Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR:बंगाल से आई 7 लड़कियां ऑरकेस्ट्रा में कर रही थीं ऐसा काम, बिहार पुलिस ने किया खुलासा - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, January 10, 2021

BIHAR:बंगाल से आई 7 लड़कियां ऑरकेस्ट्रा में कर रही थीं ऐसा काम, बिहार पुलिस ने किया खुलासा


पटना. बिहार पुलिस (Bihar Police) ने नाबालिग लड़कियों (Minor Girls) की मानव तस्करी कर ऑरकेस्ट्रा में ढ़केलने का एक सनसनीखेज खुलासा किया है. पुलिस ने बेतिया जिले के मझौलिया थाना क्षेत्र से 7 लड़कियों को मुक्त कराया है. सभी लड़कियां पं बंगाल से लाईं गईं हैं. जिले के महोदीपुर पंचायत के बासड़ा गांव स्थित द ग्रेट हलचल परदेशिया म्यूजिकल ऑरकेस्ट्रा ग्रुप में सभी लड़कियां काम करती हैं. इनके साथ चार युवकों और संचालक और उसकी पत्नी को भी गिरफ्तार किया गया है.बिहार पुलिस ने सभी पर अपहरण, अनैतिक देह व्यापार, पास्को एक्ट और जेजे एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. बरामद सभी लड़कियों को जीएमसीएच बेतिया में मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है.

ऑरकेस्ट्रा में हो रहा था गंदा काम

बता दें कि यह कार्रवाई तब हुआ है जब राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग भारत सरकार ने बेतिया एसपी को नाबालिग लड़कियों को रेस्क्यू करने के लिए पत्र लिखा था. जिले की महिला थानाध्यक्ष पूनम कुमारी कहती हैं, 'छापेमारी मझौलिया थाना के इंस्पेक्टर राणा राम, विजय कुमार और सहायक अवर निरीक्षक सी के तिवारी के नेतृत्व में किया गया. बरामद लड़कियां 9 साल से 28 साल की है.'

संचालक साह आलम ने बताया कि पकड़े गए सभी युवक बंगाली लड़कियों के पति हैं.(फाइल फोटो )

बंगाल के सोनापुर से आई हैं सभी लड़कियां

वहीं संचालक साह आलम ने बताया कि पकड़े गए सभी युवक बंगाली लड़कियों के पति हैं. सभी लड़कियां बीते 28 दिसंबर को बंगाल के सोनारपुर से आई हैं, जिन्हें ऑरकेस्ट्रा का मुख्य संचालक लालबाबू पासवान ने मंगाया था. पुलिस गिरफ्त में धरा युवक साह आलम ने बताया कि लड़कियों के साथ पकड़ी ज्योति मिश्रा उसकी पत्नी है और उसने ज्योति के साथ प्रेम विवाह रचाया है.

ये भी पढ़ें: AAP का आरोप- CM केजरीवाल ने किसान आंदोलन का समर्थन किया तो हमारे कार्यकर्ताओं की फोड़ी जारी रही आंख

बिहार पुलिस का यह कहना है

वहीं इंस्पेक्टर राणा रण विजय कुमार ने बताया कि इन लड़कियों के बेड से ऑरकेस्ट्रा का सट्टा रसीद,बैग और कपड़े और मोबाइल बरामद किए गए हैं, जिसकी जब्ती सूची बनाई गई है. मोबाइल के कॉल डिटेल के आधार पर इसमें संलिप्त और लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

Followers

MGID

Koshi Live News