Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR/देर से पहुंचे थानेदार, बना लिया बंधक:सुपौल में आपसी विवाद में 4 घायल, 3 घर जले, एक किमी दूर थाने से 2 घंटे बाद पहुंची पुलिस, नाराज लोगों ने किया हाइवे जाम - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Sunday, January 3, 2021

BIHAR/देर से पहुंचे थानेदार, बना लिया बंधक:सुपौल में आपसी विवाद में 4 घायल, 3 घर जले, एक किमी दूर थाने से 2 घंटे बाद पहुंची पुलिस, नाराज लोगों ने किया हाइवे जाम


सुपौल के छातापुर में दो पक्षों में मारपीट और अगलगी की घटना के बाद 2 घंटे देर से पहुंची पुलिस के खिलाफ लोग आक्रोशित हो गए और सड़क जाम कर दिया। इसके बाद लोगों को समझाने पहुंचे छातापुर थानेदार को भी एक घंटे तक बंधक बनाए रखा। मामला बढ़ते देख वरीय पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझा-बुझाकर शांत करवाया। तब जाकर लोगों ने थानेदार को मुक्त किया। ग्रामीणों के अनुसार घटनास्थल से थाने की दूरी महज 1 किलोमीटर है, लेकिन 2 घंटे तक पुलिस नहीं पहुंच सकी। अग्निशमन दस्ता भी 2 घंटे देर से पहुंची, जिस कारण 3 घर जलकर पूरी तरह खाक हो गए। गृहस्वामी अगलगी में लाखों रुपए के नुकसान की आशंका जता रहे हैं।

आग पर काबू करने की कोशिश में जुटी अग्निशमन की टीम। - Dainik Bhaskar
आग पर काबू करने की कोशिश में जुटी अग्निशमन की टीम।

अगलगी में 3 घर जलकर राख
छातापुर थाना क्षेत्र के रजवाड़ा पावर ग्रिड के पास शनिवार की सुबह लगभग 8 बजे जमीन विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट हो गई। इसमें 4 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। इसी दौरान एक पक्ष की ओर से कुछ लोगों ने दूसरे पक्ष के 3 घरों में आग लगा दिया। तभी, ग्रामीणों ने पुलिस और अग्निशमन विभाग घटना की जानकारी दी। 2 घंटे बाद पहुंची 3 अलग-अलग दमकल गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया गया।

लोगों ने सड़क जाम कर पुलिस के खिलाफ की नारेबाजी

इधर, घटना से आक्रोशित लोगों ने जदिया-बलुआ पथ SH-91 को जाम कर पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद जब जाम खत्म करवाने छातापुर थानेदार वहां पहुंचे तो गुस्साए लोगों उन्हें करीब एक घंटे तक बंधक बना लिया और वरीय पदाधिकारी बुलाने की मांग करने लगे। सूचना मिलते ही त्रिवेणीगंज SDPO वहां पहुंचे और लोगों को समझा-बुझाकर शांत करवाया। SDPO गणपति ठाकुर ने कहा कि पीड़ित पक्ष द्वारा थानाध्यक्ष पर लगाए गए आरोप की जांच होगी। जांच में दोषी पाए जाने पर थानाध्यक्ष के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

त्रिवेणीगंज SDPO ने कहा कि पीड़ित पक्ष द्वारा थानाध्यक्ष पर लगाए गए आरोप की जांच होगी। - Dainik Bhaskar
त्रिवेणीगंज SDPO ने कहा कि पीड़ित पक्ष द्वारा थानाध्यक्ष पर लगाए गए आरोप की जांच होगी।

6 माह से थाने के जनता दरबार में अटका है मामला
पहले पक्ष के मो. रहमान ने बताया कि मारपीट औऱ आगजनी के दौरान ही छातापुर पुलिस को स्थानीय लोगों द्वारा कई बार सूचना दी गई, लेकिन तीन घरों के जलने के बाद पुलिस और दमकल की गाड़ी पहुंची। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि दूसरे पक्ष से मोटी रकम लेकर एक सप्ताह पूर्व छातापुर थाना के एक पुलिसकर्मी ने उनके मुख्य रास्ता को टाट लगाकर बंद कर दिया था। जिस कारण उनलोगों का घर से बाहर निकलना तक मुश्किल कर दिया है। शनिवार की सुबह उनका एक बच्चा टाट खोलकर मुख्य सड़क पर जा रहा था, उसी बीच दूसरे पक्ष के दर्जन भर लोगों ने हरवे-हथियार के साथ दरवाजे पर पहुंचकर मारपीट की। मारपीट में मो. सुलेमान (50), मो. उस्मान (55), मो. क्यामुल (30) और मो. अब्बुतल्हा (19) गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

दूसरे पक्ष के कहा कि खुद के ही घर में लगाई आग

दूसरे पक्ष के मो. निजाम का कहना है कि हम दोनों के बीच विवाद तो हुई थी। लेकिन प्रथम पक्ष ने खुद ही अपने तीनों घरों में आग लगाकर हमलोगों को फंसाने की साजिश की रची है। पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच करे तो सच सामने आ जाएगा। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि छह महीनों से छातापुर थाना के जनता दरबार में यह मामला चल रहा था, मामले का निपटारा पूर्व में हुआ होता तो आज यह घटना नहीं होती।


Followers

MGID

Koshi Live News