Koshi Live-कोशी लाइव BIHAR CRIME:प्रेमी के साथ मिलकर पति को मार डाला, मामला उजागर नहीं हो, अपनाया यह तरकीब - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Tuesday, December 22, 2020

BIHAR CRIME:प्रेमी के साथ मिलकर पति को मार डाला, मामला उजागर नहीं हो, अपनाया यह तरकीब


भागलपुर। बिहपुर थाना क्षेत्र के अरसंडी गांव निवासी छतीश यादव का शव पुलिस ने सोमवार की अल सुबह उसके घर से बरामद किया। उसकी पत्नी मोनी देवी ने पुलिस को बताया कि पति ने खुदकुशी कर ली है। प्रारंभिक छानबीन में यह बात सामने आई कि मोनी देवी ने प्रेमी संग मिलकर छतीश यादव की गला दबाकर हत्या कर दी है। छतीश के बेटे और भाई ने भी हत्या की आशंका जताई, जिसके बाद पुलिस ने मोनी देवी को गिरफ्तार कर लिया। छतीश के भाई बलराम यादव के बयान पर मोनी देवी और उसके प्रेमी खगडिय़ा पसराहा के बंदेराह निवासी सुबोध यादव पर हत्या का मुकदमा किया गया है। छतीश दिल्ली में मजदूरी करता था। तीन दिन पहले ही गांव लौटा था।

रोने-चिल्लाने की आवाज सुन पहुंचे थे ग्रामीण

सुबह में मोनी देवी के रोने-चिल्लाने की आवाज सुन ग्रामीण पहुंचे। महिला ने ग्रामीणों को बताया कि रात में पति के साथ कमरे में थी। बच्चे बाहर सोए हुए थे। अल सुबह बच्चों ने आवाज दी तो बाहर आई। फिर बकरी को चारा देने लगी। आधे घंटे बाद कमरे में गई तो देखा कि गले में कपड़े का फंदा लगाकर पति बांस के सहारे टंगे हैं। बच्चों के सहयोग से तुरंत कपड़े काटकर नीचे उतारा। लेकिन, उनकी मौत हो चुकी थी। मोनी के दोनों बच्चे 10 वर्षीय बोगो व आठ वर्षीय बोडिल ने पुलिस के समक्ष बताया कि रात में दो लोग आए थे। उसी ने मेरे पापा को मारा है।

मामा के निधन बाद मामी से की थी शादी

ग्रामीणों ने बताया कि अरसंडी गांव में छतीश का ननिहाल है। मूल निवासी खगडिय़ा मानसी के कत्यानी मंदिर के पास रोहिया गांव है। 12 वर्ष पूर्व उसके मामा दीपक उर्फ ढोरो यादव का निधन हो गया, जिसके बाद स्वजन व समाज की सहमति पर छतीश ने अपनी मामी मोनी देवी से शादी कर ली और अरसंडी में ही बस गया। शादी के बाद दो पुत्र हुए। मामा से भी एक पुत्र है। मोनी का मायका खरीक के लोकमानपुर बहियार में है। घटना की सूचना पर छतीश की मां व भाई समेत अन्य स्वजन अरसंडी पहुंचे। ग्रामीणों की मानें तो मोनी और सुबोध के बीच अवैध संबंध था। सुबोध अक्सर यहां आता था।

Followers

MGID

Koshi Live News