Koshi Live-कोशी लाइव जरूरी खबरें:क्या है हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और आपके लिए ये क्यों है जरूरी, स्टेप बाय स्टेप जानें अप्लाई करने का तरीका - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

ADS

Translate

Tuesday, December 15, 2020

जरूरी खबरें:क्या है हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और आपके लिए ये क्यों है जरूरी, स्टेप बाय स्टेप जानें अप्लाई करने का तरीका


वाहनों के लिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाना जरूरी हो गया है. गाड़ी के मालिकों को अब इस नंबर प्लेट के साथ ही यात्रा करनी होगी नहीं तो उन्हें 5500 रुपये का चालान भरना होगा. सरकार के निर्देशानुसार एक दिसंबर से वाहनों पर हाई सिक्योरिटी रजिस्‍ट्रेशन प्‍लेट (High Security Registration Plate) जरूरी कर दी गई है. दिल्ली में रजिस्टर हर गाड़ी पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और कलर कोड स्टिकर जरूरी है. ऐसे में आज से दिल्ली परिवहन निगम ने एक अभियान चलाया है जहां हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और कलर कोड स्टिकर को लेकर लोगों को जागरुक किया जाएगा. फिलहाल ये नियम सिर्फ दिल्ली के लिए ही लागू है.

बता दें कि इससे पहले परिवहन विभाग ने पुराने वाहनों पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट जरूरी होने के आदेश को वापस ले लिया था.

वहीं ये भी कहा गया था कि अगर किसी भी गाड़ी पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट नहीं होता है उसे फिटनेस सर्टिफिकेट भी नहीं दिया जाएगा. साथ में परिवहन आयुक्त ने ये भी कहा था कि बिना हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट की गाड़ियों के काम को RTO में भी रोक दिया जाएगा.

अगर आपकी गाड़ी पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और रंगीन स्टीकर दोनों नहीं है तो आपको चालान के रूप में 11,000 रुपये देने होंगे. परिवहन विभाग ने कहा है कि फिलहाल इसे 11 में से 9 जिलों में शुरू किया जाएगा जहां धीरे धीरे हम टीम लगा रहे हैं. इन टीमों की नजर हर गाड़ी पर होगी. परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, फिलहाल, चालान के बजाय हमारा ध्यान लोगों को जागरूक करने पर होगा.

क्या होता है हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट?

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (HSRP) एक क्रोमियम बेस्ड होलोग्राम है. इस पर वाहन के इंजन और चेसिस नंबर होते हैं. ऐसे यह नंबर पेंट और स्टीकर से प्रेशर मशीन के जरिये लिखा जाता है, जिससे छेड़खानी नहीं हो सकती है. नंबर प्लेट पर एक तरह का पिन होगा जो आपके वाहन से जोड़ेगा. ऐसे गाड़ी चोरी होने की स्थिति में यह पिन एक बार आपके वाहन से प्लेट को पकड़ लेगा तो यह दोनों ही तरफ से लॉक होगा, किसी से खुलेगा नहीं.

2020 हुंडई i20 ने मचाया धमाल, सिर्फ 40 दिनों के भीतर ही ग्राहकों ने कर दी 30,000 कारें बुक

HSRP के लिए कैसे करें ऑनलाइन अप्लाई?

1. आवेदन करने के लिए आपको bookmyhsrp.com वेबसाइट पर जाना होगा.

2. इसके बाद वाहनों की पूरी सीरीज खुलेगी, इसमें टू-व्हीलर, थ्री व्हीलर, फोर व्हीलर, भारी वाहन के विकल्प मिलेंगे, इनमें से किसी एक को चुनिए.

3. फिर आपकी गाड़ी किस कंपनी की है उसका चयन करना होगा, इसकी पूरी लिस्ट होगी, जैसे Maruti, hyundai या Tata के विकल्प होंगे. यहां आपको प्राइवेट और कमर्शियल के दो ऑप्शन दिखाई देंगे.

4. प्राइवेट व्हीकल टैब पर ने पर पेट्रोल, डीजल, इलेक्ट्रिक, CNG और CNG+पेट्रोल के विकल्प मिलेंगे, इनमें से किसी एक चुनिए.

5. इसके बाद आपसे गाड़ी की पूरी जानकारी मांगी जाएगी. ऐसे में गाड़ी के पेपर्स अपने साथ रखने आपके इस प्रोसेस को और आसान बना सकता है.

6. जानकारी अपलोड करते ही एक नया विंडो खुलेगा. इसमें गाड़ी की RC और आईडी प्रूफ अपलोड करना होगा.
7. सारी जानकारी और कागजात अपलोड करने के बाद मोबाइल फोन पर OTP जेनरेट हो जाएगा.

8. सबसे आखिरी में पेमेंट का विकल्प आएगा. पेमेंट करते ही ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

क्यों जरूरी है कलर कोड स्टीकर?

बता दें कि हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट तीन कलर में आता है. नीला रंग मतलब पेट्रोल या सीएनजी. अगर नीले रंग के साथ हरे रंग की पट्टी है तो बीएस 6 है. हरे रंग की पट्टी नहीं है तो बीएस 4 या बीएस 3 है. नारंगी का मतलब डीजल कार है. अगर नारंगी रंग के साथ हरे रंग की पट्टी है तो बीएस 6 है. हरे रंग की पट्टी नहीं है तो बीएस 4 या बीएस 3 है. और अंत में स्लेटी या ग्रे रंग मतलब इलेक्ट्रिक कार.

HSRP और कलर कोड स्टीकर्स की क्या होगी कीमत?

केंद्र सरकार ने हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट और कलर कोडेट स्टीकर्स की कीमत तय नहीं की है, जिसका अर्थ है कि उनकी लागत राज्यों अलग-अलग होगी. हालांकि, दो पहिया वाहनों के लिए एक HSRP की लागत लगभग 400 रूपये और चार-पहिया (वाहन श्रेणी के आधार पर) के लिए 1,100 रुपये तक हो सकती है. और कलर कोडेड स्टीकर के लिए ग्राहकों को 100 रुपये चुकाने होंगे.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी लोग इसमें रुचि नहीं दिखा रहे हैं. ऐसे में परिवहन विभाग ने अब सख्ती दिखाने का एलान किया है. इस अभियान की शुरुआत मंगलवार से हो रही है. अगर एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर लगवाने के लिए आवेदन किया जा चुका है तो उनका चालान नहीं होगा. उन्हें आवेदन वाली स्लिप दिखानी होगी. दूसरे राज्यों के पंजीकृत वाहनों को भी इस अभियान में शामिल नहीं किया गया है.

जानकारी के लिए बता दें कि फिलहाल दिल्ली से सटे यूपी और हरियाणा की गाड़ियों के लिए ये नियम नहीं है. ये सिर्फ दिल्ली की गाड़ियों के लिए करना जरूरी है. ऐसे में अगर आपकी गाड़ी यूपी, हरियाणा से दिल्ली में एंट्री करती है तो आपको कोई चालान देने की जरूरत नहीं है. लेकिन अगर आप हाई सिक्योरिटी नंबर पाना चाहते हैं तो आप भी ऊपर दिए गए वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं.

दिल्ली में गाड़ी चलाने वालों के लिए बड़ी खबर, आज से ये पेपर नहीं दिखाया तो कटेगा मोटा चालान

The post क्या है हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और आपके लिए ये क्यों है जरूरी, स्टेप बाय स्टेप जानें अप्लाई करने का तरीका

Followers

MGID

Koshi Live News