Koshi Live-कोशी लाइव MADHEPURA/मधेपुरा : बदमाशों के निशाने पर कोसी के माननीय, हाल के दिनों में 10 से अधिक जनप्रतिनिधियों पर हो चुका है हमला - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Thursday, December 10, 2020

MADHEPURA/मधेपुरा : बदमाशों के निशाने पर कोसी के माननीय, हाल के दिनों में 10 से अधिक जनप्रतिनिधियों पर हो चुका है हमला


मधेपुरा। कोसी के माननीय बदमाशों के निशाने पर हैं। लगातार हत्याएं व जानलेवा हमला हो रहा है। दो दिन पहले बिहारीगंज में जिला परिषद सदस्य पति सह पूर्व मुखिया अनिल जयसवाल को बदमाशों ने गोली मारकर जख्मी कर दिया। उनका इलाज पूर्णिया में चल रहा है। घटना के विरोध में मंजौरा बाजार बंद कर लोगों ने पुलिस के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया।

बुधवार को पुलिस अधिकारी ने बदमाशों की जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन देकर आंदोलन को खत्म कराया। इससे पहले 23 नवंबर को शंकरपुर थाना क्षेत्र के जिरवा मधैली पंचायत स्थित मौरकाही चेंगहा के समीप बदमाशों ने उत्क्रमित उच्च माध्यमिक विद्यालय गाढ़ा रामपुर के प्रभारी प्रधानाध्यापक रामकुमार यादव की गोली मारकर हत्या कर दी। वे पंचायत समिति सदस्य के पति भी थे। घटना को अंजाम राजनीतिक विवाद को लेकर देने की बात कही जा रही है।

इस घटना के बाद भी पुलिस के रवैये से खिन्न स्वजनों ने एसपी को आवेदन दिया था। बात यही नहीं थमती। इससे पहले गम्हरिया प्रखंड अध्यक्ष अशोक यादव की हत्या कर दिया गया था। वहीं ङ्क्षसहेश्वर के प्रखंड अध्यक्ष हरेंद्र मंडल के बड़े भाई अनिल मंडल को बदमाशों ने गोली मार दी थी। बढ़ते आपराधिक घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। इस प्रकार की घटनाओं को लेकर जनप्रतिनिधियों ने सुरक्षा की मांग की है।

लगातार हो रहे हमले से क्षेत्र में दहशत

क्षेत्र में लगातार हो रहे वारदात से जनप्रतिनिधियों सहित आम लोगों में दहशत का माहौल है। उदाकिशुनगंज, चौसा, पुरैनी, बिहारीगंज सहित अन्य प्रखंडों में भी जनप्रतिनिधियों की हत्या की जा चुकी है। चौसा जदयू अध्यक्ष पर भी एक साल पहले जानलेवा हमला किया गया था। बदमाशों ने उनके ऊपर तीन गोली चलाई गई थी। इसमें वे बाल-बाल बच गए थे। वहीं राजद नेता निवास चंद्र उर्फ मुन्ना यादव पर भी लौआलगान में बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

पुलिस की सुस्ती से बढ़ रहा बदमाशों का मनोबल

आपराधिक घटनाओं को रोक पाने में विफल पुलिस की सुस्ती से बदमाशों का मनोबल लगातार बढ़ता जा रहा है। बदमाश का मनोबल इतना बढ़ गया है कि वे गोली मारकर आराम से निकल रहा है। मामले का उछ्वेदन नहीं होने से घटनाओं पर लगाम नहीं लग पा रहा है। हत्या, लूट, चोरी सहित अन्य अपराधिक घटनाओं के बढऩे पर पुलिस सवालों के घेरे में हैं।

जनप्रतिनिधियों पर हुए हमले पर एक नजर

दो दिन पहले पूर्व मुखिया अनिल जयसवाल को दो गोली मारी गई थी। उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं इससे पहले 23 नवंबर को शंकरपुर पंसस पति रामकुमार यादव की बदमाशों ने हत्या कर दी थी। वहीं 15 सितंबर ङ्क्षसहेश्वर जदयू प्रखंड अध्यक्ष हरेंद्र मंडल के भाई अनिल मंडल को गोली मारी गई थी। इससे पहले 11 अगस्त को गम्हरिया के जदयू प्रखंड अध्यक्ष अशोक यादव उर्फ गरजू की हत्या बदमाशों ने की थी। वहीं 14 दिसंबर 2019 को बिहारीगंज के सरौनीकला पंचायत के मुखिया बेबी कुमारी के पति राजीव कुमार, 28 अक्टूबर 2019 को उदाकिशुनगंज थानाक्षेत्र के खाड़ा पंचायत के सुखासनी गांव निवासी महिला पंच संजो देवी व माह पहले राजद नेता निवास चंद्र उर्फ मुन्ना यादव की लौआलगान पंचमुखी चौक पर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। चौसा प्रखंड के जदयू अध्यक्ष मनोज प्रसाद को अरजपुर में बदमाशों ने गोली मारी थी। लेकिन वे बाल-बाल बच गए थे। इसके अलावा पुरैनी के नरदह पंचायत के मुखिया पति अनिल यादव हत्या हो चुकी है।

Followers

MGID

Koshi Live News