Koshi Live-कोशी लाइव SUPAUL NEWS:भीषण अगलगी में दस दुकान जलकर राख, लाखों रुपये की संपत्ति जली - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Friday, December 4, 2020

SUPAUL NEWS:भीषण अगलगी में दस दुकान जलकर राख, लाखों रुपये की संपत्ति जली


सुपौल। नगर स्थित स्टेशन चौक पर गुरुवार की रात करीब 10.30 बजे भीषण अगलगी हुई जिसमें कुल 10 लोग क्रमश: संतोष यादव, लालू देवी, लक्ष्मी मुखिया, जीवछ मुखिया, अरुण कुमार राय, विकास साह, प्रभु साह, नरसिंह साह, प्रकाश साह, निर्मल कुमार रजक की दुकानें जलकर राख हो गई। आग लगने का स्पष्ट कारण पता नहीं चल पाया है। अगलगी की घटना में लाखों रुपये की संपत्ति का नुकसान हुआ है। जिसमें सर्वाधिक नुकसान अरुण दही भंडार को पहुंचा है।

दही भंडार संचालक के अनुसार चार फ्रीज, चार गैस सिलेंडर, दो बोरा चीनी, मैदा सहित मिठाई व अन्य सामग्री जलकर राख हो गई है। स्थानीय लोगों ने इकठी होकर आग पर काबू पाना चाहा, लेकिन दुकान में गैस सिलेंडर रहने की वजह से सिलेंडर ब्लास्ट हो गया जिस कारण आग पर काबू पाने में स्थानीय लोग असफल रहे। इस दौरान कुल पांच लोग क्रमश: कौशल कुमार, संतोष कुमार, अमीर राजा, ङ्क्षसहेश्वर दास, संतोष साह गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

सभी जख्मियों को इलाज के लिए निर्मली पीएचसी में भर्ती कराया गया जहां चार लोगों की हालत गंभीर देखते हुए डीएमसीएच रेफर कर दिया गया। वहीं डीएमसीएच से संतोष कुमार की स्थिति गम्भीर देखते हुए पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है। आनन-फानन में अगलगी की सूचना निर्मली थानाध्यक्ष द्वारा अग्निशमन विभाग को दी गई। सूचना मिलने के बाद अग्निशमन की दो दमकल की गाडिय़ां पहुचंकर काफी मशक्कत के बाद स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाया।

इधर अगलगी की घटना को देखने आए लोगों को जब पुलिस के द्वारा भगाने की कोशिश की गई तो भीड़ ने पुलिस पर ही हमला बोल दिया। जिसमें थाने की एक गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई है। गाड़ी के अगले हिस्से सहित पीछे के हिस्से में भीड़ के द्वारा तोडफ़ोड़ की गई है। पुलिस पर हमला करने मामले को लेकर निर्मली थानाध्यक्ष विनोद कुमार ङ्क्षसह ने बताया कि अज्ञात लोगों के विरूद्ध थाना में कांड दर्ज किया जा रहा है। इतना ही नहीं इधर जख्मियों को प्राथमिक उपचार करने के बाद रेफर उपरांत एंबुलेंस सेवा नहीं दिए जाने के कारण अस्पताल परिसर में भी लोगों द्वारा हो-हंगामा किया गया। पूछने पर पीएचसी प्रभारी डॉ मनोज कुमार दिवाकर ने बताया कि एंबुलेंस अस्पताल से रेफर मरीज को छोडऩे गया था जिस कारण अस्पताल में एंबुलेंस नहीं था। इसी बात को लेकर लोगों ने हो-हंगामा शुरू कर दिया। हालांकि समझाने के बाद मामला शांत हो गया।

Followers

MGID

Koshi Live News