Koshi Live-कोशी लाइव ब्रेकिंग न्यूज़/राजद का दावा नीतीश कुमार के 17 विधायक उनके संपर्क में, गिर सकती है बिहार की एनडीए सरकार - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

ADS

Translate

Wednesday, December 30, 2020

ब्रेकिंग न्यूज़/राजद का दावा नीतीश कुमार के 17 विधायक उनके संपर्क में, गिर सकती है बिहार की एनडीए सरकार

कोशी लाइव डेस्क:

Bihar Politics: बिहार की राजनीति में आजकल काफी उठापटक चल रही है। खासकर अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) में जदयू (JDU) के सात में से छह विधायकों के भाजपा (BJP) में शामिल होने के बाद प्रदेश का राजनीतिक माहौल काफी गर्म हो गया है। ताजा राजनीतिक घटनाक्रम में लालू यादव (RJD Supremo Lalu Prasad Yadav) और उनके बेटे तेजस्‍वी (Tejaswi) की पार्टी राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) ने बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) की पार्टी जदयू को लेकर बड़ा दावा किया है। राजद ने कहा है कि जदयू के 17 विधायक (JDU MLAs) उनकी पार्टी के संपर्क में हैं। राजद ने इशारा किया है कि ये विधायक उनकी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। अगर इतने विधायक वाकई जदयू से राजद में चले जाते हैं तो बिहार में नीतीश की अगुवाई वाली एनडीए सरकार (NDA government in Bihar) गिर सकती है। इनते विधायक जुड़ने के बाद राजद बिहार में सरकार बनाने की स्थिति में आ जाएगा। हालांकि जदयू ने राजद के इस दावे को पूरी तरह बकवास बताया है।

चुनाव से पहले तक जदयू से जुड़े थे यह दावा करने वाले श्‍याम रजक

राजद की तरफ से ऐसा दावा वरिष्‍ठ नेता और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री श्‍याम रजक ने किया है। वह शुरुआती दिनों में काफी लंबे अरसे तक लालू प्रसाद यादव के साथ राजद में रहे हैं। नीतीश कुमार के सत्‍ता में आने के बाद वह जदयू के साथ हो लिये थे। जदयू की सरकार में वे कई मंत्रालयों की जिम्‍मेदारी संभाल चुके हैं। नवंबर में हुए बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उन्‍होंने मंत्री पद और जदयू की सदस्‍यता छोड़कर अपनी पुरानी पार्टी राजद का दामन फिर से थाम लिया था

दल-बदल कानून को बेअसर करने के लिए और विधायकों का इंतजार

श्याम रजक ने कहा है कि फिलहाल जदयू के 17 एमएलए उनकी पार्टी राजद के संपर्क में हैं। ये सीधे राजद में आने के लिए तैयार हैं। लेकिन इन विधायकों पर दल-बदल कानून का असर नहीं हो, इसके लिए उन्‍हें इंतजार करने को कहा गया है। इस कानून को बेअसर करने के लिए जदयू के एक-तिहाई विधायकों को तोड़ना होगा। हालांकि उनके इस दावे में झोल नजर आ रहा है, क्‍योंकि जदयू को तोड़ने के लिए केवल 15 विधायकों को तोड़ना ही पर्याप्‍त होगा। फिलहाल बिहार विधानसभा में जदयू के केवल 43 विधायक ही हैं।

Followers

MGID

Koshi Live News