Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR:पावर मिला तो अपनी अयोग्य बेटी को ही बनाया शिक्षक, अब पंचायत सचिव पर कार्रवाई - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, January 13, 2021

BIHAR:पावर मिला तो अपनी अयोग्य बेटी को ही बनाया शिक्षक, अब पंचायत सचिव पर कार्रवाई


मुजफ्फरपुर। मीनापुर प्रखंड क्षेत्र की धर्मपुर पंचायत के पंचायत सचिव प्रभात नारायण सिंह को अपने ही बेटी को अवैध तरीके से नियुक्ति करना महंगा पड़ गया। लोक शिकायत निवारण में सुनवाई के बाद वरीय अधिकारी ने इसमें पंचायत सचिव को दोषी बताया है। जिला पंचायती राज पदाधिकारी ने बीडीओ को इस मामले को जांच कर तीन दिनों के अंदर पंचायत सचिव पर कार्रवाई का आदेश दिया है। बताते चलें कि पंचायत सचिव ने अपनी बेटी स्वाति कुमारी को नियमों को ताक पर रखकर पंचायत शिक्षिका पद पर बहाल कर मोठहा माल प्राथमिक विद्यालय में योगदान करा दिया। जबकि स्वाति शिक्षक पात्रता परीक्षा पास नहीं थी। लोक चेतना दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने सूचना के अधिकार और लोक शिकायत निवारण में शिकायत कर जांच कर कार्रवाई की मांग की थी।

पर्यवेक्षण रिपोर्ट नहीं देने पर न्यायालय ने जारी किया नोटिस

दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम 2016 की धारा नहीं जोडऩे व मनियारी थाना कांड संख्या 46/19 का पर्यवेक्षण प्रतिवेदन पुलिस निरीक्षक द्वारा विशेष दिव्यांग कोर्ट मुजफ्फरपुर में नहीं भेजने के संबंध में राज्य निशक्तता आयुक्त के न्यायालय ने नोटिस जारी किया है। नोटिस एसएसपी, पुलिस निरीक्षक सदर ए अंचल व मनियारी थानाध्यक्ष को जारी किया गया है। माधोपुर सुस्ता निवासी दिव्यांग रवींद्र कुमार के वाद संख्या 04/2021 पर न्यायालय ने यह नोटिस जारी किया। पीडि़त ने बताया कि पुलिस की इस लापरवाही से अग्रेतर कार्रवाई बाधित हो रही है जिससे उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। न्यायालय ने इस मामले मे उक्त पुलिस अधिकारियों को चार फरवरी 2021 को पटना स्थित दिव्यांग अधिकार अधिनियम कोर्ट में स्वयं या अपने प्रतिनिधि के माध्यम से उपस्थिति दर्ज कराने को कहा है। साथ ही बचाव पक्ष यदि कुछ जरूरी दस्तावेज/अभिलेख प्रस्तुत करना चाहे, वह प्रतिवादी को उपलब्ध कराए।

Followers

MGID

Koshi Live News