Koshi Live-कोशी लाइव SAHARSA:नल-जल योजना की जांच में पकड़ाया भारी गड़बड़ी, कार्रवाई होना तय। - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Monday, December 21, 2020

SAHARSA:नल-जल योजना की जांच में पकड़ाया भारी गड़बड़ी, कार्रवाई होना तय।

कोशी लाइव डेस्क/SAHARSA:नल-जल योजना की जांच में पकड़ाया भारी गड़बड़ी, कार्रवाई होना तय।

सहरसा। अपर अनुमंडल पदाधिकारी अश्विनी कुमार ने मोहनपुर व घोघसम पंचायत के कई वार्ड में हर घर नल का जल योजना की जांच की। पीएचईडी द्वारा बनाए गए जल मीनार एवं पानी आपूर्ति की जानकारी स्थानीय लोगों ली।

निरीक्षण के दौरान टावर के समीप बोर्ड नहीं लगा देखकर उन्होंने विभागीय अभियंता से बात भी की। निरीक्षण के क्रम में ग्रामीणों ने बताया कि संवेदक द्वारा मर्जी से सड़क के किनारे ही नल लगा दिया गया जिसमें पानी भी नहीं आ रहा है। जहां पानी आ भी रहा है वह शुद्ध नहीं है। कई लोगों ने कनेक्शन नहीं करने की शिकायत की। निरीक्षण के दौरान जगह-जगह लगाए गए नल टूटे दिखे। जबकि पानी आपूर्ति के लिए बिछायी गई पाइप का गड्ढ़ा तीन फीट की जगह दो व डेढ़ फीट पर बिछा था।

----- संवेदक ने विभाग को दी है झूठी रिपोर्ट

----

इस पंचायत में राही कंस्ट्रक्शन एवं अधिराज इंफ्रा द्वारा जल नल योजना का कार्य कराया गया था। निरीक्षण में सभी वार्डों में पानी आपूर्ति करने के दावे झूठे निकले। ग्रामीणों ने एएसडीएम को बताया कि कुछ देर पहले पानी की आपूर्ति की गई। जबकि संवेदक द्वारा दो माह पूर्व ही सभी वार्डों में पानी सप्लाई का रिपोर्ट विभाग को भेजा जा चुका है।

---- नौ बिदुओं पर हुई जांच

---- एएसडीएम ने बताया कि कुल नौ बिदुओं की जांच की गई। इसमें तीन फीट गहराई पर पाइ8प बिछा हुआ नहीं पाया गया। अनुमोदित ड्राइंग एवं डिजाइन के अनुसार कार्य नहीं पाया गया। वाटर स्टोरेज टैंक आईएसआई मार्का के संबंध में जानकारी ली गई। जबकि बोरवेल के जल की गुणवत्ता की जांच हुई है या नहीं इसकी जानकारी ली गई। मशीन में क्लोरीनेटर लगाया गया है या नहीं, ट्रीटमेंट यूनिट की टेक्नोलॉजी सीएसआईआर से अनुमोदित या भारत सरकार से अनुलेखित है या नहीं, ट्रीटमेंट यूनिट में बेसल का आकार व मात्रा अनुमोदित नक्शा एवं डिजाइन के अनुसार है या नहीं इसकी भी जांच की गई।

----- सवेदक के विरुद्ध कार्रवाई होगी

---- एसडीएम अश्वनी कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत हर घर नल जल योजना में जांच के आधार पर अनियमितता करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। जिन संवेदक ने मानक के अनुसार कार्य नहीं किया है उन के संवेदक को राशि के भुगतान नहीं की जाएगी। वही जिनको राशि मिली है उनसे राशि वसूला जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रखंड के सभी पंचायतों में हर घर नल जल योजना की जांच की जाएगी और अनियमितता बरतने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

Followers

MGID

Koshi Live News