Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR NEWS:94 हजार शिक्षक बहाली मामले में सरकार की हरी झंडी, दो दिनों में होगा फैसला, फर्जी डिग्री वालों की नहीं होगी इंट्री - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, January 27, 2021

BIHAR NEWS:94 हजार शिक्षक बहाली मामले में सरकार की हरी झंडी, दो दिनों में होगा फैसला, फर्जी डिग्री वालों की नहीं होगी इंट्री

कोशी लाइव डेस्क:

निश्चिंत रहें शिक्षक अभ्यर्थी, बहाली नहीं होगी रद्द:

  • सरकार कहीं बहाली प्रक्रिया रद्द न कर दे, इसी डर से आंदोलन की राह पकड़ी थी अभ्यर्थियों ने
  • प्रदर्शन के दौरान लाठियां भी खाईं, 10 दिनों से गर्दनीबाग में जमे हुए हैं धरना पर

94 हजार शिक्षक अभ्यर्थी बहाली मामले में सरकार की ओर से अच्छी खबर है। प्राथमिक शिक्षा निदेशक रंजीत कुमार ने भास्कर से बातचीत में बताया है कि धरना दे रहे अभ्यर्थी ठंड में न रहें, निश्चिंत होकर अपने घर जाएं। सरकार एक-दो दिनों में नियोजन मामले में बड़ा फैसला लेगी। उन्होंने यह साफ कर दिया कि बहाली रद्द नहीं की जाएगी और नियोजन प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ाया जाएगा।

रंजीत कुमार ने कहा कि इस बार नियोजन प्रक्रिया में इसलिए देर हो रही है कि बड़ी संख्या में फर्जी सर्टिफिकेट जमा हुए हैं। सरकार चाहती है कि सौ फीसदी सही नियुक्ति हो। पहले की नियुक्ति से सीख लेने के बाद सरकार एलर्ट है। उन्होंने कहा कि इस बार नियोजित शिक्षक अभ्यर्थियों के सर्टिफिकेट की जांच बहुत बारीकी से की जा रही है।

ओपन कैंप लगाकार होगी काउंसिलिंग
अभ्यर्थियों की मांग है कि ओपन कैंप लगाकार काउंसिलिंग पूरी की जाए, इसलिए इसके लिए ओपन कैंप आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में उन्होंने क्वालिटी एजुकेशन पर जोर दिया है। टीचर को टीचिंग पर ही फोकस करने पर मुख्यमंत्री ने जोर दिया है।

पंचायत चुनाव में नियोजन की प्रक्रिया नहीं फंसेगी
पटना के गर्दनीबाग में 18 जनवरी से नियोजित शिक्षक अभ्यर्थी धरना दे रहे हैं। उन पर 19 जनवरी को लाठीचार्ज भी किया गया था। अभ्यर्थियों को डर था कि सरकार इस वैकेंसी को रद्द कर देगी, लेकिन प्राथमिक शिक्षा के निदेशक के आश्वासन के बाद यह साफ हो गया कि नियोजन प्रक्रिया तेज होगी। यह भी स्पष्ट है मुख्यमंत्री के साथ शिक्षा विभाग के अफसरों की बैठक में इससे जुड़ा फैसला लिया गया है। रंजीत कुमार ने बातचीत में यह भी आश्वासन दिया कि पंचायत चुनाव में नियोजन की प्रक्रिया नहीं फंसेगी।

नियोजन पत्र हाथ में आने तक जारी रहेगा आंदोलन

इधर, अपनी मांगों को लेकर 10 दिनों से गर्दनीबाग में धरना पर बैठे शिक्षक अभ्यर्थी इतने पर ही मानते नहीं दिख रहे हैं। उनका कहना है कि आश्वासन से काम नहीं चलेगा, जब तक हमारे हाथ में नियोजन पत्र नहीं आ जाता तब तक हम आंदोलन जारी रखेंगे।

शिक्षक अभ्यर्थियों के आंदोलन पर भास्कर की कवरेज

Followers

MGID

Koshi Live News