Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR:नवविवाहित जोड़ों को तोहफे में कंडोम व गर्भनिरोधक गोलियां भेज रही सरकार, दो बच्चों के परिवार का दे रही संदेश - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, December 30, 2020

BIHAR:नवविवाहित जोड़ों को तोहफे में कंडोम व गर्भनिरोधक गोलियां भेज रही सरकार, दो बच्चों के परिवार का दे रही संदेश

कोशी लाइव डेस्क:
अनिल कुमार झा, मधुबनी: जनसंख्या नियंत्रण को लेकर अब स्वास्थ्य विभाग नयी पहल शुरू कर दिया है. स्वास्थ्य विभाग अब नवदंपती को शादी एक कीट दे रही है. इसमें उन्हें शादी के बधाई पत्र के साथ ही पंजीकरण फार्म, कंघी, बिंदी, नेलकटर, रूमाल व के साथ ही कंडोम व गर्भनिरोधक गोलियां भी दे रही है.

ये जिम्मेदारी आशा को दी गयी है. नवदंपती को कीट देने के साथ ही आशा उन्हें मात्र दो संतान ही रखने की सलाह भी देते हैं. विभाग ने इसे नई पहल किट नाम दिया है.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत चलायी जा रही योजना

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत कई योजनाएं इससे पूर्व से भी चलाई जा रही है. "नई लहर, नया विश्वास-संपूर्ण जिम्मेदारी से परिवार विकास" की तर्ज पर भारत सरकार ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यक्रम के तहत अब जनसंख्या नियंत्रण के लिए नवविवाहिताओं को जोड़ने को लेकर नई पहल किट योजना शुरू की है. नवविवाहित जोड़ों को शादी में नाते-रिश्तेदारों से मिलने वाले पारंपरिक उपहार के अलावा स्वास्थ्य विभाग एक नया तोहफा दे रहा है. इसे नई पहल किट नाम दिया गया है. इसे नवविवाहित जोड़े को आशा कार्यकर्ता की ओर से भेंट किया जाता है. इसके माध्यम से दूल्हे व दुल्हन को परिवार नियोजन के बारे में जागरूक किया जा रहा है. इस किट को बांटने की शुरुआत जिले में हो चुका है. इस किट में स्त्री, पुरुष के लिए प्रसाधन की सामग्री के साथ ही परिवार नियोजन की सामग्री भी रखी गयी है. जिले में इस योजना पर भारत सरकार द्वारा प्रति किट 220 रुपये की सामग्री व 100 रुपये प्रति किट संबंधित आशा को प्रोत्साहन राशि दिया जाता है.

आशा घर-घर जाकर दे रही हैं शगुन:

आशा कार्यकर्ता अपने पोषक क्षेत्र में विवाहित जोड़ों को यह शगुन दे रही है. परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के लिए आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर नवविवाहित जोड़े को किट दे रही है. इसके साथ ही आशा द्वारा नवविवाहितों को किट में उपलब्ध परिवार नियोजन के साधनों के विषय में भी जानकारी प्रदान किया जा रहा है.

घर में किरायेदार रखने पर अब टैक्स देना जरूरी, जानें किन बातों को नजरंदाज करना पड़ेगा महंगा

नयी पहल किट में मिलेगा ये समान:

नई पहल किट में परिवार कल्याण व स्वास्थ्य मंत्री की ओर से बधाई पत्र, एक जूट के बैग के साथ विवाह पंजीकरण फार्म, पंपलेट या लीफ्लेट, स्वच्छता बैग अंतर्गत तौलिया, कंघी, बिंदी, नेलकटर, दो रूमाल व एक छोटा शीशा के साथ ही कंडोम का 2 पैकेट, गर्भ निरोधक गोलियां माला -एन 2 पैकेट, आपात कालीन गर्भ निरोधक गोलियां 3, साप्ताहिक गर्भ निरोधक गोलियां 1 पैकेट एवं 2 प्रेग्नेंसी जांच किट तथा आशा कार्यकर्ता व एएनएम का मोबाइल नंबर दिया जा रहा है.

दो बच्चों तक ही परिवार को सीमित रखने के लिए करना है प्रोत्साहितः

सिविल सर्जन डॉ. सुनील कुमार झा ने कहा कि इस किट में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से एक पत्र भी है, जिसमें परिवार नियोजन के फायदों के बारे में लिखा गया है. इस पत्र का उद्देश्य नवविवाहित जोड़ों को जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए सचेत करने के साथ- 2 बच्चों तक ही परिवार को सीमित रखने के लिए प्रोत्साहित करना है.

आशाओं को दी गई है जानकारी:

जिला समुदाय उत्प्रेरक नवीन दास ने बताया कि नई पहल किट के संबंध में आशा कार्यकर्ताओं को विस्तार से जानकारी दी गयी है. इसमें स्वास्थ्य विभाग के साथ केयर इंडिया भी सहयोग कर रहा है. आशा को किट में मौजूद साधनों के इस्तेमाल के विषय में भी विस्तार से जानकारी दी गई है. साथ ही यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि आशा नवविवाहित जोड़ों को परिवार नियोजन साधनों के विषय में सटीक जानकारी उपलब्ध करा पाएं.

गर्भनिरोधक के फ़ायदे :

- मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी.

- प्रजनन संबंधित स्वास्थ्य जटिलताओं से बचाव.

- अनचाहे गर्भ से मुक्ति.

- एचआईवी-एड्स संक्रमण से बचाव.

- किशोरावस्था गर्भधारण में कमी.

- जनसंख्या स्थिरीकरण में सहायक.

Followers

MGID

Koshi Live News