Koshi Live-कोशी लाइव मधेपुरा:बीएड नामांकन में हुई गड़बड़ी के खिलाफ अभाविप कार्यकर्ताओं ने काटा बवाल - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Monday, December 28, 2020

मधेपुरा:बीएड नामांकन में हुई गड़बड़ी के खिलाफ अभाविप कार्यकर्ताओं ने काटा बवाल


मधेपुरा। बीएन मंडल विवि परिसर में रविवार को बंदी के दिन बीएड नामांकन में हुई गड़बड़ी के खिलाफ अभाविप कार्यकर्ता ने जम कर बवाल काटा। इस दौरान हुई पत्थरबाजी में एक छात्र आमोद कुमार के जख्मी होने की सूचना है। विवि के नोडल पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार सिंह के साथ छात्रों ने धक्का-मुक्की की। मौके पर पहुंची पुलिस से नोडल पदाधिकारी ने जान की सुरक्षा की गुहार लगाई। इससे पहले बीएड नामांकन के लिए जारी स्पॉट राउंड नामांकन में गड़बड़ी को लेकर अभाविप कार्यकर्ताओं ने बीएनएमयू में जमकर हंगामा किया। इस दौरान दोनों तरफ से पत्थरबाजी शुरू होने पर स्थिति बिगड़ गई और कुछ देर के लिए विवि परिसर रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। नोडल कार्यालय में हर तरफ फैले ईट के टुकड़े हालात को बयां कर रहे थे। यद्यपि बाद में सूचना पर पहुंची सदर थाना पुलिस और कमांडो टीम ने मामला को शांत करते हुए स्थिति को नियंत्रित किया। पुलिस प्रशासन के नियंत्रण में देर शाम तक विवि प्रशासन और अभाविप कार्यकर्ताओं के बीच वार्ता का दौर चला। मौके ओर अभाविप कार्यकर्ताओं आरोप लगाया कि स्पॉट राउंड नामांकन में विवि के बीएड विभाग और कॉलेज में गुपचुप तरीके से अधिकारियों द्वारा अपने चहेते छात्रों का एडमिशन लिया गया। इसको लेकर वे लोग रविवार को विवि के अधिकारी मिलने के लिए पहुंचे। लेकिन वहां बीएड विभाग के इंचार्ज मौजूद नहीं थे। इसके बाद वे लोग नोडल पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार सिंह से मिलने के लिए उनके कार्यालय पहुंचे। वे कार्यालय में बैठकर अपने कर्मियों के साथ बीएड नामांकन संबंधित कुछ काम कर रहे थे। इस दौरान नारेबाजी और पत्थरबाजी भी हुई। अभाविप के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुजीत सान्याल, प्रदेश सहमंत्री अभिषेक यादव, विश्वविद्यालय प्रमुख व सीनेट सदस्य रंजन यादव ने कहा कि रात के अंधेरे में गुपचुप तरीके से छात्रों का नामांकन लिया गया। इनलोगों का आरोप है कि विवि के बीएड विभाग में 25 और कॉलेज में 20 सीटों पर धांधली कर नामांकन लिया गया। जिला संयोजक शशि यादव, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अमोद कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय ने गुपचुप तरीके से सीटों को बेचकर नामांकन प्रक्रिया को अपनाया है। कार्यकर्ताओं ने मांग किया कि शिक्षाशास्त्र विभाग के प्रोफेसर इंचार्ज और कॉलेज के प्राचार्य पर अविलंब कार्रवाई की जाए। छात्रों ने कुलपति डॉ. आरकेपी रमण से मिलकर अविलंब दोषी अधिकारियों और प्राचार्य पर कार्रवाई की मांग की। समाचार प्रेषण तक कुलपति के साथ अभाविप कार्यकर्ताओं की बातचीत चल रही थी।

Followers

MGID

Koshi Live News