वारा बाहर से लड़कियों को लाकर जबरन देहव्यापार कराने की सूचना पर एसडीपीओ के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। जिसमें बहादुरगंज, कोचाधामन, पौआखाली और महिला थानाध्यक्ष के साथ-साथ महिला हेल्पलाइन सहित सशस्त्र बल के जवानों को शामिल किया गया। पुलिस टीम ने प्रेमनगर को चारों तरफ से घेर लिया और एकसाथ धावा बोल दिया। जिससे पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई। छापेमारी के दौरान पुलिस ने 10 लड़कियों को ग्राहकों के साथ आपत्तिजनक स्थिति में दबोच लिया। मौके से फरार हो रहे उत्तर प्रदेश के सुधियानी, कुशीनगर निवासी रामसुधारे पिता दीपक गौर और आरा जिला के भकुरा निवासी राजकुमार गुप्ता पिता ललन साह को पुलिस ने दबोच लिया। जबकि कई अन्य ग्राहक पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाने में सफल रहा। तलाशी के दौरान पुलिस ने आपत्तिजनक सामग्री के साथ साथ चार बाइक सहित एक पिकअप वाहन को मौके से जब्त किया।



इस दौरान पुलिस ने जरीना खातून और खुशबू बेगम के घर से असम निवासी दो नाबालिग लड़कियों और इशहाक के घर से मालदा बंगाल निवासी नाबालिग लड़की को बरामद किया गया। पूछताछ के दौरान बरामद पीड़िताओं ने चकलाघर संचालकों के द्वारा जबरन लड़कियों से देहव्यापार कराने और ग्राहकों से मोटी रकम वसूलने की जानकारी दी। पीड़िताओं ने बताया कि इंकार करने पर उन्हें बुरी तरह से प्रताड़ित किया जाता था और कई दिनों तक भूखा रखकर मारपीट की जाती थी। जिसके बाद महिला थाना में केस दर्ज कर पुलिस अन्य फरार आरोपितों की तलाश में पुलिस जुट गई है। एसपी कुमार आशीष ने बताया कि देहव्यापार के अवैध धंधे के खिलाफ पुलिस का अभियान निरंतर जारी रहेगा।



जिले में संचालित देहव्यापार के विरूद्ध पुलिस का अभियान जारी रहेगा। मुख्यालय डीएसपी अजय कुमार झा के नेतृत्व में मानव व्यापार निरोधक इकाई का गठन किया गया है। गठित इकाई रेड लाइट एरिया में युवतियों को मुक्त कराएगी और उन्हें जीविका के साधन मुहैया कराया जाएगा। स्वेच्छा से देहव्यापार को त्याग करने वाली युवतियों और महिलाओं के लिए जिला प्रशासन का सहयोग से पुनर्वास की व्यवस्था की जाएगी। - कुमार आशीष, एसपी।

Followers

MGID

Koshi Live News