Koshi Live-कोशी लाइव बिहार में 4 जनवरी से शुरू हो रहे क्लास, स्कूलों-कॉलेजों को करना होगा इन नियमों का पालन, पढ़िए नीतीश सरकार की गाइडलाइंस - Koshi Live-कोशी लाइव

BREAKING

Translate

Friday, December 25, 2020

बिहार में 4 जनवरी से शुरू हो रहे क्लास, स्कूलों-कॉलेजों को करना होगा इन नियमों का पालन, पढ़िए नीतीश सरकार की गाइडलाइंस

कोशी लाइव डेस्क:


पटना। Bihar School Reopen Guidelines कोरोनावायरस के संक्रमण तथा लॉकडाउन के कारण बिहार में  बीते करीब नौ महीने सं स्कूल-कॉलेज व कोचिंग आदि शिक्षण संस्थान बंद थे। अब नए साल के पहले सप्‍ताह में चार जनवरी से उन्‍हें चरणवार खोला जा रहा है। इसके लिए राज्‍य के शिक्षा विभाग ने गाइडलाइन (Bihar Government Guideline For School  Reopening) जारी दी है। शिक्षण संस्‍थानों में मास्‍क पहनना, शारीरिक दूरी का पालन करना तथा सैनिटाइजेशन को अनिवार्य कर दिया गया है।

चार जनवरी से खुलेंगे नौवीं से 12वीं तक के स्कूल

शिक्षा विभाग के  अनुसार चार जनवरी से नौवीं से 12वीं तक के स्कूल खोले जा रहे हैं। कॉलेज केवल अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए ही खोले जा रहे हैं। इसके एक सप्ताह के बाद आपदा प्रबंधन विभाग स्थिति की समीक्षा करेगा। स्कूल-कॉलेज खोले जाने के बाद कोरोना का संक्रमण नहीं बढ़ा तो 18 जनवरी से पहली से आठवीं तक की कक्षाओं को भी खोल दिया जाएगा। इसके बाद भी हर सप्‍ताह स्थिति की समीक्षा लगातार की जाती रहेगी।

मास्‍क पहनना अनिवार्य, एक दिन में आएंगे आधे छात्र

शिक्षा विभाग के फैसले के  अनुसार स्‍कूलों में मास्क पहनना तथा सैनिटाइजर का प्रयोग अनिवार्य किया गया है। छात्र-छात्राओं के बीच छह फीट की शारीरिक दूरी का पालन करना है। एक दिन में आधे छात्र-छात्राओं को ही बुलाया जाएगा। किसी छात्र की उपस्थिति सोमवार की कक्षा में होती है तो उसकी अगली उपस्थिति बुधवार को ही होगी। इसी तरह मंगलवार को जिन छात्रों को बलाया जाएगा, उनकी अगली कक्षा गुरुवार के पहले नहीं होगी। इस बीच ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन जारी रहेगा।

शिक्षा विभाग का दिशा निर्देश एक नजर में

  • स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को सैनेटाइज करना जरूरी

  • छात्रों के लिए हैंड सैनेटाइज की व्यवस्था उपलब्ध कराना.

  • डिजिटल थर्मामीटर, सैनेटाइजर, साबुन की व्यवस्था.

  • स्कूल बसों को चलाने से पहले सैनेटाइज करना जरूरी.

  • स्कूल, कॉलेज और कोचिंग को सैनेटाइज करने के लिए टीम का गठन करना होगा.

  • छात्रों के बीच कम से कम छह फीट की दूरी.

  • स्कूलों में एक सीट के बेंच-डेस्क को लगाना होगा.

  • स्टाफ रूम, ऑफिस, विजिटर रूम में सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करना होगा.

  • एजुकेशनल इंस्टीच्यूशन, स्कूल, कोचिंग, कॉलेज के सभी गेट को आने-जाने के दौरान खोलना होगा.

  • अभिभावक और स्टूडेंट्स के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम का इस्तेमाल करना.

  • सभी कोचिंग संस्थान फेज वाइज खोले जाएंगे.

  • कोचिंग संस्थानों को कोरोना रोकथाम की जानकारी जिला पदाधिकारी को देनी होगी.

  • एजुकेशनल संस्थानों में कोरोना गाइडलाइंस की जानकारी देनी होगी.

  • ज्यादा एडमिशन वाले शैक्षणिक संस्थान में दो पाली में पढ़ाई संभव.

  • सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन वाले आयोजनों से बचने का निर्देश.

  • अभिभावकों और शिक्षकों के बीच वर्चुअल मीटिंग पर जोर.

  • नए एडमिशन में बच्चों को अभिभावक के साथ आना जरूरी नहीं.

  • छात्रों के स्कूलों में आने से पहले माता-पिता या अभिभावक की मंजूरी.

  • कोई छात्र घर में पढ़ना चाहता है तो उसे इजाजत दी जाए.

  • एजुकेशनल संस्थानों में स्वास्थ्य सुविधाओं की पर्याप्त व्यवस्था.

  • छात्रों और शिक्षकों की नियमित स्वास्थ्य जांच.

  • छुट्टी की पॉलिसी को लचीला बनाने के निर्देश.

  • सभी कक्षाओं की परीक्षा को लेकर खास योजना बनाना.

  • हॉस्टल में हर बेड के बीच पार्टिशन.

  • ऑनलाइन स्टडी की असुविधा वाले छात्रों को हॉस्टल में रहने को प्राथमिकता.

  • हॉस्टल में हॉयर क्लास के छात्रों को रहने को प्राथमिकता.

  • हॉस्टल में आने से पहले छात्रों की स्वास्थ्य जांच.

  • हॉस्टल में जरूरी कर्मचारियों के अलावा दूसरों की एंट्री बैन.

  • मेस और किचेन की नियमित मॉनिटरिंग जरूरी.

  • हॉस्टल में वाई-फाई और केबल कनेक्शन की व्यवस्था.

Followers

MGID

Shivesh Mishra

Koshi Live News