Koshi Live-कोशी लाइव बिहार: सहरसा में परिवहन मंत्री शीला मंडल के विवादित बयान के विरोध में प्रदर्शन, सरकार से प्रदर्शनकारियों ने की ये मांग - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Saturday, December 5, 2020

बिहार: सहरसा में परिवहन मंत्री शीला मंडल के विवादित बयान के विरोध में प्रदर्शन, सरकार से प्रदर्शनकारियों ने की ये मांग


सहरसा: बिहार के सहरसा में शनिवार को वीर कुंवर सिंह चौक पर बाबू वीर कुंवर सिंह जागरण मंच के सदस्यों द्वारा बिहार सरकार की परिवहन मंत्री शीला मंडल के खिलाफ प्रदर्शन किया गया. सीतामढ़ी के एक कार्यक्रम दौरान बाबू वीर कुंवर सिंह के संबंध में अपमान जनक टिप्पणी किए जाने के विरोध प्रदर्शनकारियों ने मंत्री का पुतला दहन कर आक्रोश व्यक्त किया और राज्य सरकार से उन्हें बर्खास्त करने की मांग की.


मंच के सचिव विजय बसंत ने कहा कि इतिहास के पन्नों में बाबू वीर कुंवर सिंह के शौर्य की गाथा स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज है. भारत का बच्चा-बच्चा उनको अपनी प्रेरणा मानता है.

ऐसे में एक संवैधानिक पद पर विराजमान व्यक्ति द्वारा स्वतंत्रता सेनानीयों का अपमान करना घोर निंदनीय है.


मंच के सदस्यों ने कहा की बिहार सरकार अविलंब शीला मंडल को मंत्रीमंडल से बर्खास्त कर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करे और आगे कभी ऐसी ओछी राजनीति ना हो ये सुनिश्चित करें. हमलोगों के लिए भारत के सभी शहीद और स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान सर्वोपरि है क्यूंकि देश के लिए मर मिटने वालों की कोई जात धर्म नहीं होती है. आक्रोशित लोगों ने कहा कि अगर अविलंब कार्रवाई नहीं होती है, तो बिहार ही नहीं देशभर में बड़ा आंदोलन होगा.


दरसअल, बिहार सरकार की परिवहन मंत्री शीला मंडल बीते दिनों बिहार के सीतामढ़ी के बाजपट्टी प्रखंड में शहीद रामफल मंडल के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में पहुंची थीं, जहां उन्होंने बाबू वीर कुवर सिंह को लेकर विवादित बयान दिया था. शीला मंडल ने कहा कि बाबू वीर कुंवर का एक हाथ कटा तो उनका देश दुनिया में नाम हो गया, बच्चे-बच्चे उनके बारे में जानते और पढ़ते हैं. लेकिन रामफल मंडल जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपनी जान दे दी, उन्हें कोई नहीं जानता.


गौरतलब है कि सीतामढ़ी के बाजपट्टी के रहने वाले रामफल मंडल देश के उन स्वतंत्रता सेनानियों में शामिल हैं, जिन्होंने देश के आजादी के लिए अपनी कुर्बानी दी थी.


Followers

MGID

Koshi Live News