Koshi Live-कोशी लाइव MADHEPURA:किसानों के जख्मों पर नमक डाल रही सरकार : सुभाषिनी - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Monday, December 7, 2020

MADHEPURA:किसानों के जख्मों पर नमक डाल रही सरकार : सुभाषिनी


मधेपुरा। पूर्व बिहारीगंज विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी सह पूर्व सांसद शरद यादव की पुत्री सुभाषिनी शरद यादव ने नए कृषि कानून को निरस्त करने की मांग की है। रविवार को उन्होंने बताया कि वह दिल्ली में किसानों के विरोध प्रदर्शन की जगह का दौरा किया।

किसान अपनी मांगों के लिए कृषि सुधारों के नाम पर सरकार द्वारा बनाए गए कानूनों को निरस्त करने के लिए एकत्र हुए हैं। वे अपने इरादों के प्रति बहुत मजबूत हैं। मांगों को पूरा करवाए बिना पीछे नहीं हटेंगे। वे विभिन्न समूहों में बैठे हुए हैं। सुभाषिनी शरद यादव ने बताया कि उनकी मांगें वास्तविक और देश के हित में है। सरकार अनावश्यक रूप से मुद्दों को लंबा कर रही है। किसानों को अनुचित दर्द दिया जा रहा है। सर्द मौसम में बैठने के लिए मजबूर किया गया है। वे भी एक किसान के परिवार से हैं। उन्हें पता है कि खेती करना लाभदायक भी नहीं है। किसान को प्रकृति पर निर्भर रहना होता है, लेकिन फिर भी हम को अन्न देने के लिए किसान दिन दिन-रात किसान मेहनत करता है। किसानों के प्रति सरकार का रवैया उनके साथ सहकारी और सहायक नहीं है। इन कानूनों को लाने और उन्हें जल्दबाजी में पारित करने की कोई आवश्यकता नहीं थी। यह किसानों के जख्मों पर नमक डालने जैसा है। हमारे देश के किसी भी राज्य में किसानों की स्थिति अन्य देशों की तुलना में उत्साहजनक नहीं है। अमरिका और यूरोप सहित अन्य देशों के कुछ किसान भी हमारी किसानों की मांगों के समर्थन में आए हैं। सरकार को कॉरपोरेट घरानों के बजाय किसानों का समर्थन करना चाहिए। सरकार किसानों की बची हुई खुशियों को खत्म करना चाहती है। सरकार को ऐसा कानून लाना चाहिए जिसमें यह स्पष्ट रूप से उल्लेखित हो कि किसानों को उनकी फसल का एमएसपी हर राज्य में मिलेगा। वे सरकार से अपील करती हैं कि किसानों के कल्याण में नए कृषि कानूनों को निरस्त करने का तत्काल निर्णय लें। ताकि किसानों का आंदोलन खत्म हो सके और वे अपने घर जा सकें।

Followers

MGID

Koshi Live News